Bundelkhand: बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र के घर-घर में पहुंचेगा दिसम्बर से शुद्ध पानी

Bundelkhand News : बुन्देलखंड क्षेत्र में जल जीवन मिशन के तहत 32 परियोजनाओं में कुल 467 पाइप पेयजल योजनाओं का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। इनमें से 43 सतही जल आधारित योजनाएं और 424 भूजल पर आधारित हैं।

Each house of Bundelkhand and Vindhya will get clean water from december
बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र के घर-घर में पहुंचेगा दिसम्बर से शुद्ध पानी।  |  तस्वीर साभार: IANS

लखनऊ : बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र को उत्तर प्रदेश सरकार पेयजल के सबसे बड़े संकट से बहुत जल्द निजात दिलाने जा रही है। इसके लिए दिसंबर से बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र के हजारों गांवों में घर घर शुद्ध पेय जल की आपूर्ति शुरू करने जा रही है। केंद्र सरकार के सहयोग से चल रही हर घर नल योजना को तय समय से करीब 6 महीने पहले पूरा कर राज्य सरकार बुंदेलखंड और विंध्य के लाखों लोगों को नए साल से पहले सबसे बड़ा तोहफा देगी। जल परियोजनाओं पर दिन रात काम कर रहे जल जीवन मिशन के अधिकारी दो माह बाद पानी सप्लाई का ट्रायल रन कने की तैयारी में हैं। पेयजल के लिए मशक्कत करने वाले पुरुष और महिलाओं को दिसम्बर माह से पहले हर घर नल योजना के तहत पीने का शुद्ध पानी मिलने लगेगा।

वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का काम लगभग 80 फीसदी पूरा
राज्य सरकार ने इसके लिए झांसी और महोबा समेत बुंदेलखंड के विभिन्न जिलों में वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का काम लगभग 80 फीसदी पूरा कर लिया है। अगले दो महीनों में ट्रायल रन के साथ इनकी शुरूआत करके लाखों की आबादी को इसका लाभ दिया जाने वाला है। प्रमुख सचिव नमामि गंगे अनुराग श्रीवास्तव कहते हैं, "हम दिसंबर से बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र के हजारों घरों में पेय जल की सप्लाई शुरू करने जा रहे हैं। इसके लिए हमारी तैयारियां पूरी हैं। हमारे 50 फीसदी से अधिक प्लांटों में निर्माण कार्य लगभग पूरा हो चुका है। शुद्ध पानी मिलने से इस इलाके के लोगों को बीमारियों से तो निजात मिलेगी ही साथ ही पानी की उपलब्धता की समस्या भी दूर हो जाएगी।"

पाइप पेयजल योजनाओं पर तेजी से हो रहा काम
दरअसल अभी तक यहां के लोग दूर दराज के हैण्डपम्पों से मिलने वाले जल पर ही आश्रित थे। पिछली सरकारों इस इलाके में पानी की समस्या को दूर करने के लिये कोई ठोस योजना नहीं बनाई थी। बुन्देलखंड क्षेत्र में जल जीवन मिशन के तहत 32 परियोजनाओं में कुल 467 पाइप पेयजल योजनाओं का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। इनमें से 43 सतही जल आधारित योजनाएं और 424 भूजल पर आधारित हैं। इन योजनाओं से 3823 राजस्व ग्रामों के कुल 7268705 आबादी के लिये 1195265 क्रियाशील गृहजल संयोजन की व्यवस्था की जाएगी। कुल 1195265 घरों में शुद्ध पानी की आपूर्ति होगी। इन परियोजनाओं से बुंदेलखंड क्षेत्र के 07 जनपदों के 40 तहसील, 68 विकास खंड और 2608 ग्राम पंचायतों को लाभ मिलेगा।

पाइपलाइन बिछाने का काम जारी
प्रोजेक्ट मैनेजमेंट कंसलटेंटजल जीवन मिशन, नमामि गंगे, रूरल डेवलपमेंट एण्ड वाटर सप्लाई के पंकज सिंह ने बताया, "बबीना स्थित बुढ़पूरा ग्राम समूह पाइप पेयजल योजना, झांसी के तहत इंटेक वेल, वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, सीडब्ल्यूआर और ओवरहैड टैंक जोन वाइज बन रहे हैं। 14 टंकियां बन गई हैं। माताटीला बांध से पानी लिया जाएगा। वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में पानी को शुद्ध किया जाएगा। आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर बांध से आने वाले पानी की गंदगी खत्म की जाएगी। पानी के बैक्टीरिया को खत्म करके पाइप लाइन के माध्यम से यह पानी गांव तक पाइप लाइन के माध्यम से पहुंचाया जाएगा। पाइपलाइनों को बिछाने का काम भी तेजी से किया जा रहा है।"

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर