al qaeda terrorist lucknow: अखिलेश यादव को यूपी पुलिस पर भरोसा नहीं तो सुरक्षा ना लें- विक्रम सिंह

लखनऊ के काकोरी से अलकायदा के पकड़े गए आतंकियों पर सियासत शुरू हो चुकी है। अखिलेश यादव के बयान पर यूपी के पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह ने सधे अंदाज में निशाना साधा और कहा कि भरोसा नहीं तो सुरक्षा सरेंडर कर दें।

al qaeda lucknow, al qaeda terrorist lucknow, ak qaeda terrorist Arrest of Al Qaeda terrorists from Kakori, UP ATS, Former DGP of UP Vikram Singh, Akhilesh Yadav, UP Police
यूपी के पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह ने अखिलेश यादव के बयान को गैर जरूरी बताया 

मुख्य बातें

  • यूपी एटीएस ने काकोरी में अल कायदा मॉड्यूल को ध्वस्त किया था, दो आतंकियों की गिरफ्तारी भी हुई थी
  • समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी पुलिस की विश्वसनीयता पर उठाए थे सवाल
  • यूपी के पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह ने कहा कि अगर अखिलेश यादव को भरोसा नहीं तो सेक्युरिटी सरेंडर कर दें

यूपी की राजधानी लखनऊ से 30 से 35 किमी दूर काकोरी नाम का कस्बा है। इस कस्बे का ऐतिहासिक संबंध है। लेकिन इन दिनों चर्चा के केंद्र में अलकायदा के दो आतंकियों की गिरफ्तारी से है। यूपी एटीएस ने अलकायदा के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया है जो मानव बम बनकर बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते थे। लेकिन आतंकियों की गिरफ्तारी पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बीएसपी मुखिया मायावती ने सवाल उठाए तो यूपी के पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह बिफर पड़े। उन्होंने कहा कि यूपी पुलिस पर शक करना सही नहीं होगा। इसके साथ ही कहा कि अगर अखिलेश यादव को यूपी पुलिस मेें भरोसा नहीं है तो वो अपनी सेक्युरिटी को सरेंडर कर दें। 

तो अखिलेश यादव सेक्युरिटी सरेंडर क्यों नहीं कर देते
विक्रम सिंह ने कहा कि अखिलेश यादव के बयान से उन्हें बहुत दुख है। वो 36 साल तक यूपी पुलिस को अपनी सेवा दिए हैं। अगर अखिलेश यादव को यूपी पुलिस की कार्यप्रणाली से खुश नहीं हैं या उन्हें भरोसा नहीं तो अपनी सेक्युरिटी को क्यों नहीं सरेंडर कर देते हैं। अगर वो उनकी जगह होते और यूपी पुलिस में भरोसा नहीं होता तो वो यूपी पुलिस की सुरक्षा लेते ही नहीं।

काकोरी में अलकायदा माड्यूल को किया गया ध्वस्त
बता दें कि काकोरी से अलकायदा के दो आतंकियों की गिरफ्तारी पर अखिलेश यादव ने कहा था कि वो यूपी पुलिस और बीजेपी में भरोसा नहीं करते हैं। अखिलेश यादव के इस बयान पर विक्रम सिंह ने कहा कि यूपी पुलिस अनुशासित फोर्स है और वो किसी तरह की राजनीतिक बयानबाजी पर टिप्पणी नहीं करेगी। लेकिन जिस तरह से सवाल उठाए गए हैं वो पुलिस फोर्स के लिए अपमानजनक है।
उत्तर प्रदेश के आतंकवाद निरोधी दस्ते ने लखनऊ में अल-कायदा के आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया और रविवार को दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया।

दो आतंकियों की गिरफ्तारी भी हुई
पुलिस ने कहा कि गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान मिन्हाज अहमद (30) और मसीरुद्दीन (50) के रूप में हुई है, जो 15 अगस्त से पहले लखनऊ और आसपास के इलाकों में विस्फोट करने की योजना बना रहे थे। उत्तर प्रदेश के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने कहा था कि एटीएस उत्तर प्रदेश ने एक आतंकी मॉड्यूल का खुलासा किया और अल-कायदा के भारतीय उपमहाद्वीप मॉड्यूल के दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया। एक को काकोरी पुलिस स्टेशन से गिरफ्तार किया गया है, जबकि दूसरे को मड़ियाहूं से पकड़ा गया है। 

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर