गांवों की महिलाओं को आत्म निर्भर बना रहीं यूपी की चीनी मिलें

Uttar Pradesh News: यूपी के गन्‍ना मंत्री सुरेश राणा बताते हैं कि गन्ना विकास परिषद एवं चीनी मिलों ने संयुक्त रूप से ग्रामों का चयन करते हुए महिलाओं का स्वयं सहायता समूह बनाकर इनके प्रशिक्षण की व्यवस्था की है।

UPs sugarcane factories making rural women self relient
गांवों की महिलाओं को आत्म निर्भर बना रहीं यूपी की चीनी मिलें। 

लखनऊ : उत्‍तर प्रदेश के गन्ना बाहुल्य क्षेत्रों में रोजगार की अपार संभावनाएं को देखते हुए महिलाओं को रोजगार देने के लिए राज्य सरकार पहल कर रही है। स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाओं को सिगल बड एवं बड चिप्स के जरिए गन्ने की नर्सरी तैयार करने के लिए प्रशिक्षित एवं प्रोत्साहित किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस महत्‍वाकांक्षी अभियान को मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की देखरेख में सफल बनाने का हर संभव प्रयास यूपी में किया जा रहा है।

महिलाओं को दिया जाता है प्रशिक्षण
उत्‍तर प्रदेश की चीनी मिलें ग्रामीण महिलाओं को आत्‍मनिर्भर बनाने की दिशा में काम कर रही हैं। यूपी के गन्‍ना मंत्री सुरेश राणा बताते हैं कि गन्ना विकास परिषद एवं चीनी मिलों ने संयुक्त रूप से ग्रामों का चयन करते हुए महिलाओं का स्वयं सहायता समूह बनाकर इनके प्रशिक्षण की व्यवस्था की है। आवश्यक मशीनें और यथा संभव अनुदान, चीनी मिलों के सहयोग से उपलब्ध कराई जाएंगी। इससे गन्ने की खेती में महिला रोजगार सदन के माध्यम से सेवायोजन के नए द्वार खुलेंगे।

गन्ना विभाग दे रहा ट्रेनिंग
राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के तहत गन्ना विभाग ने ग्रामीण महिला उद्यमियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए अनूठी पहल शुरू की है। योजना के तहत ग्रामीण महिलाओं के स्वयं सहायता समूहों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। प्रशिक्षित ग्रामीण महिलाएं बीज के वितरण के लिए नर्सरी तैयार कर रही हैं और गन्ना विभाग उन्हें प्रशिक्षित कर रहा है।

गन्ना के नए किस्म का उत्पादन बढ़ाना चाहती है सरकार
बीज उत्पादन के लिए प्रति बीज (सीडलिग) साढ़े तीन रुपया की दर से अनुदान दिया जाएगा। सरकार की मंशा इस योजना के जरिए सिगल बड और बड चिप की नर्सरी तैयार कराकर नए गन्ना किस्मों का उत्पादन बढ़ाना है। इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने गन्ना उत्पादक जिलों के अधिकारियों को निर्देश भेजकर ग्रामीण महिला उद्यमियों को स्वावलंबी बनाने को कहा है। गन्ना विभाग समूह की महिलाओं को गन्ने की पौध तैयार करने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यह महिलाएं ग्रामीण स्तर पर सिगल बड और बड चिप्स के माध्यम से गन्ने की नर्सरी तैयार कर रही हैं। नर्सरी में तैयार पौध की बिक्री से उन्हें अतिरिक्त आय हो रही है।
 

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर