Sanjeet Murder Case: संजीत का शव बरामद करने में पुलिस नाकाम, आरोपियों को दोबारा रिमांड पर लेने की तैयारी

लैब टेक्नीशियन संजीत यादव की किडनैपिंग के बाद हत्या मामले में पुलिस अब उसका शव बरामद करने में नाकाम हो रही है। अब पुलिस दोबारा से उन आरोपियों को रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है।

kanpur sanjeet yadav murder case
कानपुर संजीत यादव मर्डर केस 

मुख्य बातें

  • संजीत यादव की हत्या के बाद यूपी पुलिस उसका शव ढ़ूंढ़ने में नाकाम
  • 22 जून को संजीत यादव का दोस्तों ने कर लिया था अपहरण
  • कानपुर के इस किडनैपिंग व मर्डर मामले से हिल गया शहर

कानपुर : लैब टेक्नीशियन संजीत यादव की किडनैपिंग के बाद हत्या मामले में पुलिस अब उसका शव बरामद करने में नाकाम हो रही है। जिन पांचों आरोपियों ने पुलिस की पूछताछ में ये कबूल किया था कि उन्होंने संजीत की किडनैपिंग कर हत्या की है पुलिस अब उनको फिर से रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है जिसके लिए कोर्ट में पुलिस ने आवेदन दिया है।  

इनमें से एक आरोपी को सोमवार को कोविड पॉजिटिव पाया गया जिसे कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है वहीं बाकी आरोपियों को भी चौबेपुर के टेम्प्रेरी जेल में क्वारंटीन कर दिया गया है। उसके संपर्क में आए पुलिसकर्मियों ने भी खुद को सेल्फ आइसोलेट कर लिया है। पुलिस को उम्मीद है कि उसकी टेस्ट रिपोर्ट गुरुवार तक आ जाएगी।

पुलिस को मृतक के शव के साथ-साथ उसका कोई सामान भी जैसे मोबाइल फोन, बैग, टिफिन बॉक्स, लैब डॉक्यूमेंट्स भी नहीं मिला है। सर्कल ऑफिसर ने बताया कि सबूत इकट्ठे करने के लिए हमें आरोपियों को फिर से रिमांड पर लेने की जरूरत है हमें उम्मीद है कि मंगलवार तक हमें इनकी रिमांड की अनुमति मिल जाएगी।

सीओ ने बताया कि पुलिस को छठे आरोपी सिमी की भी तलाश है जो फिलहाल फरार है। बता दें कि 23 जुलाई को 1 महिला सहित पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। उन सभी का कोविड सैंपल लेने के बाद सोमवार को पता चला था कि उनमें से एक कोविड पॉजिटिव है। संजीत को 22 जून को बर्रा थाना क्षेत्र से किडनैप किया गया था और अपहरणर्ताओं ने उसकी हत्या कर दी थी।

पुलिस के मुताबिक 26 या 27 जून को उसकी हत्या की गई थी और उसके शव को पांडू नदी के पास फेंक दिया गया था। मृतक के परिजनों का आरोप है कि अपहरणकर्ताओं ने उनसे 30 लाख की राशि भी ले ली और उनके बेटे की हत्या भी कर दी। पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी जिसके बाद 23 जुलाई को उन्हें गिरफ्तार किया गया था।


 

Kanpur News in Hindi (कानपुर समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर