Lucknow: अब प्राकृतिक कहर से पहले मिल जाएगी चेतावनी, यूपी सरकार ने लॉन्च किया 'आपदा प्रहरी' एप 

मौसम संबंधी आपदाओं के निपटने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार ने शुक्रवार को एक एप लॉन्च किया है। इस एप का नाम है 'आपदा प्रहरी एप'।

aapda prahari app
सीएम योगी ने लॉन्च किया आपदा प्रहरी एप 

लखनऊ : बारिश के मौसम में बिजली कड़कने से होने वाली आपदाओं और ऐसे ही अन्य मौसम संबंधी आपदाओं के निपटने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार ने शुक्रवार को एक एप लॉन्च किया है। इस एप का नाम है 'आपदा प्रहरी एप'। यह एक इंटीग्रेटेड अर्ली वॉर्निंग सिस्टम है यानि कि किसी भी प्रकार की मौसम संबंधी आपदा के आने से पहले ही ये एप आपको अलर्ट कर देगा ताकि आप इससे बचने का तरीका ढूंढ़ सकें और जानमाल की क्षति होने से बच जाए।  

यह वेब आधारित एप्लीकेशन है जो राहत प्रबंधन कार्यों में भी सहयोग करेगा। सीएम ने कहा कि मौसम संबंधी आपदाओं से जितनी भी मौतें होती हैं उन्हें इसकी मदद से रोका जा सकता है। 

कैसे काम करेगा

इस एप का इंटीग्रेटेड अर्ली वॉर्निंग सिस्टम मौसम विभाग के सैटेलाइट अनुमानों के आधार पर होने वाली लाइटनिंग और अन्य ऐसे ही मौसम संबंधी जानकारियों से समय रहते अवगत कराएगा और किसी भी प्रकार की आपदा को लेकर अलर्ट कर देगा। यह काम ऑटोमैटिक एसएमएस अलर्ट और व्हाट्सएप मैसेज के जरिए किया जाएगा। ये सारे मैसेज 54,000 ग्राम प्रधान, 24,000 लेखपाल और 1.59 आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को किए जाएंगे।

इसके अलावा 1.51 आशावर्कर्स और 35 पुलिसकर्मियों को ये अलर्ट मैसेज भेजे जाएंगे। इसके अलावा कृषि विभाग के द्वारा चलाए जा रहे 1,100 व्हाट्सएप ग्रुप के जरिए ये सूचना 25 लाख से भी ज्यादा किसानों को भी दी जाएगी। ये एप रिलीफ कमिश्नर के ऑफिस से संचालित किया जाएगा जो सीधे किसानों से जुड़ेगा। 

कमिश्नर ऑफिस वेबसाइट के डैशबोर्ड पर एक सिटिजन कॉर्नर भी होगा जहां पर जाकर आप नजदीकी राहत कैंप के बारे में जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं, सरकार के द्वारा दी जा रही सुविधाओं और राहत कार्य से जुड़े अधिकारियों से भी जुड़ सकते हैं। सिटीजन्स लॉगइन के जरिए आप इस वेबसाइट पर लॉगइन कर सकते हैं।  

अगली खबर