सिब्बल ने उठाए पार्टी को लेकर गंभीर सवाल, कई कांग्रेसियों को नहीं आया पसंद, कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

कांग्रेस के सीनियर नेता कपिल सिब्बल ने पार्टी को लेकर कुछ सवाल उठाए तो कई कांग्रेस के नेता उनके खिलाफ बयान देने लगे और कार्यकर्ता उनके घर के बाहर प्रदर्शन करने पहुंच गए।

Congress
कपिल सिब्बल के घर के बाहर प्रदर्शन 

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता और G-23 के सदस्य कपिल सिब्बल ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पार्टी को लेकर कई सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी में कोई अध्यक्ष नहीं है। इसलिए हमें नहीं पता कि निर्णय कौन ले रहा है। उन्होंने पार्टी अध्यक्ष के चुनाव में देरी पर सवाल उठाते हुए कहा कि पार्टी ऐसी स्थिति में है जहां उसे नहीं होना चाहिए था। इसी को लेकर कई कांग्रेस नेताओं ने आपत्ति जताई है। यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उनके घर के सामने प्रदर्शन किया। ये कार्यकर्ता 'गेट वेल सून' की तख्तियां लेकर पहुंचे।

यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी ने सिब्बल की बातों को लेकर ट्वीट किया कि सुनिए 'जी-हुजूर':- पार्टी की 'अध्यक्ष' और 'नेतृत्व' वही है, जिन्होंने आपको हमेशा संसद पहुंचाया, पार्टी के अच्छे वक्त में आपको 'मंत्री' बनाया, विपक्ष में रहे, तो आपको राज्यसभा पहुंचाया, अच्छे-बुरे वक्त में सदैव जिम्मेदारियों से नवाजा और जब 'वक्त' संघर्ष का आया, तो...। 

छत्तीसगढ़ सरकार में मंत्री और कांग्रेस नेता टीएस सिंह देव ने कहा कि कपिल सिब्बल गुमराह कर रहे हैं। सोनिया गांधी जी पार्टी में निर्णय ले रही हैं। दुर्भाग्यपूर्ण है कि कपिल सिब्बल जैसे अनुभवी व्यक्ति को यह नहीं पता कि फैसले लिए जा रहे हैं। कांग्रेस की विचारधारा के लिए प्रतिबद्ध लोग कभी पार्टी नहीं छोड़ेंगे।

सिब्बल ने कहा कि हम 'जी हुजूर 23' नहीं हैं। यह बहुत स्पष्ट है। हम बात करते रहेंगे। हम अपनी मांगों को दोहराते रहेंगे। इस पर अजय माकन ने कहा कि सोनिया गांधी जी ने यह सुनिश्चित किया था कि संगठनात्मक पृष्ठभूमि न होने के बावजूद कपिल सिब्बल केंद्रीय मंत्रिमंडल में मंत्री बनें। पार्टी में सभी की बात सुनी जा रही है। श्री सिब्बल और अन्य लोगों को बताना चाहते हैं कि उन्हें उस संगठन को नीचा नहीं करना चाहिए जिसने उन्हें एक पहचान दी। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर