Kanpur : किडनैपिंग व मर्डर से फिर हिला कानपुर, इस बार 20 लाख की फिरौती के लिए हुई हत्या, कुएं से शव बरामद

Kanpur News: कानपुर में एक शख्स का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी गई, मामला मंगलवार का है। यह मामला तब चर्चा का विषय बना जब उसकी लाश एक कुएं से बरामद की गई।

kanpur crime news
कानपुर क्राइम न्यूज 

मुख्य बातें

  • कानपुर में एक बार फिर से किडनापिंग व मर्डर की खबर सामने आई है
  • आरोपियों ने 20 लाख की फिरौती की मांग करते हुए पीड़ित की हत्या कर दी
  • पीड़ित के परिजनों ने पुलिस पर कार्रवाई करने में ढिलाई बरतने का आरोप लगाया है

कानपुर : उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। हाल ही में लगातार जिस तरह से अपराध जगत से खबरें आई हैं उन्हें देखकर तो ये लाजिमी हो गया है। कानपुर अभी पिछली किडनैपिंग व मर्डर की वारदातों को भूला भी नहीं था कि अब एक बार फिर से यहीं से किडनैपिंग और मर्डर की खबर सामने आ रही है। 

ताजा खबर के मुताबिक एक शख्स का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी गई, मामला मंगलवार का है। यह मामला तब चर्चा का विषय बना जब उसकी लाश एक कुएं से बरामद की गई। पीड़ित ब्रजेश पाल को 16 जुलाई को कथित तौर पर भोगनीपुर से किडनैप किया गया था जिसके बाद उसका शव मंगलवार 28 जुलाई की शाम को कानपुर के कनखेड़ा गांव के देवरहट एरिया में एक कुएं से बरामद किया गया।

टोल प्लाजा में था मैनेजर

पाल कानपुर-झांसी हाईवे पर टोल प्लाजा में मैनेजर का काम करता था। 16 जुलाई को वह टोल प्लाजा गया और आधी रात तक वहीं रुका रहा। काफी रात हो जाने के कारण उसने रात वहीं गुजारने की सोची। सुबह के समय जब सुरक्षा गार्ड टोल प्लाजा पर पहुंचे तब उन्होंने उसे वहां नहीं पाया। उन्होंने पाल की खोज खबर शुरू कर दी।

20 लाख की फिरौती की डिमांड

जब उसके कजिन ने उसके नंबर पर कॉल किया तो एक अजनबी ने उसका फोन उठाया और फिरौती के तौर पर 20 लाख रुपए की मांग की। फोन कॉल की ऑडियो क्लिप लेकर पीड़ित के परिजन पुलिस के पास पहुंचे और कार्रवाई की गुहार लगाई। मंगलवार को पुलिस ने पड़ताल करते हुए एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया जो पुलिस को एक कुएं के पास लेकर गया जहां से पाल का शव बरामद किया गया।

सीएम ने लिया संज्ञान

इधर पाल के परिजनों ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उन्होंने कार्रवाई करने में छिलाई बरती जिसके कारण उसकी हत्या कर दी गई। उन्होंने ये भी बताया कि पाल के कजिन को थाने ले जाकर पुलिस ने पीटा भी था। इस मामले पर संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि पीड़ित परिवार को 5 लाख रुपए की राशि मुआवजे के तौर पर दी जाएगी।

अगली खबर