'इलाज के दौरान चेतन चौहान से PGI में किया गया था दुर्व्यवहार, स्टाफ ने उनसे पूछा- आप क्या करते हो'

समाजवादी पार्टी के विधान परिषद सदस्य सुनील सिंह साजन ने दावा किया कि लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में इलाज के दौरान राज्य सरकार के कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान के साथ अस्पताल में हुए दुर्व्यवहार किया गया।

SP MLC Sunil Singh Sajan alleges Chetan Chauhan died not due to covid because of poor treatment in SPGI Lucknow
'कोरोना पीड़ित चेतन चौहान के साथ PGI में हुआ था दुर्व्यवहार' 

मुख्य बातें

  • चेतन चौहान के साथ लखनऊ के एसजीपीजीआई में इलाज के दौरान डॉक्टरों द्वारा किया गया दुर्व्यवहार- सपा MLC
  • अस्पताल के एक स्टाफ ने पूछा कि चेतन क्या काम करते हो- सुनील साजन
  • एसपीजीआई के निदेशक डॉ. धीमान ने कहा- वह मामले की जांच कराएंगे

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के विधान  परिषद सदस्य सुनील साजन ने शनिवार को विधान परिषद की कार्यवाही के दौरान संबोधित किया। सुनील साजन का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है जिसमें वो बता रहे हैं कि लखनऊ के संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) कोविड के ईलाज के दौरान पूर्व कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान के साथ अस्पताल के स्टाफ ने कैसा सलूक किया। साजन ने दावा किया कि कोरोना संक्रमण के बाद अपनी जान गंवाने वाले यूपी सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान के साथ दुर्व्यवहार किया यहां तक पूछा कि आप कौन है।

अस्पातल स्टाफ ने चेतन चौहान के साथ किया था ऐसा सलूक
सुनील साजन का यह वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। जिसमें वो कहते हैं, 'एक दिन राउंड पर आए डॉक्टर और स्टाफ ने दूर से ही पूछा कि चेतन कौन है। चूंकि मंत्री बहुत सरल स्वभाव के थे इसलिए उन्होंने हाथ खड़ा कर दिया। एक स्टाफ ने चौहान से पूछा कि आपको कोविड-19 संक्रमण कब हुआ। इस पर चौहान ने पूरी बात बताई। तभी एक दूसरे स्टाफ ने पूछा कि चेतन क्या काम करते हो? इस पर चौहान ने बताया कि वह कैबिनेट मंत्री हैं। इस पर दूसरे शख्स ने कहा कहां के? इस पर चेतन जी ने जवाब दिया- उत्तर प्रदेश सरकार के। मुझे मेडिकल स्टाफ के इस बर्ताव पर बहुत गुस्सा आ रहा था लेकिन जब चौहान ने खुद को प्रदेश का कैबिनेट मंत्री बताया तो उन्हें यह लगा कि स्टाफ के लोग अब उनसे सम्मान के साथ बात करेंगे लेकिन यह सुनने के बाद भी पीजीआई के स्टाफ ने कहा कि चेतन तुम्हारे घर में और कौन-कौन संक्रमित हैं।'

साजन ने सरकार पर साधा निशाना
साजन इस वीडियो में आगे कहते हैं,  'जब मैं अपना गुस्सा नहीं रोक पाया तो मैंने डॉक्टर से कहा कि यह वह हैं जो देश के लिए क्रिकेट खेलते थे, तो डॉक्टर ने कहा कि अच्छा यह वह चेतन है। यह कहते हुए डॉक्टर और स्टाफ वहां से चले गये। चेतन चौहान कोरोना से नहीं बल्कि सरकार की अव्यवस्था से हम सब को छोड़ कर गए।' इसके अलावा ने कहा कि मुझे भी कोविड हुआ था लेकिन अस्पताल की जिस तरह की व्यवस्था थी उसके बाद मुझे बहुत दुख हुआ और मैंने लिखित में दिया कि मुझे पीजीआई में इलाज नहीं कराना है। साजन ने दावा किया कि उनके कोरोना के पांच टेस्ट हुए जिनमें कभी कहा गया है कि आपका सैंपल खो गया, कभी पर्ची खो गई जैसे तर्क दिए गए।

अखिलेश ने साधा निशाना

साजन का वीडियो सामने आने के बाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, 'कोरोना को लेकर अपनी तथाकथित बेहतर तैयारी की तुलना अमेरिका से करते समय, उप्र के मुख्यमंत्री जी आत्मप्रशंसा के प्रवचनीय आवेग में यह भूल गये कि उन्हीं के मंत्रीमंडल के माननीय सदस्य स्व. चेतन चौहान जी के साथ उन्हीं के सरकारी अस्पताल में किस प्रकार दुर्व्यवहार हुआ।अति दुखद कृत्य!'

अस्पताल ने दी सफाई

हालांकि, एसजीपीजीआई के निदेशक डॉ. आरके धीमान ने कहा कि साजन के बयान पर वह आश्चर्यचकित हैं। उन्होंने कहा, 'इलाज के दौरान, मैंने कई बार चौहान से बात की थी, लेकिन उन्होंने कभी इस घटना का जिक्र नहीं किया। उन्हें पारिवारिक कारणों का हवाला देते हुए गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल ले जाया गया। अगर कोई शिकायत थी, तो उन्हें अवगत कराया जाना चाहिए था। घटना जांच की जाएगी।'

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर