हमने न किसी को 'कन्वर्ट' किया, न ही किसी का कुछ छीना और लूटा- बोले RSS चीफ मोहन भागवत

देश
अभिषेक गुप्ता
अभिषेक गुप्ता | Principal Correspondent
Updated Sep 26, 2022 | 07:04 IST

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख ने ये बातें रविवार (25 सितंबर, 2022) को नॉर्थ ईस्ट में मेघालय के शिलॉन्ग में कहीं।

Mohan Bhagwat, RSS, India, Sri Lanka
सभा को संबोधित करते हुए RSS चीफ मोहन भागवत।   |  तस्वीर साभार: IANS
मुख्य बातें
  • हमारे पूर्वजों ने और मुल्कों को बनाया बेहतर- भागवत
  • "ज्ञान के रूप में सिखाया गणित, विज्ञान और आयुर्वेद"
  • बोले RSS चीफ जो उन्होंने किया, हम भी वही कर रहे

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) चीफ मोहन भागवत ने कहा है कि उनके पुरखों ने कभी किसी को जीता नहीं और न ही दूसरों को कन्वर्ट (धर्म बदलने के लिए कहा हो या मजबूर किया हो) किया। उन्होंने तो दुनिया के मुल्कों को और अच्छा बनाया और उन्हें कई चीजें ज्ञान के रूप में दीं। हमने किसी का कुछ लूटा और छीना भी नहीं और हम आज भी उसी राह पर हैं।

शिलॉन्ग में रविवार (25 सितंबर, 2022) को उन्होंने कहा- हमारे पूर्वजों ने बहुत बड़े-बड़े काम किए। जब जाने-आने के साधन नहीं थे, तब हिमालय पार कर गए। वे तब जापान और कोरिया तक गए। इधर साइबेरिया और मेक्सिको तक गए। जहां गए, वहां किसी को जीता नहीं। सबको अच्छा बनाया। इंडोनेशिया और बाली तक गए, पर कभी किसी देश को जीता नहीं, न ही किसी को कन्वर्ट किया। 

बकौल भागवत, "लोग जैसे थे, वैसे उन्हें ज्ञान दिया। उन्हें गणित, विज्ञान और आयुर्वेद पढ़ाया-सिखाया...जो स्तर था, उससे अच्छा बनाया। आज भी हम वही कर रहे हैं। भारत के लोग जब उन मुल्कों में जाते हैं, तब वे उसे आदरपूर्वक नमस्कार करते हैं, क्योंकि हमने किसी का कभी किसी का कुछ लिया नहीं। छीना नहीं और लूटा नहीं।"

पड़ोसी मुल्क के हालात का जिक्र करते हुए वह आगे सवालिया लहजे में बोले- हमने हमेशा दिया ही दिया है। आज भी हम वही करते हैं। आप बताइए कि श्रीलंका को संकट के समय में किसने मदद की, किसने उसे लोन दिया? हमने दिया। वह जब फंस गया, तब भारत ने उसे कर्जा दिया। और किसी ने नहीं दिया। बाकी लोग तो टीका का व्यापार कर रहे थे, पर महामारी काल में किसने दुनिया को कोरोना वैक्सीन दी? हमने दी। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर