दिल्ली में किया नवनीत राणा ने हनुमान चालीसा का पाठ, पति रवि राणा और समर्थकों संग पहुंची CP के मंदिर में

अमरावती की सांसद नवनीत राणा ने दिल्ली के कनॉट पैलेस के हनुमान मंदिर में हनुमान चालीसा का पाठ किया। उनके साथ उनके पति और महाराष्ट्र के विधायक रवि राणा भी मौजूद रहे।

Amravati MP Navneet Rana recites Hanuman Chalisa at Hanuman Temple, CP in Delhi
Delhi में Hanuman Chalisa का पाठ करती हुईं नवनीत राणा  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • Delhi में Hanuman Chalisa के लिए Navneet Rana का पैदल मार्च
  • हनुमान मंदिर में नवनीत राणा का चालीसा पाठ
  • पति रवि राणा और समर्थकों संग हनुमान मंदिर में की पूजा-पाठ

Hanuman Chalisa and Navneet Rana: दिल्ली में हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए अमरावती की सांसद नवनीत राणा ने पहले पैदल मार्च निकाला और फिर कनॉट पैलेस के प्रसिद्ध हनुमान मंदिर के दर्शन कर अपने पति रवि राणा तथा समर्थकों संग हनुमान चालीसा का पाठ किया। इस दौरान नवनीत के पति रवि राणा के अलावा बड़ी संख्या में उनके समर्थक भी मौजूद रहे। महाराष्ट्र के सीएम के घर के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए नवनीत राणा को अप्रैल में मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। बाद में वह जमानत पर बाहर आईं।

किया था ऐलान

इससे पहले नवनीत राणा ने ऐलान किया था कि वह शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी के कनॉट प्लेस में हनुमान मंदिर में हनुमान चालीसा के पाठ का नेतृत्व करेंगी और शिवसेना के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार के शासन से महाराष्ट्र को ‘बचाने’ के लिए प्रार्थना करेंगी। वहीं आज ही उद्धव ठाकरे का मुंबई में एक जनसभा को संबोधित करने का भी कार्यक्रम है। हनुमान चालीसा पाठ करने को लेकर विवाद के बाद राजद्रोह के आरोपों का सामना कर रहीं निर्दलीय सांसद नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा ने विवादास्पद कानून पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा रोक लगाये जाने का स्वागत किया।

नवनीत राणा की मुश्किलें नहीं हो रहीं कम, अब लीलावती अस्पताल ने दर्ज कराई FIR, ये है कारण

हो चुकी हैं गिरफ्तार

आपको बता दें कि राणा दंपति को 23 अप्रैल को भारतीय दंड संहिता की धारा 153 (ए) और 124-ए के तहत गिरफ्तार किया गया था, जब उन्होंने घोषणा की थी कि वे उपनगरीय बांद्रा स्थित ठाकरे के निवास के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। जमानत पर रिहा होने के तुरंत बाद उनकी चिकित्सीय जांच हुई थी। नवनीत राणा ने कहा था ‘अंग्रेज स्वतंत्रता सेनानियों को निशाना बनाने के लिए राजद्रोह कानून लाए। सिर्फ हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए हम पर राजद्रोह का आरोप लगाया गया था। हमें आज उच्चतम न्यायालय से न्याय मिला है। मैं इसके लिए अदालत, कानून मंत्री और प्रधानमंत्री को धन्यवाद देती हूं।’

BMC ने नवनीत राणा को जारी किया नया नोटिस, 7 दिन में मांगा जवाब, अवैध निर्माण पर कार्रवाई की बात कही

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर