Sushant Singh Case: सुशांत मामले में गहराया रहस्य, विसरा को ठीक ढंग से नहीं किया संरक्षित

देश
किशोर जोशी
Updated Sep 20, 2020 | 09:17 IST

फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में अब एम्स की टीम ने ऐसे संकेत दिए हैं कि उनके विसरा को ठीक ढंग से संरक्षित नहीं किया गया था। 

Sushant’s 'viscera not preserved properly & not in adequate quantity
सुशांत मामले में गहराया रहस्य, विसरा ठीक से संरक्षित नहीं 

मुख्य बातें

  • सुशांत मामले में मुंबई पुलिस या मेडिकल बोर्ड की ओर से लापरवाही बरतने के संकेत
  • दिवंगत बॉलीवुड स्टार का विसरा को ठीक से नहीं किया गया संरक्षित
  • मौत के कारणों का पता लगाने के लिए एम्स के फोरेंसिक विभाग में किया जा रहा था विसरा का परीक्षण

नई दिल्ली: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर लगातार सवाल उठ रहे हैं। सुशांत सिंह ने आत्महत्या की थी या उनकी हत्या हुई थी इसे लेकर अभी भी सवाल बना हुआ है। सीबीआई केस से जुड़े तमाम  लोगों से पूछताछ कर चुकी हैं। इन सबके बीच आज सुशांत सिंह राजपूत की विसरा रिपोर्ट सामने आ सकती है। फॉरेंसिक एक्सपर्ट्स की टीम आज एम्स के डॉक्टरों को सुशांत के विसरा की जांच रिपोर्ट सौंपने वाली है। लेकिन रिपोर्ट सबमिट होने से पहले ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि सुशांत के विसरा को ठीक तरह से संरक्षित नहीं किया गया था।

मुंबई पुलिस की लापरवाही उजागर!
मौत के कारणों का पता लगाने के लिए एम्स के फोरेंसिक विभाग में सुशांत के विसरा का परीक्षण किया जा रहा था। टाइम्स नाउ को मिली जानकारी के मुताबिक, एम्स की टीम ने इस बात के संकेत दिए हैं कि सुशांत के विसरा को ना तो ठीक ढंग से संरक्षित किया गया था और नहा ही पर्याप्त मात्रा में लिया गया था। अंतिम रिपोर्ट तैयार हो चुकी है। अगर विसरा लेने औऱ उसे संरक्षित करने में लापरवाही हुई है तो यह साफ दिखाता है कि महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस से यहां कितनी बड़ी चूक हुई है। महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने तो सुशांत की मौत के अगले दिन ही इसे आत्महत्या का मामला बता दिया था। खबरों की मानें तो विसरा को विकृत कर दिया गया जिसकी वजह से रासायनिक और विषाक्त (टॉक्सिकोलॉजिकल) विश्लेषण में मुश्किल आती है।

जिम्मेदार कौन

जब टाइम्स नाउ ने जब  मुंबई के कलीना स्थित फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला (एफएसएल) से संपर्क किया तो उन्होंने भी स्वीकार किया कि सुशांत के अवशेष ( विसरा, खून के नमूने और अन्य सामग्री )मिलने में देरी हुई थी। वहीं अगर एम्स की टीम यह साबित करती है कि सुशांत के विसरा संरक्षित करने में लापरवाही बरती गई तो फिर सवाल ये उठेगा कि आखिर इसका जिम्मेदार कौन है? इस मामले में शुरूआत से ही मुंबई पुलिस की भूमिका पर सवाल उठ रहे हैं।

एनसीबी भी कर रही है जांच

आपको बता दें कि सुशांत सिंह केस की जांच सीबीआई कर रही हैं। इसके साथ ही ड्रग कनेक्शन सामने आने के बाद  नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) भी जांच में जुट गया है। एनसीबी इस मामले में सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शोविक समेत 12 लोगों को अभी तक गिरफ्तार कर चुकी है। शुक्रवार को ही एनसीबी ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया और 1.4 किलोग्राम मादक द्रव्य जब्त किया ।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर