लड़की से मिलने फ्लाइट पकड़कर यूपी पहुंचा युवक, 'लव जिहाद' के शक में हुई पिटाई

मुस्लिम युवक (21) बेंगलुरु में इंजीनियर है। पिछले साल अप्रैल में उसकी किशोर लड़की के साथ ऑनलाइन बातचीत शुरू हुई। लड़की के जन्मदिन के मौके पर वह उससे मिलना चाहता था।

 Bengaluru man who flew to UP to meet girl beaten
लड़की से मिलने फ्लाइट पकड़कर यूपी पहुंचा युवक। 

बरेली : बेंगलुरु से फ्लाइट पकड़कर हिंदू लड़की  से मिलने के लिए लखीमपुर खीरी पहुंचे एक मुस्लिम लड़के को पीटे जाने का मामला सामने आया है। इस मुस्लिम युवक की हिंदू लड़की से दोस्ती ऑनलाइन हुई थी। लड़की के परिवार वालों को इस बात की जानकारी होने पर उन्होंने लड़के को पीटा और फिर पुलिस के हवाले कर दिया। रात में युवक पुलिस हिरासत में रहा। वहीं, स्थानीय दक्षिणपंथी संगठन ने युवक पर 'लव जिहाद' कानून के तहत कार्रवाई करने का दबाव बनाया। शिकायत पर पुलिस रविवार शाम युवक को हिरासत में लेकर गई और अगले दिन निजी मुचलके पर उसे छोड़ दिया।

लड़की से ऑनलाइन हुई थी दोस्ती
मुस्लिम युवक (21) बेंगलुरु में इंजीनियर है। पिछले साल अप्रैल में उसकी किशोर लड़की के साथ ऑनलाइन बातचीत शुरू हुई। लड़की के जन्मदिन के मौके पर वह उससे मिलना चाहता था। इसलिए वह बेंगलुरू से फ्लाइट पकड़कर उससे मिलने के लिए लखनऊ पहुंचा। युवक अपने साथ उपहार-एक खिलौना, चॉकलेट और मिठाइयां लेकर आया था। लखनऊ से वह लड़की के घर के लिए रवाना हुआ। युवक जब लड़की के घर पहुंचा तो उसने परिवार वालों को अपना नाम बताया। थोड़ी देर में वहां आस-पड़ोस के लोग जुट गए। जानकारी होने पर स्थानीय दक्षिणपंथी संगठन के लोग भी आ गए। इसके बाद इन लोगों ने लड़के की पिटाई की। इनमें से एक ने 112 पर पुलिस को फोन किया। दक्षिणपंथी संगठन के लोगों ने पुलिस से युवक के खिलाफ 'जबरन धर्मपरिवर्तन' के आरोप में मामला दर्ज करने पर जोर दिया। 

देवरिया का रहने वाला है युवक
सदर कोतवाली के एसएचओ सुनील कुमार ने टीओआई को बताया, 'युवक को जब पुलिस स्टेशन लाया गया तो उसके पास, करीब 1500 रुपए और बेंगलुरु से लखनऊ का एक एयर टिकट था। लड़के ने बताया कि वह देवरिया का रहने वाला है और बेंगलुरु में काम करता है। वह लड़की से मिलने के लिए यहां आया था।' पुलिस अधिकारी ने कहा कि यहां पहुंचने पर उसे हिरासत में लिया गया क्योंकि लड़की के परिजनों ने उससे खतरे की आशंका जताई। हालांकि परिजन लड़के के खिलाफ शिकायत दर्ज कराना नहीं चाहते। पुलिस अधिकारी का कहना है कि दक्षिणपंथी संगठन चाहता था कि युवक के खिलाफ मामला दर्ज हो। 

निजी मुचलके पर युवक की हुई रिहाई
कुमार ने कहा, 'लड़की के घर वाले युवक के खिलाफ शिकायत दर्ज नहीं करना चाहते हैं। इसलिए कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं हुई। हमने धारा 151 के तहत उसका चालान किया। रात हो गई थी इसलिए हमने लड़के को थाने में रखा। सोमवार को लड़के को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया। कोर्ट ने युवक को निजी मुचलके पर रिहा करने का आदेश दिया।' 

युवक को एहतियातन हिरासत में रखा गया
लड़के को हिरासत में क्यों लिया गया, इस सवाल पर पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम उजागर न करने की शर्त पर टीओआई से कहा, 'केवल टिकट देखकर हम यह नहीं कह सकते कि वह केवल लड़की से मिलने के लिए आया था। हो सकता है कि वह किसी अन्य काम के लिए यहां आया हो। उसे एहतियातन हिरासत में लिया गया क्योंकि वह लड़की पर नजर रख सकता था और उसे नुकसान पहुंचा सकता था। लड़की के परिजनों ने उसके खिलाफ कोई शिकायत नहीं कि इसलिए उसे जमानत मिल गई।' 


 

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर