Mayawati ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर साधा निशाना, दलित, मुस्लिम और ब्राह्मण को बनाया हथियार

Mayawati slams yogi aditynath: बीएसपी मुखिया मायावती ने एक बार फिर दलित, ब्राह्मण मुद्दे पर योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है।

Mayawati ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर साधा निशाना, दलित, मुस्लिम और ब्राह्मण को बनाया हथियार
मायावती, बीएसपी चीफ 

मुख्य बातें

  • मायावती ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर साधा निशाना
  • दलित, मुस्लिम और ब्राह्मण समाज के उत्पीड़न को बनाया मुद्दा
  • बीजेपी ने मायावती के आरोपों को नकारा

लखनऊ। बीएसपी चीफ मायावती ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट के जरिए कहा कि जिस तरह से सपा सरकार में जैसे ब्राह्मणों व दलितों का चुन-चुन कर उत्पीड़न किया गया था तो अब वैसे ही वर्तमान भाजपा सरकार में भी इनके साथ-साथ मुसलमानों का भी काफी उत्पीड़न किया जा रहा है। इनको जबरन गलत मामलों में फंसाया जा रहा है जो किसी भी सूरत में सही नहीं है। 

बीजेपी वही काम कर रही है जो सपा करती थी
मायावती कहती है कि जिस प्रकार से सपा सरकार में दलितों के मसीहा बाबा साहेब डॉ. भाीमराव अम्बेडकर व इनके महान् सन्तों व गुरुओं की मूर्ति तोड़ी गई तथा उनके नाम पर रखे गये जिलों व संस्थानों आदि के नाम भी बदल दिये गए, ठीक उसी प्रकार से अब वर्तमान भाजपा सरकार भी चल रही है। अब तो उनके मसीहा बाबा साहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर की भी मूर्ति तोड़ी जा रही है, जिसके पहले वाराणसी की व अब जौनपुर की घटना अति-निन्दनीय। सरकार इस मामले में उचित कदम उठाये। 

बेदम हैं मायावती के आरोप
मायावती के आरोपों पर बीजेपी का कहना है कि वो आरोप लगाने से पहले तथ्यों की जांच पड़ताल कर लेतीं। जहां तक जिन तीनों समाज का जिक्र कर रही हैं उनमें से कोई भी ऐसा शख्स नहीं था जिसका किसी न किसी रुप में आपराधिक इतिहास न रहा हो। इस सरकार की मंशा साफ है कि बेगुनाह को छेडे़ंगे नहीं और गुनहगार को छोड़ेंगे नहीं। मौजूदा सरकार सबका साथ और सबका विकास के मूलमंत्र पर काम कर रही है जिसमें किसी के साथ भेदभाव का सवाल नहीं है। अगर कहीं से किसी तरह की शिकायत मिलती है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाती है। 

 

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर