'आपको फ्री हैंड है, संक्रमण कम करने के लिए जो करना पड़े, करें', अधिकारियों से PM मोदी बोले

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मौजूद नौ राज्यों के 46 जिलाधिकारियों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने अधिकारियों से कोरोना महामारी से निपटने में अपने अनुभव एवं निष्कर्षों को साझा करने के लिए कहा।

Continuous efforts being made to ramp up vaccine supply: PM Modi to officers
कोरोना प्रभावित जिलों के अधिकारियों से पीएम मोदी ने की बात।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • कोरोना प्रभावित राज्यों एवं जिलों के अधिकारियों से पीएम मोदी ने की बात
  • प्रधानमंत्री ने कहा कि संक्रमण रोकने के लिए जो कदम उठाना हो, उठाएं
  • कोरोना से निपटने में अधिकारियों से अपने अनुभव साझा करने के लिए कहा

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोरोना महामारी से सर्वाधित प्रभावित राज्यों एवं जिलों के अधिकारियों के साथ ऑनलाइन बातचीत की। इस बातचीत के दौरान पीएम ने कहा कि सभी जिलों की अपनी चुनौतियां हैं और कोरोना महामारी की चुनौतियों से निपटने में सभी को अहम भूमिका निभानी है। अधिकारियों को 'फील्ड कमांडर्स' बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि स्थानीय स्तर पर कंटेनमेंट जोन बनाकर, बड़े पैमाने पर टेस्टिंग और हालात के बारे में लोगों को पूरी जानकारी देकर कोरोना महामारी को हराया जा सकता है। पीएम ने कहा कि अधिकारी अपने-अपने जिलों में कोविड संक्रमण को कम करने के लिए जो करना पड़े, वो कदम उठाएं। उन्‍होंने कहा कि 'मेरी तरफ से आपको पूरी छूट है।'

पीएम ने कहा-प्रत्येक जिले की अपनी अलग चुनौती
अलग-अलग जिलों के अधिकारियों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, 'प्रत्येक जिले की अपनी अलग चुनौतियां हैं। हमारा उद्देश्य इस महामारी को हराने का होना चाहिए। इस लड़ाई में आप सभी की अहम भूमिका है। एक तरीके से आप लोग फील्ड कमांडर हैं। टेस्टिंग की संख्या बढ़ाकर, केंटेनमेंट जोन का निर्माण कर और लोगों के साथ सही सूचनाएं साझा कर इस महामारी को हराया जा सकता है। साथ ही इलाकों में मेडिकल उपकरणों एवं दवाओं की जमाखोरी पर रोक लगाने की जरूरत है।'

अधिकारियों से अनुभव साझा करने के लिए कहा
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मौजूद नौ राज्यों के 46 जिलाधिकारियों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने अधिकारियों से कोरोना महामारी से निपटने में अपने अनुभव एवं निष्कर्षों को साझा करने के लिए कहा। साथ ही उन्होंने कहा कि अधिकारियों को यदि लगता है कि कोरोना प्रबंधन की राष्ट्रीय नीति में यदि कोई सुधार या बदलाव करने की जरूरत है तो वे इस बारे में भी अपने सुझाव दें। उन्होंने कहा, 'अपने अनुभव साझा करना जरूरी हैं ताकि एक सफल मॉडल विकसित किया जा सके। महामारी के दौरान हमें समाज के सभी वर्गों का ख्याल रखना है इसलिए हमें इसके अनुरूप रणनीति भी बनानी होगी।'

टीकाकरण अभियान में लाई जा रही तेजी
कोरोना टीकाकरण अभियान पर प्रधानमंत्री ने कहा कि लोगों की इसके प्रति जागरूकता बढ़ाने और इसे लेकर जो गलत बातें फैलाई जा रही हैं उसे दूर करने की जरूरत है। पीएम ने कहा कि टीकाकरण अभियान तेज करने और राज्यों को टीके का स्टॉक 15 दिन पहले उपलब्ध कराने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह सहित कई राज्यों के मुख्यमंत्री उपस्थित थे।    

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर