PFI के पोस्टर में TMC सांसद का नाम, मोहसिन रजा बोले- सिमी का दूसरा रूप है पीएफआई

उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक मंत्री मोहसिन रजा ने पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) को इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) का ही दूसरा रूप बताया है।

UP Minister Mohsin Raza speaks about anti-CAA violence probe accuses PFI and AIMPLB for radicalising Muslim youth
युवाओं को आतंकवाद की तरफ धकेल रहा है PFI- मोहसिन रजा 

मुख्य बातें

  • पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) से जुड़े 25 व्यक्तियों को यूपी पुलिस ने किया है गिरफ्तार
  • इन लोगों पर नागरिकता कानून के खिलाफ हुए प्रदर्शनों में हिंसा फैलाने का आरोप
  • यूपी के मंत्री मोहसिन रजा ने पीएफआई की आतंकी संगठन से की तुलना

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में नागरिकता कानून के खिलाफ पिछले साल दिंसबर में हुए हिंसक प्रदर्शनों के पीछे पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) का हाथ बताया जा रहा है और राज्य में लगभग इससे जुड़े 25 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। हिंसक प्रदर्शनों के पीछे इस संगठन का हाथ होने के जानकारी मिलने के बाद इस पर प्रतिबंध लगाने की भी मांग उठ रही है। यूपी पुलिस लगातार पीएफआई के बारे में जानकारी जुटा रही थी जिसके बाद पीएफआई के खिलाफ प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव गृह मंत्रालय को भेजा गया है।

टीएमसी सांसद का नाम

पीएफआई की रैली से जुड़े एक पोस्टर में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के एक सांसद अबू ताहिर खान का नाम आया है। वहीं टीएमसी सांसद ने पीएफआई से इससे अपना पल्ला झाड़ते हुए पीएफआई के साथ किसी भी तरह के संबंध होने से इनकार कर दिया है। बंगाल के मुर्शिदाबाद से टीएमसी सांसद अबू ताहिर खान ने कहा कि मुझे इस बारे में किसी तरह की जानकारी नहीं हैं, अगर पोस्टर में मेरा नाम लिखा है तो मैं कुछ नहीं कर सकता हूं।

मोहसिन रजा बोले- सिमी के लोगों के खड़ा किया पीएफआई

उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री मोहसिन रजा ने आरोप लगाते हुए कहा है कि पीएफआई के अधिकतर सदस्‍य प्रतिबंधित संगठन सिमी के सदस्‍य रह चुके हैं। टाइम्स नाउ से बात करते हुए मोहसिन रजा ने कहा, 'मुझे लगता है कि सारे पर्याप्त सबूत पीफआई के खिलाफ हैं, यहां पर ये बताना जरूरी होगा कि पीएफआई सिमी का ही दूसरा रूप है। पीएफआई और आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड में सिमी की सोच रखने वाले लोग हैं। चूकि सिमी बैन हो चुका है क्योंकि वह आतंकी संगठन घोषित हो चुका है इसलिए उसके लोगों ने अब उसी का दूसरा रूप पीएफआई खड़ा कर दिया है। आधे लोग इधर (पीएफआई) तो आधे लोग उधर (मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड) चले गए।'

सिमी के लोग पीएफआई और पर्सलन लॉ बोर्ड में

रजा ने इसका उदाहरण देते हुए हुए कहा, 'कासिम रजा जो पहले सिमी के अध्यक्ष थे वो अब मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता हो गए और ऐसे ही अब्दुल रहमान जो वहां महासचिव थे वो वहां जाकर पीएफआई का चैयरमैन बन गया। तो अब इन दो संगठनों पर भी ध्यान देना होगा। मेरा सवाल है कि क्या ओवैसी साहब इन लोगों के बारे में भी कुछ बोलेंगे जो अब उनके साथी हैं क्योंकि वो तो देश के संविधान को बचाने की बात करते हैं। आप सिर्फ हमेशा ये कहते हैं कि वो खराब है, ये खराब, हम संविधान बचाने आए हैं। अरे अगर देश बचाना है तो हमारे साथ आईए ना संविधान भी बच जाएगा और देश भी बच जाएगा।' 

रजा ने ओवैसी पर किया हमला

असदउद्दीन ओवैसी पर निशाना साधते हुए रजा ने कहा, 'आप तो सिमी के लोगों के साथ जा रहे हैं जिनका काम है अलगाववाद को बढ़ावा देना, कट्टरवाद को बढ़ावा देना। सिमी की मानसिकता वाले लोगों को तो ओवैसी जी ने अपने साथ ले लिया जो पीएफआई बनाकर घूम कर रहे हैं। आपके साथ तो सिमी का चैयरमैन ही आ गए हैं। आखिर देश के अंदर ये लोग उपद्रव फैलाने के लिए यूपी और बिहार में क्यों आते हैं।'

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर