बिहार में बेकाबू हो रहा कोरोना, चिराग पासवान ने कहा- विस्फोटक हालात बनते जा रहे

देश
लव रघुवंशी
Updated Jul 19, 2020 | 07:10 IST

बिहार में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों पर चिंता जताते हुए LJP नेता चिराग पासवान ने कहा है कि बिहार में जिस प्रकार कोरोना ने अपने पैर पसारे है और विस्फोटक हालात बनते जा रहे हैं।

Chirag Paswan
चिराग पासवान  |  तस्वीर साभार: IANS

मुख्य बातें

  • बिहार में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 24,967 हुई
  • बिहार वैश्विक कोविड-19 हॉटस्पॉट बनने की ओर अग्रसर: तेजस्वी यादव
  • बिहार में संक्रमण के मामलों में तेज वृद्धि के कारण 31 जुलाई तक पूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है

नई दिल्ली: बिहार में पिछले कुछ दिनों में कोरोना वायरस के चलते हालात बिगड़ते हुए देखे गए हैं। इसी के चलते राज्य की नीतीश सरकार विपक्ष के निशाने पर है। लेकिन कोरोना को लेकर अब एनडीए के घटक दल लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने भी सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा है कि हालात विस्फोटक बनते जा रहे हैं। हालांकि उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा हालात का जायजा लेने के लिए टीम भेजने के निर्णय का स्वागत किया है। 

चिराग पासवान ने कहा, 'बिहार में जिस प्रकार कोरोना ने अपने पैर पसारें है और जैसे विस्फोटक हालात बनते जा रहे थे यह बिहारीयों के लिए यकीनन चिंता का विषय था जिसको ध्यान में रखते हुए बिहार में केंद्र सरकार के तरफ से कोरोना से बचाव के लिए एक टीम भेजने का निर्णय लिए है जिससे हालात को क़ाबू में लाया जा सके।' 

उन्होंने कहा, 'कोरोना को बिहार में नियंत्रण में लाने के लिए व बिहारीयों को इस महामारी के बढ़ते प्रकोप से बचाने के लिए केंद्र सरकार ने जो टीम बिहार भेजना निर्णय लिया है उसके लिए आदरणीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी और केंद्र सरकार को धन्यवाद।'

तेजस्वी बने हुए हैं हमलावर

वहीं राष्ट्रीय जनता दल (RJD) नेता तेजस्वी प्रसाद यादव तो शुरू से ही कोरोना को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमलावर बने हुए हैं। ताजा हमले में तेजस्वी ने कहा कि बिहार कोविड-19 महामारी का वैश्विक हॉटस्पॉट (अत्यधिक प्रभावित क्षेत्र) बनने की ओर अग्रसर है। राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता यादव ने कहा कि बिहार के आकार और जनसंख्या को देखते हुए प्रति दिन 30,000-35,000 नमूनों की जांच होनी चाहिए थी, लेकिन रोज केवल 10,000 नमूनों की ही जांच हो रही है। 

उन्होंने दावा किया कि यदि पर्याप्त जांच किए जाएं, तो हर दिन 4,000 से 5,000 मामले सामने आयेंगे और इस प्रकार राज्य कोरोना वायरस के मामले में देश में शीर्ष पर पहुंच जाएगा। 

तेजी से बढ़ रहे कोरोना केस

बिहार में शनिवार को कोरोना के 1667 नए मामले सामने आए, जिसके बाद संक्रमितों की संख्या 25,000 के करीब पहुंच गई। जबकि चार और मौतों के साथ मृतकों की संख्या 177 तक पहुंच गई है। इस माह के शुरुआती 18 दिनों में संक्रमण के मामले 2.5 गुना बढ़ गए हैं। इसके अलावा बिहार में मरीजों के ठीक होने की दर भी एक जुलाई के 77.52 प्रतिशत से घटकर 63.17 प्रतिशत हो गई है। राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या 24,967 हो गई है। अब तक पटना में सबसे अधिक 28 मौतें हुई हैं, जिसके बाद भागलपुर में 16, गया में 13, दरभंगा में 10, मुजफ्फरपुर में आठ और पूर्वी चंपारण, बेगूसराय, समस्तीपुर और नालंदा में सात-सात मौतें हुई हैं।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर