नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों पर पहली बार बोले CM योगी, इंटरव्यू में दिया हर सवाल का जवाब

Uttar Pradesh News : भाजपा संगठन के वरिष्ठ नेताओं की लखनऊ में विधायकों, मंत्रियों और उपमुख्यमंत्रियों के साथ हुई बैठकों के बाद नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों ने जोर पकड़ा है। इस पर सीएम योगी ने अपनी बात रखी है।

 Yogi Adityanath speaks about leadership change in UP in Exclusive interview
नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों पर पहली बार बोले CM योगी। 

मुख्य बातें

  • आरएसएस एवं पार्टी संगठन के नेताओं के दौरे एवं बैठकों के बाद लगनी शुरू हुईं अटकलें
  • नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिया स्पष्ट जवाब
  • सीएम योगी ने कहा कि 2022 का विधानसभा चुनाव दो-तिहाई बहुमत के साथ जीतेंगे

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के वरिष्ठ नेताओं के दौरों एवं बैठकों के बाद राज्य में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों ने जोर पकड़ा है। मीडिया में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर कई तरह की चर्चाएं हैं लेकिन इन अटकलों एवं चर्चाओं पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहली बार बयान दिया है। टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में सीएम योगी ने नेतृत्व परिवर्तन से लेकर कोरोना संक्रमण और आगामी विधानसभा चुनाव के बारे में खुलकर अपनी बात रखी है। 

नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों पर बोले
नेतृत्व परिवर्तन के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ लोग इन दौरों एवं बैठकों को एक अलग नजरिए से देख रहे हैं और उसे एक राजनीतिक रंग देने की कोशिश में हैं। इस तरह की बातें आधारहीन हैं। उन्होंने कहा, 'नेतृत्व परिवर्तन पर अटकलें लगाना मीडिया की पेशेवर बाध्यता है। वह आकर्षक हेडलाइन एवं ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंच बनाने के लिए चीजों को बढ़ाचढ़ाकर और सनसनीखेज तरीके से पेश करता है।'

'भाजपा में इस तरह की बैठकें नई नहीं'
सीएम योगी ने आगे कहा, 'भाजपा में इस तरह की बैठकें नई नहीं हैं। भाजपा एक कैडर आधारित पार्टी है। इसमें भाई-भतीजावाद के लिए कोई जगह नहीं है। पार्टी अपने कार्यकर्ताओं को एक्टिव रखती है। इसलिए पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रत्येक दो महीने के बाद मिलते हैं और राज्य इकाई के नेताओं के साथ बैठक करते हैं। हमारे राज्य के भाजपा प्रभारी एवं पार्टी के उपाध्यक्ष राधा मोहन सिंह महीने में दो बार यूपी की यात्रा पर आते हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने खुद चार महीने पहले लखनऊ का दौरा किया।'

'लोगों की सेवा करने में विपक्ष नदारद'
सीएम ने कहा, 'एक सत्ताधारी पार्टी के रूप में हम लोगों को राहत पहुंचाने के लिए कई सेवाएं दे रहे हैं। ऐसा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अध्यक्ष जेपी नड्डा के निर्देश पर हो रहा है। चाहे वह कोरोना की पहली लहर हो या दूसरी भाजपा और संघ के कार्यकर्ता अपनी सेवाएं देते आए हैं। लोगों की सेवा करने में अन्य राजनीतिक दल कहीं दिखाई नहीं दे रहे।'

दो तिहाई बहुमत से जीतेंगे 2022 का चुनाव-सीएम योगी
अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के बारे में सीएम ने कहा, 'हम किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए तैयार हैं। हमने 2014 का लोकसभा चुनाव जीता, इसके बाद 2017 में विधानसभा के चुनाव में हमें जीत मिली। फिर 2019 का लोकसभा चुनाव जीता। हम केवल कोरोना वायरस से ही लड़ाई नहीं लड़ रहे बल्कि हमारी लड़ाई 'राजनीतिक संक्रमण' से भी है। हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में यह लड़ाई जीतेंगे। 2022 का विधानसभा चुनाव भाजपा दो-तिहाई बहुमत के साथ जीतेगी।'

'लाइमलाइट में रहने की कोशिश में हैं प्रियंका गांधी'
विभिन्न मुद्दों पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की ओर से लिखे जाने वाले पत्र के बारे में सीएम आदित्यनाथ ने कहा, 'वह लाइमलाइट में रहने की कोशिश कर रही हैं। अन्य मीडिया में बने रहने के लिए केवल ट्वीट कर रहे हैं। कोरोना की पहली और दूसरी लहर के दौरान ये लोग कहां थे? लोगों की सेवा में ये लोग कहीं नहीं दिखाई दिए। लोगों की सेवा करना उनके स्वभाव में नहीं है।'

योगी बोले-मेरी आज भी कोई महात्वाकांक्षा नहीं
सीएम योगी ने अपनी 'राष्ट्रीय महात्वकांक्षा' को भी खारिज किया। उन्होंने कहा, 'मैं जब सांसद था तब भी मेरी कोई महात्वाकांक्षा नहीं थी। मेरी आज भी कोई महात्वाकांक्षा नहीं है। मैं पार्टी का एक 'साधारण सिपाही' हूं जो भाजपा के विजन एवं राज्य की समृद्धि, सुरक्षा एवं विकास के लिए पीएम मोदी के अभियान के अनुरूप काम कर रहा हूं। गत चार वर्षों में उत्तर प्रदेश ने जो उपलब्धि हासिल की है उसे देखकर खुश होने से बड़ा कोई और चीज नहीं है।' मुख्यमंत्री ने इस बात की जिक्र किया कि कोरोना महामारी के बावजूद राज्य ने अपनी बुनियादी संरचनाओं को मजबूत करने के साथ-साथ आर्थिक वृद्धि बनाए रखने में सफल हुआ है। 

'यूपी में हुए बदलावों को हर कोई देख सकता है'
उन्होंने कहा, 'पिछले चार साल में यूपी में हुए बदलावों को हर कोई देख सकता है। यूपी अब ऐसा राज्य नहीं है जहां हर सप्ताह कोई न कोई दंगा होता था। राज्य में जाति, समुदाय और भाषा के आधार पर कोई भेदभाव नहीं है। आने वाले समय में प्रति व्यक्ति आय के हिसाब से यूपी देश का अग्रणी राज्य होगा।'

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर