Uttarakhand Cloudburst: टिहरी के देवप्रयाग में बादल फटने से भारी तबाही,  गृह मंत्री शाह ने फोन पर जाने हालात

Cloudburst in Devprayag:शांता नदी के उपरी छोर पर दशरथ डांडा पर्वत नामक स्थान पर बादल फटने से नदी ने विकराल रूप धारण कर लिया। नदी में आए मलबे ने देवप्रयाग कस्बे में भारी तबाही मचाई।

Cloudburst in Devprayag
उजाला होने के कारण शहर में मलबा घुसने से पहले ही लोग दुकानों को छोड़कर बाहर आ गए 

मुख्य बातें

  • शांति बाजार में बडी-बडी इमारतों और दुकानों में मलबा घुस गया
  • नगर पालिका के बहुद्देशीय भवन समेत दो भवन जमींदोज हो गए
  • गृह मंत्री शाह ने उत्तराखंड सीएम से बात कर सहायता का आश्वासन दिया

नयी टिहरी: उत्तराखंड के टिहरी (Tehri) जिले के देवप्रयाग क्षेत्र (Devprayag) में मंगलवार शाम बादल फटने (Cloudburst) से मची तबाही में पूरा क्षेत्र मलबे से पट गया और उसमें दो भवन जमींदोज हो गए ।घटना में कई इमारतें और दुकानें पूर्णरूप से क्षतिग्रस्त हुई हैं । हांलांकि, घटना में किसी जनहानि की सूचना नहीं है।पुलिस और राज्य आपदा मोचन बल (SDRF) की टीम घटनास्थल पर पंहुची और बचाव अभियान शुरू किया।

उन्होंने बताया कि पूरा क्षेत्र मलबे से पट गया है जबकि पैदल पुल का भी कहीं अता पता नहीं है। इसके अलावा बिजली की लाइन, पेयजल लाइन व अन्य परिसंपत्तियों को भी भारी नुकसान की सूचना है।

थानाध्यक्ष ने बताया कि शांति बाजार में बडी-बडी इमारतों और दुकानों में मलबा घुस गया और वे पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो गयीं । थाना पुलिस द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए क्षतिग्रस्त इमारतों के आसपास के लोगों को मौके से तुरंत हटाया गया और थाना प्रांगण एवं बस अड्डा प्रांगण में भेजा गया।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि उजाला होने के कारण शहर में मलबा घुसने से पहले ही लोग दुकानों को छोड़कर बाहर आ गए अन्यथा अगर अंधेरा होता तो यहां बड़ी जनहानि होती।नगर पालिका अध्यक्ष कृष्ण कांत कोटियाल ने बताया कि बादल फटने से शहर में भारी नुकसान हुआ है लेकिन अभी उसका आंकलन नहीं हो सका है ।

गृह मंत्री शाह ने उत्तराखंड सीएम से बात कर सहायता का आश्वासन दिया

टिहरी जिले के देवप्रयाग में मंगलवार को बादल फटने की घटना में निगम की दो इमारतों के ढहने और कई घरों को नुकसान पहुंचने की खबर के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से बात की और केंद्र की तरफ से हर मदद का आश्वासन दिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। शाह ने मंगलवार शाम को टेलीफोन से बातचीत के दौरान रावत को केंद्र सरकार से हरसंभव मदद का भरोसा दिया। शांता नदी के ऊपर हुई बादल फटने की इस घटना से नदी के किनारे के इलाकों में पानी भर गया और पैदल यात्रियों के पुल, पानी की पाइपलाइन और बिजली आपूर्ति की लाइन को नुकसान पहुंचा।

बादल फटने से नदी ने विकराल रूप धारण कर लिया

इस बीच, देवप्रयाग के पुलिस थानाध्यक्ष महिपाल सिंह रावत ने बताया कि शाम लगभग पांच बजे शांता नदी के ऊपरी छोर पर दशरथ डांडा पर्वत नामक स्थान पर बादल फटने से नदी ने विकराल रूप धारण कर लिया। नदी में आए मलबे ने देवप्रयाग कस्बे के शांति बाजार में भारी तबाही मचाई जिसमें नगर पालिका के बहुद्देशीय भवन समेत दो भवन जमींदोज हो गए। उन्होंने कहा कि इस घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है क्योंकि सतर्क लोग पहले ही सुरक्षित स्थान पर चले गए थे।
 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर