पंजाब के जिस इलाके से नवजोत सिंह सिद्धू लड़ेंगे चुनाव वहीं से देंगे टक्कर- अमरिंदर सिंह

देश
ललित राय
Updated Oct 27, 2021 | 12:25 IST

पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह ने साफ कर दिया कि कांग्रेस के उनका नाता अब कुछ दिनों का है। वो नई पार्टी के साथ लोगों के बीच जाएंगे।

Punjab Assembly Elections, Capt Amarinder Singh, Navjot Singh Sidhu, BJP, Congress, Shiromani Akali Dal, ISI sleeper cells in Punjab,
पंजाब के जिस इलाके से नवजोत सिंह सिद्धू लड़ेंगे चुनाव वहीं से देंगे टक्कर- अमरिंदर सिंह 
मुख्य बातें
  • कैप्टन अमरिंदर सिं बोले , नई पार्टी का गठन जल्द
  • नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान
  • पंजाब की सुरक्षा, पंजाब में आईएसआई की स्लीपर सेल का किया जिक्र

कांग्रेस के कद्दावर नेता और पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने साफ कर दिया है कि अब वो अलग पार्टी गठित करने जा रहे हैं, हालांकि नाम पूछे जाने पर बोले कि इस संबंध में वकील विचार मंथन के दौर में हैं। चुनाव आयोग से ग्रीन सिग्नल मिलते ही वो पार्टी के नाम का ऐलान करेंगे। उन्होंने कहा कि पूरी ईमानदारी के साथ उन्होंने पंजाब की सेवा की। लेकिन कुछ लोगों को राज्य में विकास और सुरक्षा के प्रति उनकी सक्रियता रास नहीं आई। इसके साथ ही अमरिंदर ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू राज्य के जिस किसी हिस्से से चुनाव लड़ेंगे वो खुद उन्हें टक्कर देंगे।

गठबंधन की बात अभी किसी से नहीं
कैप्टन अमरिंदर सिंह से जब यह पूछा गया कि क्या वो बीजेपी या अकाली दल ढींढसा ग्रुप से किसी तरह का गठबंधन करने जा रहे हैं तो उनका जवाब था कि गठबंधन पर बातचीत किसी से नहीं हुई है। लेकिन सवाल का जवाब देते हुए कहा समय आने पर हम सभी 117 सीटों पर लड़ेंगे, चाहे एडजस्टमेंट सीट हो या हम अपने दम पर चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि पंजाब की सुरक्षा का मुद्दा उनके लिए अहम है। वो चाहते हैं कि राज्य में ऐसी ताकतें ना पनपें जो हर किसी के लिए सिरदर्द साबित हों।  

किसानों के मुद्दे पर गृहमंत्री से होगी मुलाकात
किसानों और कृषि कानूनों के मुद्दे पर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि गुरुवार को हम कुछ लोगों को अपने साथ ले जा रहे हैं, लगभग 25-30 लोगऔर हम इस मुद्दे पर गृह मंत्री से मिलेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों को उनका हक मिलना चाहिए। हमें ऐसे रास्ते निकालने होंगे जिससे हर पक्ष संतुष्ट हो सके। कृषि कानूनों के मुद्दे पर अगर किसी तरह का मतभेद या मतैक्य नहीं बन पा रहा है कि तो उस संबंध में मिलजुल कर ही रास्ता निकाला जा सकता है। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर