Bihar: महागठबंधन में सीएम चेहरे पर लेकर रार ! शरद यादव के नाम का उपेंद्र कुशवाहा ने किया प्रस्ताव

देश
Updated Feb 14, 2020 | 18:10 IST

बिहार में महागठबंधन नीतीश कुमार के खिलाफ ताल ठोंक रहा है। लेकिन सीएम चेहरे पर सहमति बनती नजर नहीं आ रही है। आरएलएसपी ने शरद यादव को सीएम पद का चेहरा बनाने का प्रस्ताव दिया है।

महागठबंधन में सीएम चेहरे पर लेकर रार ! शरद यादव के नाम को उपेंद्र कुशवाहा ने किया प्रस्ताव
शरद यादव 

मुख्य बातें

  • बिहार विधानसभा के लिए चुनाव इस वर्ष अक्टूबर-नवंबर में होने हैं।
  • बीजेपी-़जेडीयू की तरफ से नीतीश कुमार उम्मीदवार
  • महागठबंधन की तरफ से अभी चेहरे को लेकर सहमति नहीं

नई दिल्ली। बिहार इस साल चुनावी मोड में है। अक्टूबर-नवंबर में होने वाले चुनाव के लिए सभी दल जुट गए हैं। अगर वहां की राजनीतिक तस्वीर को देखें तो बीजेपी-जेडीयू गठबंधन के खिलाफ महागठबंधन है।बीजेपी-जेडीयू की तरफ से नीतीश कुमार सीएम के चेहरे के तौर पर पेश किए जा चुके हैं। लेकिन महागठबंधन की तरफ से कौन चेहरा होगा यह साफ नहीं है। अगर महागठबंधन के घटक दलों को देखें तो सबसे बड़ी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल है और उसके नेका तेजस्वी यादव हैं। लेकिन महागठबंधन में सीएम पद के लिए उनके नाम पर सहमति नहीं बनती नजर आ रही है।
 
उपेंद्र कुशवाहा ने शरद के नाम का किया प्रस्ताव
दरअसल आरएलएसपी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने शरद यादव का नाम पेश कर मामले को जटिल बना दिया। उनका कहना था कि अगर शरद यादव चेहरा बनते हैं तो वो सर्वमान्य होंगे और बिहार के लिए सही होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हिंदुस्तान आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने भी कुशवाहा का समर्थन किया। शुक्रवार को शरद यादव के नेतृत्व में महागठबंधन के घटक दलों की बैठक हुई थी।

तेजस्वी के नाम पर चुप्पी साध लेते हैं घटक दल
राष्ट्रीय जनता दल इस समय राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी है, लिहाजा उसके नेता  स्वाभाविक तौर पर तेजस्वी यादव को सीएम चेहरा मानते हैं। लेकिन महागठबंधन के दूसरे दलों से जब इस विषय पर पूछा जाता रहा है तो वो खुलकर या यूं कहें कि जवाब देने से कतराते रहे हैं। कांग्रेस हो आरएलएसपी या हम ये सब कहते रहे हैं कि समय आने पर फैसला किया जाएगा। अभी तो नीतीश कुमार सरकार की खामियों को जनता के सामने रखने की आवश्यकता है। 

क्या कांग्रेस ने खेल दिया है खेल
जानकार बताते हैं ति सबसे पहले कांग्रेस ने मीरा कुमार का नाम सीएम कैंडिडेट के रूप में उछाला था। पार्टी का तर्क था कि महागठबंधन के पास उनके जैसे कद का कोई नेता नहीं है। मीरा कुमार की साफ छवि महागठबंधन की जीत में मदद करेगी। अगर बात आरजेडी की करें तो लालू प्रसाद यादव जेल में हैं और उनकी गैर मौजूदगी में पार्टी ने तेजस्वी यादव को पार्टी का सीएम चेहरा घोषित कर रखा है। कुछ समय पहले तक हम के नेता जीतनराम मांझी की पार्टी उनका समर्थन करते हुए नजर आ रही थी। लेकिन जिस तरह से शरद यादव के रूप में नया नाम सामने आया है, उहापोह की स्थिति बन गई है।

 

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...