AEFI समिति ने कोरोना टीका लगने के बाद पहली मौत की पुष्टि की, व्यक्ति को हुई एनाफिलेक्सिस बीमारी

राष्टीय AEFI समिति के चेयरपर्सन डॉ. एनके अरोड़ा ने मिरर नाउ से बातचीत में कहा, 'हां, यह मौत का पहला केस है। हमने जांच के बाद पाया है कि टीकाकरण के बाद व्यक्ति एनाफिलेक्सिस से पीड़ित हुआ और इससे उसकी मौत हुई।'

First death due to Vaccination confirmed by AEFI panel
AEFI समिति ने कोरोना टीका लगने के बाद पहली मौत की पुष्टि की।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • एईएफआई समिति का कहना है कि तीन मामले वैक्सीन प्रोडक्ट से जुड़े हुए थे
  • एनाफिलैक्सिस से पीड़ित दो लोग अस्पताल में इलाज के बाद ठीक होकर लौटे
  • समिति ने एनाफिलैक्सिस बीमारी से एक व्यक्ति की मौत होने की पुष्टि की है

नई दिल्ली : सरकार की एक समिति ने कोविड-19 का टीका लगाए जाने के बाद एनाफिलेक्सिस बीमारी से एक व्यक्ति की मौत होने की पुष्टि की है। एईएफआई समिति की रिपोर्ट में कहा गया है कि 68 साल के व्यक्ति जिसे आठ मार्च 2021 को कोरोना का टीका लगा था उसकी एनाफिलेक्सिस बीमारी से मौत हुई। एनाफिलेक्सिस होने पर शरीर में भारी एलर्जी होती है, इसके बाद शरीर अतिसंवेदनशील हो जाता है। टीककरण के बाद होने वाली 31 लोगों में पैदा हुईं गंभीर शारीरिक दिक्कतों की जांच में एडवर्स इवेंट्स फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन (AEFI) ने पाया कि एक व्यक्ति की मौत एनाफिलेक्सिस से हुई। 

वैक्सीन प्रोडक्ट से जुड़े रिएक्शंस भी आए सामने
राष्टीय एईएफआई समिति के चेयरपर्सन डॉ. एनके अरोड़ा ने मिरर नाउ से बातचीत में कहा, 'हां, यह मौत का पहला केस है। हमने जांच के बाद पाया है कि टीकाकरण के बाद व्यक्ति एनाफिलेक्सिस से पीड़ित हुआ और इससे उसकी मौत हुई।' एईएफआई की रिपोर्ट में कहा गया है कि तीन मामले वैक्सीन प्रोडक्ट से रिलेटेट पाए गए। रिपोर्ट के मुताबिक, 'वैक्सीन प्रोडक्ट से जुड़े रिएक्शंस नई बात नहीं है। एनाफिलेक्सिस के अन्य दो मामलों में वैक्सीन 19 जनवरी एवं 16 जनवरी को दी गई थी लेकिन ये दोनों मरीज अस्पताल में भर्ती होने के बाद ठीक हो गए।'

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर