MonkeyPox Alert: मंकीपॉक्स को लेकर अलर्ट, लखनऊ के केजीएमयू में होगी जांच, रिपोर्ट आने में नहीं होगी देरी

Monkeypox Guideline In UP: मंकीपॉक्स को लेकर यूपी में अलर्ट जारी किया जा चुका है। इससे बचाने के लिए सभी जरूरी उपाय भी किए जा रहे हैं।

Lucknow News
अब लखनऊ में होगी मंकीपॉक्स की जांच  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • यूपी में मंकीपॉक्स को लेकर अलर्ट
  • लखनऊ केजीएमयू और एम्स दिल्ली में होगी नमूनों की जांच
  • मेरठ-सहारनपुर मंडल के सैंपल दिल्ली के AIIMS और बाकी की केजीएमयू लखनऊ में होगी जांच

MonkeyPox Alert: करीब 90 देशों में फैल चुके मंकीपॉक्स का खतरा उत्तर प्रदेश में बन रहा है। देश की राजधानी दिल्ली में एक और केरल में तीन मरीज इस बीमारी के अब तक मिल चुके हैं। यूपी में अब तक 7 संदिग्ध सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। इनमें पांच की रिपोर्ट निगेटिव आई है, जबकि दो की रिपोर्ट आना बाकी है। वहीं, यूपी में अलर्ट जारी हो गया है। प्रदेशभर में सतर्कता बरती जा रही है। स्वास्थ्य महकमा ने मंकीपॉक्स को लेकर तैयारियां तेज कर दी हैं। साथ ही प्रभावित देशों से आने वाले लोगों की निगरानी की जा रही है। साथ ही यह भी कहा गया है कि, मंकीपॉक्स के लक्षण दिखने पर तत्काल उसकी जांच कराएं। 

हालांकि यूपी में मंकीपाक्स का अभी तक एक भी संक्रमित मामला नहीं मिला है। वहीं, अब उत्तर प्रदेश के संदिग्ध मरीजों के सैंपल अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान नई दिल्ली (एम्स) और किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) लखनऊ भेजे जाएंगे। 

दिल्ली में होगी मेरठ और सहारनपुर मंडल के सैंपल की जांच

मेरठ और सहारनपुर मंडल के सैंपल जांच के लिए एम्स दिल्ली जाएंगे, इसके अलावा, बाकी मंडलों की जांच केजीएमयू लखनऊ में होगी। पुणे में सैंपल भेजने की वजह से जांच रिपोर्ट आने में देरी लग रही थी, इसी को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। अब रिपोर्ट जल्द मिलेगी। आपको बता दें कि मंकीपॉक्स के संक्रमण से यूपी को बचाने के लिए सभी जरूरी उपाय किए जा रहे हैं। इसको लेकर दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं। संक्रमितों के संपर्क में आने वाले लोगों की 21 दिन तक मेडिकल टीम निगरानी करेगी। मास्क पहनना, हाथ साफ रखना, घावों को पूरी तरह से ढककर रखना होगा। लक्षण उभरने पर उनकी जांच भी होगी। 

निगरानी कमेटियों को किया गया अलर्ट

यूपी के संचारी रोग विभाग के संयुक्त निदेशक डा. विकासेंदु अग्रवाल द्वारा सभी जिलों को बचाव के जरूरी उपाय करने के निर्देश जारी किए गए हैं। 80 हजार निगरानी कमेटियों को अलर्ट भी किया गया है। यह कमेटी विदेश और दूसरे राज्यों से आ रहे लोगों पर नजर रखेंगी। वहीं, राजनारायण लोकबंधु अस्पताल की निदेशक और वरिष्ठ स्त्री रोग चिकित्सक डॉ. दीपा त्यागी के अनुसार, मंकीपॉक्स को लेकर लोगों के मन में कई प्रकार के सवाल हैं। उन्होंने सलाह दी कि अगर आपको मंकीपॉक्स के लक्षण दिखे तो तुरंत सतर्क हो जाएं। साथ ही खुद को आइसोलेट कर जांच कराएं। इसके साथ ही अपने पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध न बनाएं।
 

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर