मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद पर कसा शिकंजा,ईडी की जांच में 19 बैंक खातों की जानकारी

मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद दोनों की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। ईडी को 19 ऐसे बैंक खातों का पता चला है जिसके जरिए अवैध कारोबार का खेल चल रहा था।

Mukhtar Ansari, Atiq Ahmed, Assembly Elections 2022, UP Assembly Elections 2022, Yogi Adityanath, Enforcement Directorate
मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद पर कसा शिकंजा,ईडी की जांच में 19 बैंक खातों की जानकारी 
मुख्य बातें
  • अतीक अहमद और मुख्तार अंसारी के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय जांच कर रहा है।
  • अतीक अहमद के 12 बैंक खातों के बारे में जानकारी सामने आई
  • मुख्तार अंसारी के सात बैंक खातों के बारे में पता चला

मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद की पहचान बताने की ज्यादा जरूरत नहीं है। दोनों बाहुबली हैं और जेल में बंद हैं। इन दोनों लोगों के खिलाफ कई तरह की जांच चल रही है जिसमें प्रवर्तन निदेशालय की जांच भी शामिल हैं। हाल ही में ई़डी की टीम ने बांदा जेल में मुख्तार अंसारी और साबरमती जेल में अतीक अहमद से पूछताछ की थी। ईडी की पूछताछ में दोनों के 19 बैंक खातों के बारे में जानकारी सामने आई है। 19 में से 12 बैंक खाते अतीक अहमद और सात बैंक खाते मुख्तार अंसारी के हैं। बताया जा रही है कि पीएमएलए के तहत दोनों की संपत्तियों को जब्त भी किया जा सकता है। 

जांच में सनसनीखेज जानकारी
बता दें कि अतीक अहमद की दो फर्मों  पर जिनमें से एक इलाहाबाद और दूसरी लखनऊ में है आरोप है कि उसके जरिए काले धन को सफेद किया जा रहा था। हाल ही में ईडी की टीम ने अतीक अहमद के बेटे उमर को भी पूछताछ के लिए बुलाया था लेकिन वो पेश नहीं हुआ। ईडी का कहना है कि मुख्तार और अतीक अहमद के बारे में और जानकारी इकट्ठा की जा रही है। 

क्या कहते हैं जानकार
जानकारों का कहना है कि अतीक अहमद और मुख्तार अंसारी के खिलाफ जिस तरह से कार्रवाई आगे बढ़ी है वैसी कार्रवाई कभी नहीं हुई। दोनों के खिलाफ कार्रवाई से उन लोगों को राहत मिली है जो लोग इनके द्वारा सताए गए थे। इसके साथ ही यूपी की योगी सरकार संदेश दे रही है कि उनके राज में यूपी में संगठित अपराध और पेशेवर अपराधियों के लिए जगह नहीं है। इसका सियासी मतलब भी है, हाल ही में मुख्तार अंसारी के एक भाई सपा में शामिल हुए थे। सपा के साथ हाल ही में ओम प्रकाश राजभर की पार्टी सुभासपा ने साथ चलने का फैसला किया है और बयान भी आया कि मुख्तार अंसारी जिस किसी भी सीट से चुनाव लड़ेंगे उनकी पार्टी पूरी तरह समर्थन करेगी।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर