हरीश रावत ने माना-पंजाब कांग्रेस में सब कुछ 'ऑल इज वेल' नहीं, CM बदलने पर बात नहीं हुई 

Punjab Congress crisis: पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत ने माना है कि पार्टी में सबकुछ ठीक नहीं है। उन्होंने CM कैप्टन अमरिंदर सिंह और प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को साथ मिलकर काम करने के लिए कहा है।

Harish Rawat says everything is not all is well in Punjab Congress
हरीश रावत ने कहा है कि पंजाब कांग्रेस का संकट सुलझ जाएगा। 

मुख्य बातें

  • पंजाब कांग्रेस में चल रहे टकराव पर हरीश रावत ने कई सवालों के दिए जवाब
  • हरीश रावत ने माना है कि पंजाब कांग्रेस में सब कुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है
  • प्रदेश कांग्रेस प्रभारी ने कहा कि कैप्टन और सिद्धू को मिलकर काम करना होगा

चंडीगढ़ : पंजाब कांग्रेस में संकट अभी खत्म नहीं हुआ है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के दिल्ली आने के बाद राज्य के प्रभारी हरीश रावत ने भी बड़ा बयान दिया है। रावत ने गुरुवार को कहा कि 'प्रदेश कांग्रेस में अभी सब कुछ 'ऑल इज वेल' नहीं है लेकिन पार्टी इस दिशा में आगे बढ़ रही है।' कांग्रेस नेता ने कहा कि पंजाब के हित में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और सिद्धू को मिलकर काम करना होगा। ऐसा नहीं करने पर दोनों नेताओं को नुकसान होगा। रावत ने कहा कि सीएम बदलने के मुद्दे पर मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से उनकी कोई बात नहीं हुई।   

समस्याओं को हम सुलझा लेंगे-रावत
पंजाब कांग्रेस में मचे उथल-पुथल पर मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत में पंजाब के प्रभारी ने कहा, 'कांग्रेस में सब कुछ 'ऑल इज वेल' है, यह तो मैं नहीं कहूंगा लेकिन हम इस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। सारी चीजों को हम सुलझा लेंगे। जो थोड़े बहुत सवाल हैं उन्हें हल करने की कोशिश हो रही है। राज्य में सीएम बदलने पर कोई बात नहीं हुई है। बहुत सारी एसी चीजें हैं जिनका समाधान नहीं हो पाया है लेकिन आगे उनका हल निकाला जाएगा।'

'पंजाब के हित में साथ मिलकर काम करें कैप्टन और सिद्धू'
इस सवाल पर कि क्या कैप्टन और सिद्धू एक साथ काम कर पाएंगे। इस पर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी ने कहा, 'दोनों लोगों को मिलकर काम करना है, इसी में दोनों का हित है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो एक के सामने जीवन की बहुत भारी चुनौती होगी और दूसरे के सामने पूरा भविष्य पड़ा है। ऐसा नहीं करने से दोनों को नुकसान होगा। सबसे ज्यादा नुकसान उन लोगों को होगा जो इस समय ताकतवर स्थिति में हैं।'

'सिद्धू ने मुझसे कोई शिकायत नहीं की'
दिल्ली में आकर पार्टी हाईकमान से सिद्धू के मिलने के सवाल पर रावत ने कहा कि यह अच्छी बात है। यहां वह मुझसे मिले। मुझसे बात की। पार्टी ने जो उनसे उम्मीद की है, वह काम सिद्धू कर रहे हैं। उन्होंने सभी कार्यों का ब्योरा दिया है। इन सब पर हमारी बातचीत हुई है। मुझसे उन्होंने कोई शिकायत नहीं की है।' 

'अविश्वास प्रस्ताव की बात करने वाले पहले अपनी पार्टी देखें'
पंजाब विधानसभा का सत्र शुरू होने वाला है। ऐसी चर्चा है कि सरकार के खिलाफ अगर अविश्वास प्रस्ताव आता है तो सिद्धू अपने गुट के साथ अलग हो सकते हैं। इस पर रावत ने कहा कि इस तरह की कोई बात नहीं है और जो लोग ऐसी बात कर रहे हैं, पहले वे अपनी पार्टी देखें। अमरिंदर सरकार की प्रशंसा करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन ने कुछ ऐसे काम किए हैं, जिनकी जितनी प्रशंसा की जाए वह कम है। हम इन कार्यों की प्रशंसा नहीं कर पाए। ये अमरिंदर सिंह सरकार की ही देन है कि वो बरगाड़ी का मामला सीबीआई के चंगुल से बाहर ले आए।

(विशेष संवाददाता रंजीता झा की रिपोर्ट)

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर