Lucknow: न मिली वसूली तो दबंगों ने ईंट से कुचल ऑटो ड्राइवर को मार डाला, थाने की दो चौकियों के बीच की वारदात

Lucknow News: लखनऊ के पीजीआई थाना क्षेत्र के पास लखनऊ-रायबरेली हाईवे पर माध्यम रात्रि में दबंगों ने अवैध वसूली न देने पर ऑटो चालक की लाठी-डंडोें से पीटकर और ईंट से कुचल कर निर्मम हत्या कर दी। घटना स्थल से चौकियों के बीच की दूरी लगभग 150 मीटर है।

Lucknow News
अवैध वसूली न देने पर ऑटो चालक की हत्या (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • लखनऊ-रायबरेली हाईवे पर दबंगों ने अवैध वसूली न देने पर ऑटो चालक की हत्या
  • बीच-बचाव करने पर राहगीरों को हमलावरों ने धमका कर भगाया
  • घटना लखनऊ के पीजीआई थाने की दो पुलिस चौकियों के बीच में हुई

Lucknow News: उत्तर प्रदेश लखनऊ के पीजीआई थाना क्षेत्र के पास लखनऊ-रायबरेली हाईवे पर मध्य रात्रि में दबंगों ने अवैध वसूली न देने पर ऑटो चालक सुभाष चंद्र पाल (25) की लाठी-डंडोें से पीटकर और ईंट से कुचल कर निर्मम हत्या कर दी। यह घटना लखनऊ के पीजीआई थाने की दो पुलिस चौकियों के बीच में हुई। घटना स्थल से दोनों चौकियों के बीच की दूरी लगभग 150 मीटर है।

लाठी-डंडों से पीट कर किया अधमरा 

प्रभारी निरीक्षक पीजीआई देवेंद्र विक्रम सिंह के अनुसार लखनऊ वृंदावन सेक्टर-5 डूडा कॉलोनी में सदाराम पाल परिवार सहित रहते हैं। उनका बेटा सुभाष चंद्र पाल ऑटो चलाकर परिवार का खर्च चलाता था। सदाराम के अनुसार, माध्यम रात्रि को सुभाष लखनऊ-रायबरेली हाईवे पर पीजीआई से अर्जुनगंज की तरफ जा रहा था।

इसी बीच हाईवे पर ही एल्डिको पुलिस चौकी के पास बाइक और कार सवार कुछ दबंगों ने उसे घेरकर रोक लिया। इसके बाद सुभाष को बीच हाईवे पर ऑटो से खींचकर सड़क पर गिरा दिया। इसके बाद लाठी-डंडों से जमकर पीटा। फिर ईंट से कुचल कर अधमरा कर दिया। इस दौरान उधर से गुजर रहे राहगीरों ने बीच-बचाव की कोशिश की तो उनको भी हमलावरों ने गाली गलौज कर धमका कर भगा दिया। सुभाष वहीं सड़क पर ही तड़पता रहा।

राहगीरों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल सुभाष पाल को लोकबंधु अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने सुभाष को मृत घोषित कर दिया। वहीं मृतक के पिता सदाराम ने पुलिस को दी तहरीर में आरोप लगाया कि उतरेठिया में अवैध ऑटो स्टैंड चलाने वाले चंदन मिश्रा और उसके साथियों ने सुभाष की हत्या की है। 

एफआईआर दर्ज कर जांच कर रही पुलिस

प्रभारी निरीक्षक देवेंद्र विक्रम सिंह के अनुसार, चंदन मिश्रा व अन्य साथियों पर एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। वहीं आरोपियाें की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है।अवैध वसूली के विरोध पर एक माह पूर्व भी लोगों ने पीटा था। पिता का आरोप है कि चंदन मिश्रा लगातार अवैध वसूली के लिए दबाव बना रहा था। जिसका विरोध  सुभाष कर रहा था। पिछले एक महीने से सुभाष ने चंदन को वसूली के पैसे नहीं दिए थे। इसको लेकर लोगों ने कई बार उसे धमकी भी दिया था। एक महीने पूर्व भी चंदन के साथियों ने सुभाष से मारपीट की थी। प्रभारी निरीक्षक के अनुसार, घटना स्थल के पास तीन प्रतिष्ठानों पर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं लेकिन सभी खराब हैं। इसी कारण पुलिस कुछ दूरी पर मिले सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाल रही है। 

हर महीने का 2000 वसूली 

पिता सदाराम ने आरोप लगाया कि, चंदन मिश्रा उतरेठिया अवैध तरीके से ऑटो स्टैंड संचालित करता है। वहां से चलने वाले हर ऑटो को महीने में दो हजार रुपये देने होते हैं। बिना वसूली ऑटो नहीं चल सकता है। विरोध पर ऑटो चालकों की पिटाई भी करते है और अतिरिक्त वसूली भी की जाती है।

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर