योगी आदित्यनाथ की हार का जश्न मनाने वालों को नसीहत, कहा-अगर पाकिस्तान का गुणगान करोगे तो फिर उसी लायक बना देंगे, जिस लायक.. 

एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में बातचीत के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कानून को हाथ में लेने की छूट किसी को नहीं देंगे इसको लेकर उन्होंने सरकार की मंशा भी साफ की।

YOGI ADITYANATH
सीएम योगी संडे को अयोध्या में थे और एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में शिरकत कर रहे थे (फाइल फोटो) 

नई दिल्ली: हाल ही में टी-20 मैच में भारत को पाकिस्तान के हाथों हार मिली थी जिसके बाद देश के कई हिस्सों से पाकिस्तान की जीत का जश्न और भारत की हार पर खुशी मनाने की खबरें सामने आई थीं, इसे देखते हुए उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कड़ी चेतावनी देते हुए कहा है कि भारत में रहकर, भारत की धरती का अन्न खाकर अगर पाकिस्तान का गुणगान करोगे तो फिर उसी लायक बना देंगे, जिस लायक भारतीय सेना उन लोगों को बनाती है।

सीएम योगी संडे को अयोध्या में थे और एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में शिरकत कर रहे थे उसी दौरान उन्होंने सीधे-सीधे शब्‍दों में भारत में रहकर पाकिस्‍तान का समर्थन करने वालों को चेतावनी दी है कि उत्तर प्रदेश की धरती में यह नहीं चलेगा।

पाकिस्‍तान की जीत का जश्‍न मनाने वालों के खिलाफ सरकार का रुख सख्‍त

गौर हो कि देश में पाकिस्‍तान की जीत का जश्‍न मनाने वालों के खिलाफ उत्‍तर प्रदेश सरकार का रुख सख्‍त है। उसने ऐसे लोगों पर देशद्रोह का मुकदमा चलाने के लिए कहा है। सीएम ने कहा कि दुश्‍मन देश का यशगान कर रहे हैं तो इस तरह की शर्मनाक स्थिति को कतई नहीं स्‍वीकार किया जाएगा, यह देशद्रोह की श्रेणी में आएगा।

'राम का विरोध करने वालों को जनता ने जीरो बना दिया है'

वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने लखीमपुर हिंसा को लेकर कहा कि कानून ने अपना काम किया है और आगे भी कर रहा है। शासन ने एसआईटी गठित की है, इसकी रिपोर्ट आने दीजिए, इसके अलावा योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राम का विरोध करने वालों को जनता ने जीरो बना दिया है और राम के बिना भारत की कल्पना नहीं की जा सकती है हमने कभी राम के नाम पर राजनीति नहीं की है।

वहीं यूपी चुनाव में 40 प्रतिशत टिकट महिलाओं को देने के प्रियंका गांधी के एलान पर सीएम योगी ने कहा कि क्यों नहीं किसी आम महिला को कांग्रेस का अध्यक्ष बना दिया जाता है। 

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर