'कोरोना की तीसरी लहर' देश में मार्च तक हो सकती है खत्म, ICMR ने दिए ये संकेत

corona in india Update:देश में कोरोना मामलों की संख्या घटना जारी है और कहा जा रहा है कि आने वाले कुछ ही समय में इसका प्रभाव और भी सीमित हो जाएगा।

corona third wave in india
'कोरोना की तीसरी लहर' देश में मार्च तक हो सकती है खत्म' 

corona third wave:देश में जारी कोरोना संकट के बीच कुछ राहत भरी खबरें भी इसे लेकर सामने आ रही हैं, विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर मार्च तक खत्म होने की उम्मीद है, गौर हो कि महाराष्ट्र, दिल्ली और पश्चिम बंगाल सहित कई राज्यों में एक्टिव केसों में गिरावट दर्ज की जा रही है।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने बताया है कि देश को कब इस लहर से मुक्ति मिलेगी, ICMR के अडिशनल डायरेक्टर जनरल डॉक्टर समीरन पांडा ने बताया कि अलग-अलग राज्यों में तीसरी लहर अलग-अलग वक्त पर खत्म होगी और देश में मार्च तक ये खत्म हो सकती है।

डॉक्टर पांडा के मुताबिक महाराष्ट्र, दिल्ली और पश्चिम बंगाल में इस महीने के आखिर तक कोरोना की तीसरी लहर खत्म हो सकती है उन्होंने बताया, 'इन राज्यों में तीसरी लहर का पीक गुजर चुका है और इस महीने के अंत तक ये बेस लेवल तक पहुंच जाएगी।

देश में अभी 13,31,648 लोगों का चल रहा इलाज 

अगर इस मामले पर ताजा अपडेट की बात करें तो भारत में एक दिन में कोविड-19 के 1,27,952 नए मामले सामने आने के बाद देश में अब तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,20,80,664 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 13,31,648 रह गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह आठ बजे जारी अपडेटेड डाटा के अनुसार, देश में कोविड-19 से 1,059 और लोगों की मौत के बाद संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 5,01,114 हो गई। देश में अभी 13,31,648 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 3.16 प्रतिशत है।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री ने इसे लेकर कही ये अहम बात

मिनिस्टर राजेश टोपे ने कहा कि राज्य में कोविड-19 के मामलों में कमी आने लगी है और उन्हें उम्मीद है कि मार्च के दूसरे या तीसरे सप्ताह तक महामारी की तीसरी लहर का असर खत्म हो सकता है। टोपे ने कहा कि कुछ सप्ताह पहले तीसरी लहर के दौरान राज्य में एक दिन में कोविड-19 के 48 हजार तक नये मामले सामने आ रहे थे, जिनकी संख्या घटकर 15 हजार तक आ गयी है। राजधानी मुंबई समेत पुण, ठाणे और रायगढ़ जैसे शहरों में भी कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में कमी आने लगी है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार को अब 12-15 आयु वर्ग के बच्चों के कोविड-19 टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू करनी चाहिए उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र इस आयु वर्ग के टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे के साथ पूरी तरह से तैयार है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर