Bhupendra Patel: कौन हैं भूपेंद्र पटेल, जिसे BJP ने बनाया गुजरात का नया मुख्यमंत्री

Who is Bhupendra Patel: बीजेपी ने पाटीदार नेता भूपेंद्र पटेल को गुजरात का नया मुख्यमंत्री घोषित किया है। उन्हें काफी मिलनसार नेता बताया जाता है। हालांकि वो हाई प्रोफाइल नेता नहीं हैं।

Bhupendra patel
गुजरात के नए मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल 

मुख्य बातें

  • भूपेंद्र पटेल होंगे गुजरात के नये मुख्यमंत्री
  • भूपेंद्र पटेल पादीदार समुदाय से आते हैं
  • 2017 में उन्होंने घाटलोडिया विधानसभा सीट से चुनाव जीता था

Bhupendra Patel: भूपेंद्र पटेल गुजरात के नए मुख्यमंत्री चुने गए हैं। भूपेंद्र पटेल गुजरात में भाजपा विधायक दल के नए नेता चुने गए। वो विजय रूपाणी की जगह लेंगे। रूपाणी ने उनके नाम का प्रस्ताव रखा था, जिस पर मुहर लग गई। भूपेंद्र पटेल बीजेपी के सीनियर लीडर हैं। वो घाटलोडिया से विधायक हैं। वो 2017 में गुजरात में सबसे ज्यादा वोटों से जीतने वाले विधायक हैं। वो 1 लाख 17 हजार वोटों से विजयी हुए थे। उन्हें काफी मिलनसार नेता बताया जाता है। हालांकि वो हाई प्रोफाइल नेता नहीं हैं। 59 साल के पटेल 2017 के विधानसभा चुनाव में राज्य की घाटलोडिया सीट से चुनाव जीते थे। उन्होंने कांग्रेस के शशिकांत पटेल को हराया था।

पटेल अतीत में अहमदाबाद शहरी विकास प्राधिकरण (AUDA) के अध्यक्ष रह चुके हैं और अमदावद नगर निगम (AMC) की स्थायी समिति का भी नेतृत्व कर चुके हैं। उन्होंने गवर्नमेंट पॉलिटेक्निक अहमदाबाद से सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया है। 2017 के अपने चुनावी पेपर में उन्होंने 5 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति घोषित की थी। वह पटेल या पाटीदार समुदाय से ताल्लुक रखते हैं, जिसे कथित तौर पर बीजेपी अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले संतुष्ट करना चाहती है।

पटेल पाटीदार संगठन सरदार धाम और विश्व उमिया फाउंडेशन के ट्रस्टी हैं। उन्होंने 1999-2000 में मेमनगर नगर पालिका के अध्यक्ष, 2008-10 में एएमसी के स्कूल बोर्ड के उपाध्यक्ष और 2010-15 में थलतेज वार्ड के पार्षद के रूप में कार्य किया। उन्हें गुजरात की पूर्व सीएम आनंदीबेन पटेल का करीबी माना जाता है, जो घाटलोडिया से विधायक भी थीं।

नेता चुने जाने के बाद क्या बोले पटेल

पटेल को मृदुभाषी कार्यकर्ता के रूप में जाना जाता है, जिन्होंने नगरपालिका स्तर के नेता से लेकर प्रदेश की राजनीति में शीर्ष पद तक का सफर तय किया है। अपने समर्थकों के बीच वो दादा के नाम से पुकारे जाते हैं। विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद पटेल ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा और शाह के आभारी हैं जिन्होंने उन पर इतना भरोसा जताया। उन्होंने कहा कि निवर्तमान मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल, सी आर पाटिल तथा अन्य नेताओं समेत गुजरात के नेतृत्व ने उन पर जो विश्वास जताया है उसके लिए भी वह आभारी हैं। पटेल ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल का आशीर्वाद सदा उनके साथ है। उन्होंने कहा कि रूपाणी की सरकार ने बहुत अच्छा काम किया, जिससे विकास अंतिम व्यक्ति तक पहुंच सका। हम नए सिरे से योजना बनाएंगे और संगठन में चर्चा करेंगे, जिससे विकास कार्य को आगे ले जाया जा सके।

ये भी पढ़ें: भूपेंद्र पटेल होंगे गुजरात के नए मुख्यमंत्री, विधायक दल की बैठक में हुआ फैसला

गुजरात में करीब 20% पाटीदार वोटर्स हैं। राज्य में 50 से ज्यादा सीटें ऐसी हैं जिस पर पाटीदार वोटर्स जिसे चाहें उस पार्टी का कैंडिडेट जीत जाए। भूपेंद्र पटेल को आगे कर बीजेपी जरूर पाटीदारों के बीच अपने वर्चस्व को दोबारा कायम करने की कोशिश में है। फिलहाल वो रुपाणी सरकार में कोई मंत्री नहीं थे और अब सीधे मुख्मयंत्री होंगे।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर