UP Lekhpal Exam 2022: जानिए उत्तर प्रदेश लेखपाल परीक्षा में सेंधमारी की पूरी साजिश, नकल के लिए हुए लाखों के सौदे

UP Lekhpal Exam 2022: उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने बड़ी और चौतरफा कार्रवाई करते हुए रविवार को आयोजित राजस्व लेखपाल भर्ती परीक्षा में सेंधमारी की कोशिश को नाकाम कर दी। एसटीएफ द्वारा एक साथ विभिन्न जिलों में कार्रवाई करते हुए सॉल्वर गैंग के 21 शातिरों को गिरफ्तार किया गया है।

Lucknow News
लेखपाल परीक्षा में नकल की साजिश करने वाले गिरफ्तार  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • एसटीएफ ने राजस्व लेखपाल भर्ती परीक्षा में सेंधमारी की कोशिश को नाकाम किया
  • विभिन्न जिलों में कार्रवाई करते हुए सॉल्वर गैंग के 21 शातिरों को गिरफ्तार किया
  • प्रयागराज के विजय कांत नामक व्यक्ति नकल माफिया डॉ. केएल पटेल का करीबी बताया जा रहा है।

UP Lekhpal Exam 2022: उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने बड़ी और चौतरफा कार्रवाई करते हुए रविवार को आयोजित राजस्व लेखपाल भर्ती परीक्षा में सेंधमारी की कोशिश को नाकाम कर दिया। एसटीएफ ने एक साथ विभिन्न जिलों में कार्रवाई करते हुए सॉल्वर गैंग के 21 शातिरों को गिरफ्तार किया गया है। इस गैंग का मास्टरमाइंड प्रयागराज का नरेंद्र कुमार पटेल व विजयकांत पटेल है। यह गैंग परीक्षार्थियों से 10-10 लाख रुपये में पास कराने की बात कहता था। 

एडीजी एसटीएफ अमिताभ यश ने कहा कि, रविवार को 12 मंडल मुख्यालयों अयोध्या, अलीगढ़, आगरा, मेरठ, गोरखपुर, प्रयागराज, मुरादाबाद, झांसी, कानपुर नगर, लखनऊ और वाराणसी के 501 केंद्रों पर राजस्व लेखपाल की मुख्य परीक्षा का आयोजन किया गया था।

परीक्षार्थियों को ब्लूटूथ डिवाइस के माध्यम से नकल कराने का प्रयास  

परीक्षा की शुचिता भंग करने की साजिश रचने की सूचना मिलने पर कार्रवाई कर शातिरों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें नरेंद्र कुमार पटेल और उसका गैंग कई परीक्षार्थियों को ब्लूटूथ डिवाइस के माध्यम से नकल कराने का प्रयास कर रहा था। सभी शातिरों व परीक्षार्थियों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं, विजय पटेल पुराने नकल माफिया केएल पटेल के गैंग से संबंधित है। एसटीएफ मुख्यालय के पुलिस उपाधीक्षक लाल प्रताप सिंह की टीम ने मुखबिर की सूचना के आधार पर प्रयागराज के नरेंद्र पटेल और संदीप पटेल को गिरफ्तार कर कड़ाई से पूछताछ किए जाने पर बड़ी संख्या में पेपर सॉल्व कराने की साजिश का पता चला। इसके बाद संबंधित जिलों में सूचना देकर परिक्षार्थियों व गैंग के शातिरों लोगों को मौके से गिरफ्तार किया गया। वाराणसी के आरपी रस्तोगी इंटर कॉलेज, बांसफाटक से प्रतापगढ़ के दिलीप गुप्ता, प्रयागराज के नैनी स्थित ईश्वर प्रेम विद्या मंदिर से दिनेश कुमार साहू, कानपुर के नवाबगंज स्थित डीपीएस इंटर नगर निगम कालेज से करण कुमार को गिरफ्तार किया गया। ये सभी ब्लूटूथ डिवाइस के साथ परीक्षा दे रहा था।

सॉल्वर गैंग का तार प्रयागराज के पटेल गैंग से जुड़ा है

एसटीएफ ने राजस्व लेखपाल भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी फैलाने वाले सॉल्वर गैंग के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए राज्य के अलग-अलग जिलों में सॉल्वर गैंग के लोगों की धरपकड़ की और कुल 21 लोगों को गिरफ्तार किया है। सॉल्वर गैंग के तार पेपर लीक कराने वाले प्रयागराज के कुख्यात पटेल गैंग से जुड़े हुए है। सॉल्वर गैंग के लोग परीक्षा में नकल कराने से लेकर पेपर लीक करने या किसी और की जगह बैठकर पेपर देने तक का काम  किया करते है। वहीं एसटीएफ गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है। कई जगहों पर अभी भी छापेमारी की जा रही है। 

परीक्षार्थियों के साथ 10-10 लाख रुपये का सौदा

वहीं प्रयागराज से गिरफ्तार विजय कांत पटेल, दिनेश कुमार यादव और सोनू कुमार ने सात परीक्षार्थियों के साथ 10-10 लाख रुपये का सौदा किया था। विजय कांत नामक व्यक्ति नकल माफिया डॉ. केएल पटेल का करीबी बताया जा रहा है। ये सभी प्रयागराज के गोहरी-सोरांव रोड पर कार में बैठकर परीक्षा हॉल में बैठे परिक्षार्थियों को पेपर सॉल्व कराने का कार्य कर रहे थे। विभिन्न जिलों में परीक्षा दे रहे उन अभ्यर्थियों को भी गिरफ्तार किया गया है।

मुख्य अभियुक्त शिक्षक से बना नकल माफिया

इन गैंग के सदस्यों के पास से 15 ब्लूटूथ ईयर बड, 6 सिमकार्ड, 6 ईयर बड सेल, 9 ब्लूटूथ डिवाइस कार्ड, 10 मोबाइल, 1 पैनकार्ड, 1 डीएल और 620 रुपये नगद बरामद किया गए।राजस्व लेखपाल भर्ती परीक्षा में गिरफ्तार मुख्य अभियुक्त विजय कान्त पटेल शिक्षक के रूप में काम करते-करते नकल माफिया बन गया। वहीं विजय कांत पटेल के माध्यम से परीक्षा दे रहे परीक्षार्थी पुष्पेन्द्र को उदय प्रताप इंटर कॉलेज, वाराणसी से और जयसिंह पटेल को माया देवी बालिका इंटर कॉलेज कानपुर से गिरफ्तार किया गया है। इन लोगों को बोला गया था कि डिवाइस को आन करके रखना और पेपर आउट होते ही सभी प्रश्नों के उत्तर अलग-अलग मोबाइल से ब्लूटूथ डिवाइस के माध्यम से बताए जाएंगे। 

मुख्यालय की टीम ने साल्वर को किया गिरफ्तार 

मुख्यालय में पुलिस उपाधीक्षक प्रमेश कुमार शुक्ल की टीम ने लखनऊ के मड़ियांव स्थित एजल कारमल इंटर कॉलेज से रूपेश कुमार के स्थान पर परीक्षा दे रहे पटना बिहार के राजू कुमार को गिरफ्तार किया गया। इसी तरह से अलीगंज में बाल निकुंज गर्ल्स एकेडमी में अमित यादव के स्थान पर परीक्षा दे रहे संजय कुमार यादव को गिरफ्तार किया गया है। एसटीएफ मेरठ की टीम ने मुरादाबाद में अभ्यर्थी संदीप कुमार और उसके स्थान पर परीक्षा दे रहे मोहित को गिरफ्तार कर लिया। मुरादाबाद में ही आर्यन के स्थान पर परीक्षा दे रहे साल्वर रविंद्र कुमार और उसके साथ नीरज को गिरफ्तार किया गया। नीरज कैंडीडेट और साल्वर गैंग के बीच की कड़ी बताया जा रहा है। वहीं एसटीएफ की वाराणसी युनिट ने आर्य कन्या पी.जी. कॉलेज, चेतगंज वाराणसी से अभ्यर्थी कृष्णा यादव के स्थान पर साल्वर राज नारायण यादव को परीक्षा देते हुए गिरफ्तार किया गया है। एसटीएफ की फील्ड इकाई बरेली ने राजकीय बालिका इंटर कॉलेज, सिविल लाइन से अभ्यर्थी रिंकू के स्थान पर परीक्षा दे रहे सॉल्वर राजीव कुमार को गिरफ्तार किया गया है। उधर, गोंडा में लेखपाल भर्ती कराने के नाम पर किए जा रहे फ्रॉड के मामले में सलीम वारसी को गिरफ्तार किया गया है।

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर