उत्तराखंड में इस बार सियासी त्रिकोण, भू-कानून पर BJP, कांग्रेस और AAP में जोरदार बहस 

Times Now Navbharat Navnirman Manch Uttarakhand Conclave: भू-कानून पर भाजपा पर निशाना साधते हुए प्रतिमा सिंह ने कहा कि कांग्रेस शुरू से ही मौजूदा भू-कानून के खिलाफ रही है। लोगों की जमीन पर कब्जा हो रहा है।

BJP Congress and AAp discuss land law in Navbharat Navnirnman manch Uttarakhand
नवभारत नवनिर्माण मंच पर जुटे सियासी दिग्गज। 
मुख्य बातें
  • कांग्रेस का निशाना- डबल इंजन की सरकार में तीन-तीन इंजन बदल चुके हैं, मॉडल हुआ फेल।
  • भू-कानून पर सशक्त कानून चाहती हैं कांग्रेस, लोगों की जमीन पर कब्जा हो रहा है।
  • भाजपा की दलील- सरकार ने रोजगार के अवसर बढ़ाने की सोच के साथ भू-कानून को लचीला बनाया है।

Times Now Navbharat Navnirman Manch Uttarakhand: उत्तराखंड में विधानसभा चुनावों के लिए सरगर्मी तो बढ़ी हुई है। राजनीतिक दल एक दूसरे को घेरने और निशाना साधने का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहते। राज्य में इस बार आम आदमी पार्टी ने मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है। इस बार उत्तराखंड में त्रिकोणीय मुकाबला होने की उम्मीद जताई जा रही है। टाइम्स नाउ नवभारत के 'नवभारत नवनिर्माण मंच उत्तराखंड' कॉन्क्लेव में भाजपा, कांग्रेस और आप तीनों दलों के बीच गरमागरम बहस देखने को मिली। तीनों ही दलों ने एक दूसरे पर निशाना साधते हुए अपनी जीत का दावा किया। इस कॉन्क्लेव में भाजपा की ओर से दीप्ति रावत भारद्वाज, कांग्रेस की ओर से डॉ. प्रतिमा सिंह और AAP से उत्तराखंड के प्रभारी दिनेश मोहनिया शामिल हुए। 

भू-कानून पर जोरदार बहस
कार्यक्रम की शुरुआत भू-कानून पर चर्चा से हुई। आप के प्रभारी मोहनिया ने कहा कि भू-कानून को लेकर हम सशक्त कानून चाहते हैं। लोगों की जमीन पर कब्जा हो रहा है। डॉ. प्रतिमा सिंह ने कहा कि कांग्रेस भी मानती हैं कि राज्य में सशक्त भूमि कानून होना चाहिए। 2017 में सत्ता में आने के बाद भाजपा सरकार ने भू-कानून को कमजोर किया। जबकि भाजपा महासचिव दीप्ति रावत ने कहा कि भू-कानून में संशोधन करने के पीछे सरकार की एक सोच थी। सरकार ने रोजगार के अवसर बढ़ाने की सोच के साथ भू-कानून को लचीला बनाया।   

भ्रष्टाचार के मुद्दे पर उत्तराखंड कांग्रेस- बीजेपी के अध्यक्ष में तीखी नोक-झोंक, लगे गंभीर आरोप

हम कानून के खिलाफ सड़क पर उतरे-कांग्रेस 
भू-कानून पर भाजपा पर निशाना साधते हुए प्रतिमा सिंह ने कहा कि कांग्रेस शुरू से ही मौजूदा भू-कानून के खिलाफ रही है। हमारे विधायक मनोज रावत ने सदन में इस कानून का विरोध किया। कांग्रेस देहरादून में सड़क में उतरी। उत्तराखंड कांग्रेस के सभी नेताओं ने इस कानून का विरोध किया है। जबकि मोहनिया को घेरते हुए भाजपा नेता दीप्ति ने कहा कि दिल्ली का मॉडल फेल हो गया है। मोहल्ला क्लिनिक की वजह से लोगों की मौत हो रही है।

विकास कार्यों पर कांग्रेस नेता काजी ने उठाए सवाल तो हरक सिंह रावत बोले-ये लोग आंकड़ेबाज

'डबल इंजन की सरकार में तीन-तीन इंजन बदले'
उत्तराखंड के इंचार्ज दिनेश मोहनिया ने कहा कि डबल इंजन की सरकार में तीन-तीन इंजन बदल चुके हैं। तीन-तीन सीएम बदले। इस राज्य को रोजगार चाहिए। आप नेता ने उत्तराखंड को आध्यात्मिक राजधानी बनाने की सीएम केजरीवाल की घोषणा का बचाव किया। मोहनिया ने कहा कि आध्यात्मिक राजधानी बनने से उत्तराखंड में पर्यटन, रोजगार के अवसर बनेंगे। कांग्रेस के विजन के बारे में प्रतिमा सिंह ने कहा कि राज्य में विकास कार्य कांग्रेस के शासन में हुआ है। भाजपा का डबल इंजन का जुमला फेल चुका है। इन्होंने महंगाई, बेरोजगारी दूर करने का वादा किया था। भाजपा के पास जनता को दिखाने के लिए कोई रिपोर्ट कार्ड नहीं है। भाजपा का जनाधार राज्य में नहीं है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर