Oxygen Shortage in UP:ऑक्सीजन की किल्लत के बीच यूपी में टीम-11 की खास बैठक, लिये गए बड़े फैसले

यूपी में कोरोना महामारी से लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज और कानपुर सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। अस्पतालों में आक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए यूपी सरकार ने कुछ खास फैसले किये हैं।

Oxygen Shortage in UP:ऑक्सीजन की किल्लत के बीच यूपी में टीम-11 की खास बैठक, लिये गए बड़े फैसले
यूपी में ऑक्सीजन की किल्लत के बीच लिए गए बड़े फैसले 

मुख्य बातें

  • बोकारो से ऑक्सीजन एक्सप्रेस पहुंची लखनऊ
  • चारबाग रेलवे स्टेशन पहुंची ऑक्सीजन एक्सप्रेस
  • लखनऊ में ऑक्सीजन से मरीजों को मिलेगी मदद

कोविड संक्रमित की हर एक मृत्यु दुर्भाग्यपूर्ण है। ऐसे सभी लोगों का अन्तिम संस्कार उनकी धार्मिक मान्यताओं और परंपराओं का पालन करते हुए प्रशासन की देख-रेख में कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। मृतक के परिजनों के साथ संवेदनशील व्यवहार हो। गरीब परिवारों के सदस्यों के अंतिम संस्कार के लिए सरकार द्वारा सहायता राशि देने की व्यवस्था है। पंचायती राज और नगर विकास विभाग इन व्यवस्थाओं को लागू किया जाना सुनिश्चित करें।

कोविड संक्रमित मरीजों और उनके परिजनों के साथ संवेदनशील और मर्यादित व्यवहार किया जाए। निजी चिकित्सालयों में भी इलाज के लिए सरकार ने दरें तय की हैं, उससे अधिक शुल्क न लिया जाए। मनमाने ढंग से शुल्क लिए जाने की शिकायत पर नियम संगत कठोरतम कार्रवाई की जाए। मरीज के परिजनों को मरीज के स्वास्थ्य के संबंध में हर दिन दो बार जानकारी दी जाए।

सीएम योगी की टीम 11 की बैठक , बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण फैसले

  1. मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1076 द्वारा अस्पतालों में भर्ती कोविड संक्रमित मरीजों की स्थिति की निरन्तर जानकारी प्राप्त की जाए। निगरानी समितियां सक्रिय रहें। निगरानी समितियों की समीक्षा व माॅनीटरिंग लगातार हो।  
  2. शुक्रवार रात्रि 08 बजे से सोमवार प्रातः 07 बजे तक साप्ताहिक कोरोना कर्फ्यू प्रभावी है। प्रदेश के सभी जिलों में इसे सख्ती से लागू किया जाए। पुलिस पेट्रोलिंग पर रहे। इस अवधि में व्यापक स्वच्छता, सैनिटाइजेशन और फॉगिंग का कार्य कराया जाए।
  3. साप्ताहिक कोरोना कर्फ्यू की अवधि में कोविड टीकाकरण का कार्य निर्बाध रूप से जारी रहे।लोगों को घर से टीकाकरण केंद्र जाने और वापस आने की छूट है। टीकाकरण के लिए आवागमन में नागरिकों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होनी चाहिए। औद्योगिक इकाइयां व अन्य आवश्यक सेवाएं सतत संचालित रहें।
  4. प्रदेश के सभी अस्पतालों में अग्निशमन व्यवस्थाओं का निरीक्षण कर लिया जाए, जिससे अग्नि की घटनाओं में क्षति न होने पाए। यह कार्य पूरे प्रदेश में तत्काल किया जाए।
  5. कंटेनमेंट ज़ोन की व्यवस्था को प्रभावी बनाया जाए। समीप स्थिति एक से अधिक माइक्रो कंटेनमेंट ज़ोन को जोड़कर एक कंटेनमेंट ज़ोन बनाया जाना चाहिए। यह अधिक सुविधाजनक और व्यवहारिक होगा। 
  6. ऐसे दौर में जबकि पूरा देश कोरोना महामारी के खिलाफ एकजुट होकर लड़ रहा है, ऐसे आपदाकाल में भी कुछ अराजक तत्व दवाओं की कालाबाजारी, अफवाह फैलाने अथवा माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं।सोशल मीडिया पर भी ऐसे दुष्प्रचार हो रहे हैं। ऐसे लोगों के विरुद्ध गैंगस्टर एवं एनएसए के तहत कठोरतम कार्रवाई की जाए। इनकी सम्पत्ति जब्त की जाए। 
  7. यूपी के लिए ऑक्सीजन होगी एयरलिफ्ट...
  8. यूपी में ऑक्सीजन की आपूर्ति को लेकर सीएम योगी के अनुरोध पर पीएम मोदी ने टैंकर पहुँचाने के लिए यूपी को हवाई जहाज दिये 
  9. एक हवाई जहाज़ से 2 ख़ाली टैंकर बोकारो पहुँचाए जाएंगे और वहां से भरे हुए टैंकर ट्रैन से लखनऊ आएंगे...
  10. पश्चिमी यूपी के लिए हिंडन से भी ऑक्सीजन एयरलिफ्ट कराने के लिए व्यवस्था की जाएगी...
  11. लखनऊ और वाराणसी में डीआरडीओ द्वारा बनाये जा रहे दो कोविड अस्पताल 30 अप्रैल तक क्रियाशील हो जाएंगे।


एम्बुलेंस सेवाओं में सुधार हुआ है, किन्तु इसे और भी कम रिस्पाॅन्स टाइम में मरीजों तक पहुंचाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए, जिससे वे हाॅस्पिटल सुगमता से बिना विलम्ब के पहुंच सकें। होम आइसोलेशन में इलाजरत लोगों को पर्याप्त मेडिकल किट उपलब्ध कराया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में भी इस स्थिति पर नजर रखी जाए। स्वास्थ्य मंत्री के स्तर पर इसकी समीक्षा की जाए।

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर