UP Assembly Elections 2022: सपा प्रमुख अखिलेश यादव बोले अबकी बार 400 पार, जानें- दावे में कितना दम

2022 में यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बड़े बड़े दावे किये जा रहे हैं। समाजवादी पार्टी को भरोसा है कि अगली बार वो 400 से अधिक सीटों को फतह करेगी।

UP Assembly Election 2022, BJP, Samajwadi Party, Bahujan Samaj Party, Akhilesh SP's mission crosses 400 next time, Yogi Adityanath News, UP Assembly Election 2022 News
सपा प्रमुख अखिलेश यादव बोले अबकी बार 400 पार, जानें दावे में कितना दम 

मुख्य बातें

  • समाजवादी पार्टी ने 2022 में 400 सीट पार का किया दावा
  • अखिलेश यादव बोले- प्रदेश की सरकार सभी मोर्चों पर नाकाम
  • जनता का आक्रोश सपा को दिलाएगी 400 से अधिक सीट

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के लिए राजनीतिक दल अब कमर कस चुके हैं, करीब करीब सभी दल चुनावी यात्राओं के जरिए मतदाताओं के दिल में जगह बनाने की कोशिश में जुट गए हैं। हर दल को विश्वास है कि अगली बार उसकी सरकार। लेकिन समाजवादी पार्टी का दावा है कि 2022 में वो चार सौ सीट के पार। बता दें कि यूपी विधानसभा में कुल 403 सीटें हैं। 

अबकी बार 400 पार का नारा
लखनऊ में सपा प्रमुख अखिलेश यादव  ने कहा कि समाजवादी कह चुके हैं 'अबकी बार 400 पार'...हमारा प्रयास होगा कि लोगों को अपने साथ ले जाएं। आप उनके बीच नाखुशी की कल्पना नहीं कर सकते, वे भाजपा की सरकार नहीं देखना चाहते। किसानों की आय दोगुनी नहीं हुई, लेकिन गैस सिलेंडर के दाम दोगुने हो गए।


क्या कहती है जनता

अब सवाल यह है कि अखिलेश यादव के इस आत्मविश्वास के पीछे आधार क्या है। इस सवाल के जवाब में यूपी के चार शहरों गाजियाबाद, नोएडा, बनारस और गोरखपुर से बात कर समझने की कोशिश की गई है। सपा के दावे पर मिलीजुली प्रतिक्रिया आई। कुछ लोगों का कहना है ख्याली पुलाव पकाने में हर्ज क्या है तो कुछ लोगों को लगता है कि योगी आदित्यनाथ सरकार से जिस तरह की अपेक्षा थी उस पर वो खरे नहीं उतरे। कुछ लोगों ने कहा कि किसान आंदोलन और कोरोना की दूसरी लहर के दौरान अव्यवस्था बीजेपी पर भारी पड़ेगा तो कुछ लोगों का कहना है कि इसका असर नहीं पड़ेगा। लेकिन इस विषय पर जानकार क्या सोचते हैं उसे भी जानना जरूरी है।

क्या कहते हैं जानकार
सपा के दावे पर जानकारों का कहना है कि इसे सिर्फ स्लोगन और कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिहाज से देखना चाहिए। आपने 2019 के लोकसभा चुनाव को देखा होगा जब सपा बसपा और कांग्रेस करीब करीब मिलकर बीजेपी के खिलाफ थे लेकिन नतीजा क्या रहा। इस समय की बात करें तो विपक्ष बिखरा हुआ है लिहाजा सपा का दावा सच के करीब नहीं है। दूसरी बात कि समाजवादी पार्टी एक तरफ छोटी पार्टियों से गठबंधन की योजना पर काम कर रही है तो यह कहां से संभव है कि वो सभी 403 सीटों पर चुनाव लड़ पाएगी। 

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर