Maharashtra : 'कोरोना की तीसरी लहर के लिए तैयार रहें', सीएम उद्धव का अधिकारियों को निर्देश

Maharashtra Corona case : मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा, 'कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए जरूरी दवावों का स्टॉक पहले से तैयार रखें और ग्रामीण इलाकों में स्थानीय डॉक्टरों की मदद ली जाए।'

Be prepare for third wave of corona, CM Udhhav asks officers in Maharashtra
सीएम उद्धव ठाकरे ने अधिकारियों से कोरोना से निपटे की तैयारी रखने के लिए कहा।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • महाराष्ट्र में कोरोना संकट के बीच सीएम उद्धव ठाकरे ने अधिकारियों को तैयार रहने के लिए कहा
  • सीएम ठीकरे ने कहा कि राज्य को कोरोना की तीसरी लहर का सामना करना पड़ सकता है
  • मुख्यमंत्री ने राज्य में नए ऑक्सीजन संयंत्र लगाने और दवाओं का पर्याप्त स्टॉक रखने के लिए कहा है

मुंबई : महाराष्ट्र में आने वाले दिनों में कोरोना के हालात और गंभीर हो सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने जिले के अधिकारियों को कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की तैयारी करने के लिए कहा है। राज्य सरकार ने गुरुवार को लॉकडाउन जैसे प्रतिबंधों को प्रदेश में 15 दिनों के लिए और बढ़ा दिया। मुख्यमंत्री को अंदेशा है कि राज्य में कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है। इसलिए उन्होंने एहतियात बरतते हुए अधिकारियों को बिना देरी किए ऑक्सीजन संयंत्र तैयार करने और जरूरी दवाओं का पर्याप्त स्टॉक तैयार रखने के लिए निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने अन्य राज्यों से आने वाले मजदूरों के रिकॉर्ड पर भी नजर रखने के लिए कहा है। 

कोरोना की स्थिति पर सीएम ने की बड़ी बैठक
राज्य में कोरोना की स्थिति पर मुख्यमंत्री ने गुरुवार को डिविजनल कमिश्नरों एवं जिलाधिकारियों के साथ एक लंबी बैठक की। इस बैठक में उन्होंने कहा कि लॉकडाउन जैसी सख्त पाबंदियों के चलते कोरोना के नए मामलों में थोड़ी स्थिरता आई है लेकिन अधिकारियों को कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की तैयारी करनी चाहिए। उन्होंने कहा, 'जहां कहीं भी जरूरत हो ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित करने की अनुमति दी जानी चाहिए। जिला प्रशासन भविष्य में पर्याप्त ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करे।' 

दवाओं का पर्याप्त स्टॉक रखने को कहा
मुख्यमंत्री ने कहा, 'कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए जरूरी दवावों का स्टॉक पहले से तैयार रखें और ग्रामीण इलाकों में स्थानीय डॉक्टरों की मदद ली जाए।' मनसे नेता राज ठाकरे की मांग को संज्ञान में लेते हुए सीएम उद्धव ने सभी जिलों में प्रवासी मजदूरों का रिकॉर्ड रखने का निर्देश दिया। राज्य सरकार को लगता है कि प्रदेश में कोरोना के केस में गिरावट होने के बाद प्रवासी मजदूर लौटेंगे। 

राज्य में गुरुवार को कोरोना से हुई 771 मौत
महाराष्ट्र में गुरुवार को कोरोना वायरस से संक्रमण के 66,159 नए मामले सामने आए और 771 मरीजों की मौत हो गई। महाराष्ट्र में संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 45,39,553 हो गयी वहीं मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 67,985 हो गयी। महाराष्ट्र में अभी 6,70,301 मरीजों का इलाज चल रहा है। राज्य में कोरोना वायरस महामारी के प्रसार पर रोक लगाने के लिए लॉकडाउन जैसी पाबंदियों को 15 मई तक बढ़ाया गया है।  मुख्य सचिव सीताराम कुंटे की तरफ से जारी आदेश में कहा गया कि पाबंदियां बढ़ाने का निर्णय किया गया है क्योंकि राज्य में कोविड- 19 का खतरा बना हुआ है। लोगों की आवाजाही और अन्य गतिविधियों पर पाबंदियां इस महीने की शुरुआत में लगाई गई थीं, जो एक मई सुबह सात बजे तक के लिए थी।

Mumbai News in Hindi (मुंबई समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर