Pranab Mukherjee Funeral : पंचतत्व में प्रणब दा विलीन, देश ने दी नम आखों से विदाई

Pranab Mukherjee Funeral Video: पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार किया गया। उनका सोमवार शाम को आर आर अस्पताल में लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था।

pranab mujherjee last rites
प्रणब मुखर्जी का अंतिम संस्कार  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार
  • सोमवार शाम को सेना के आरआर अस्पताल में हुआ निधन
  • उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट कर दी थी उनके निधन की जानकारी

नई दिल्ली : प्रणब मुखर्जी के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ आज (01 सितंबर) दोपहर दो बजे लोधी रोड श्मशान घाट पर किया गया। सोमवार को 84 वर्षीय पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी का लंबी बीमारी के बाद अस्पताल में निधन हो गया था। मुखर्जी को 10 अगस्त को दिल्ली के एक सेना अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां वे लंबे समय से गहरे कोमा में थे। सोमवार को अस्पताल के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन में कहा गया था कि वह गहरी कोमा में हैं और वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं हालांकि शाम होते-होते उनका स्वास्थ्य बिगड़ गया और उनके निधन की खबर आ गई।

सेना के अनुसंधान और रेफरल अस्पताल में 10 अगस्त को मस्तिष्क के थक्के के बाद उनकी ब्रेन सर्जरी की गई। ब्रेन सर्जरी के बाद उनकी स्वास्थ्य बिगड़ती चली गई और वे कोमा में चले गए। इस बीच उन्हें फेफड़ों का भी संक्रमण हो गया साथ ही कोरोनावायरस के टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए। कई दिनों से उन्हें वेंटीलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। 

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का अंतिम संस्कार

राजकीय सम्मान के साथ पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का अंतिम संस्कार किया जा रहा है। इस मौके पर उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी और परिवार के बाकी सदस्य पीपीई किट में मौजूद हैं।

प्रणब दा को अंतिम संस्कार के लिए लोधी श्मशान घाट लाया गया

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को अंतिम संस्कार के लिए लोधी श्मशान घाट लाया गया। उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी ने अंतिम संस्कार करेंगे।

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को उनके आवास 10 राजाजी मार्ग पर आखिरी विदाई दी।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आखिरी विदाई दी। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि यह हम सभी के लिए दुखद दिन है कि प्रणब दा अब हमारे साथ नहीं हैं। जो लोग राजनीति में आना चाहते हैं और बिना किसी विवाद के काम करना सीखते हैं, उन्हें अपने राजनीतिक जीवन का पालन करना चाहिए और उनका अनुसरण करना चाहिए।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दी आखिरी विदाई

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को उनके राजाजी मार्ग स्थित आवास पर अंतिम विदाई दी।

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी और सीपीआई नेता डी राजा दी आखिरी विदाई

दिल्ली: कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) नेता डी राजा ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के घर 10 राजाजी मार्ग पर उन्हें अंतिम विदाई दी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भी श्रद्धांजलि दी।

उन्हें हमेशा याद किया जाएगा- मोहन भागवत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि प्रणब मुखर्जी ने शून्य छोड़ गए। वह उदार और दयालु थे, भूल जाते थे कि मैं भारत के राष्ट्रपति से बात कर रहा हूं। राजनीतिक मतभेदों के बावजूद, सभी को अपना बनाना उनकी प्रकृति में था। उन्हें हमेशा याद किया जाएगा। 

उपराष्ट्रपति ने प्रणब दा को दी आखिरी विदाई

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को उनके राजाजी मार्ग स्थित आवास पर अंतिम विदाई दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को उनके राजाजी मार्ग स्थित आवास पर आखिरी विदाई दी। नीचे वीडियो देखें।

सेना प्रमुखों ने दी श्रद्धांजलि

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत, आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवने, एयरफोर्स चीफ एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया और नेवी चीफ एडमिरल करमबीर सिंह ने अपने घर पर पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को अंतिम विदाई दी।

अस्पताल से रवाना शव

शव को अस्पताल से रवाना कर दिया गया है। उन्हें फूलों से सुसज्जित एक वैन में 10 राजाजी मार्ग ले जाया जा रहा है जहां उनके पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन व पुष्पांजलि के लिए रखा जाएगा।

उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी ने कल ट्वीट करते हुए उनके निधन की जानकारी दी। उन्होंने लिखा- 'भारी मन से आपको सूचित कर रहा हूं कि मेरे पिता श्री प्रणव मुखर्जी का आरआर अस्पताल के डॉक्टरों के सर्वोत्तम प्रयासों और पूरे भारत में लोगों से प्रार्थना दुआ और प्रार्थनाओं के बावजूद निधन हो गया हैं! मैं हाथ जोड़ कर आप सभी का धन्यवाद करता हूँ।’

बता दें कि उनका पार्थिव शरीर राष्ट्रीय राजधानी में 10 राजाजी मार्ग स्थित उनके सरकारी आवास पर रखा जाएगा, ताकि जनता को उनके अंतिम सम्मान का अवसर मिल सके। रक्षा मंत्रालय के अनुसार, पुष्पांजलि समारोह सुबह 9:15 बजे शुरू होगा और 12 बजे समाप्त होगा। कोविड-19 की वजह से पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पार्थिव शरीर को खास शववाहन में ले जाया जाएगा।

पुष्पांजलि समारोह का कार्यक्रम कुछ इस तरह है:

आधिकारिक गणमान्य व्यक्तियों के लिए सुबह 9:15 बजे से 10:15 बजे तक। सुबह 10:15 बजे से 11 बजे तक अन्य गणमान्य लोग। आम जनता के लिए सुबह 11:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक।

7 दिनों का राजकीय शोक

रक्षा मंत्रालय ने यह भी कहा कि COVID-19 के मद्देनजर स्वास्थ्य मंत्रालय और गृह मंत्रालय द्वारा जारी सभी प्रोटोकॉल / दिशानिर्देशों का पालन किया जाएगा। आपको बता दें कि सरकार ने पूर्व राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि देने के लिए देश में सात दिनों के राजकीय शोक की घोषणा की है। इसे लेकर राष्ट्रपति भवन में तिरंगे झंडे को आधा झुका दिया गया है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर