शिवसेना महाराष्ट्र में MVA सरकार से बाहर आने को तैयार, संजय राउत का बड़ा बयान

Maharashtra politics : सांसद संजय राउत ने कहा कि शिव सेना महाराष्ट्र में एमवीए सरकार से बाहर आने को तैयार है लेकिन पार्टी के बागी नेताओं को गुवाहाटी से मुंबई आकर सीएम उद्धव ठाकरे से बातचीत करें।

Shiv Sena ready to come out of MVA government in Maharashtra, Sanjay Raut appeals to rebel MLAs
शिवसेना सांसद संजय राउत 

Maharashtra politics: महाराष्ट्र की सियासत में लगातार हलचल हो रही है। शिवसेना नेता संजय राउत ने गुरुवार को कहा कि विधायकों को गुवाहाटी से संवाद नहीं करना चाहिए, वे वापस मुंबई आएं और सीएम उद्धव ठाकरे से इस सब पर चर्चा करें। हम सभी विधायकों की इच्छा होने पर महाविकास अघाड़ी (एमवीए) से बाहर निकलने पर विचार करने के लिए तैयार हैं, लेकिन इसके लिए उन्हें यहां आना होगा और सीएम से चर्चा करनी होगी। 

राउत ने विधायकों से कहा कि आप कहते हैं कि आप असली शिवसैनिक हैं और पार्टी नहीं छोड़ेंगे। हम आपकी मांग पर विचार करने के लिए तैयार हैं, बशर्ते आप 24 घंटे में मुंबई वापस आएं और सीएम उद्धव ठाकरे के साथ इस मुद्दे पर चर्चा करें। आपकी मांग पर सकारात्मक रूप से विचार किया जाएगा। ट्विटर और व्हाट्सऐप पर चिट्ठी मत लिखिए। उन्होंने कहा कि बागी, जो मुंबई से बाहर हैं, ने हिंदुत्व का मुद्दा उठाया है। अगर इन सभी विधायकों को लगता है कि शिवसेना को एमवीए से बाहर निकलना चाहिए, तो मुंबई वापस आने की हिम्मत दिखाएं। आप कहते हैं कि आपको सिर्फ सरकार के साथ परेशानी है और यह भी कहते हैं कि आप सच्चे शिवसैनिक हैं, आपकी मांग पर विचार किया जाएगा, लेकिन आएं और उद्धव ठाकरे से बात करें।

उधर शिवसेना नेता संजय राउत द्वारा एमवीए सरकार से बाहर निकलने पर विचार करने की बात कहने के बाद कांग्रेस ने आज शाम 4 बजे सह्याद्री गेस्ट हाउस में अपने नेताओं की बैठक बुलाई, अगर पार्टी के सभी विधायक ऐसा चाहते हैं। बैठक में एचके पाटिल, बालासाहेब थोराट, नाना पटोले और अशोक चव्हाण सहित वरिष्ठ कांग्रेसी नेता भाग लेंगे।

महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख नाना पटोले ने कहा कि हम बीजेपी को सत्ता में आने से रोकने के लिए शिवसेना के साथ हैं। यह खेल ईडी की वजह से हो रहा है। फ्लोर टेस्ट के लिए कांग्रेस तैयार हम एमवीए के साथ हैं और रहेंगे। अगर शिवसेना किसी के साथ गठबंधन करना चाहते हैं, तो हमें कोई समस्या नहीं है। एनसीपी नेता जयंत पाटिल ने ट्वीट किया कि महाराष्ट्र विकास अघाड़ी महाराष्ट्र के विकास और कल्याण के लिए स्थापित सरकार है। हम अंत तक उद्धवजी ठाकरे के साथ मजबूती से खड़े रहेंगे।

उधर शिवसेना विधायक नितिन देशमुख का आरोप था कि उन्हें जबरन सूरत ले जाया गया, इस पर बागी नेता एकनाथ शिंदे खेमे ने अन्य बागी विधायकों के साथ नितिन देशमुख की पहले की तस्वीरें जारी कीं। शिवसेना विधायक नितिन देशमुख ने कहा कि मुझसे पहले विधायक प्रकाश अबितकर ने उनसे दूर होने की कोशिश की लेकिन वह नहीं हो पाए। सूरत के होटल पहुंचते ही हमें एमवीए सरकार के खिलाफ साजिश के बारे में पता चला। हमें जबरन सूरत ले जाया गया, मैंने भागने की कोशिश की लेकिन सूरत पुलिस ने पकड़ लिया। कोई जटिलता न होने के बावजूद, डॉक्टरों ने मुझे बताया कि मुझे दिल का दौरा पड़ा है। 300-350 पुलिस कर्मी हम पर नजर रख रहे थे।

Maharashtra Shiv Sena Crisis Live Updates

शिंदे वर्तमान में शिवसेना के 37 बागी विधायकों और 9 निर्दलीय विधायकों के साथ गुवाहाटी में डेरा डाले हुए हैं, जिसने पार्टी के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र सरकार को संकट में डाल दिया है। एमवीए सरकार में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस भी साझेदार हैं। सीएम ठाकरे ने बुधवार को शिंदे के विद्रोह के बीच शीर्ष पद छोड़ने की पेशकश की थी और बाद में उपनगरीय बांद्रा में अपने परिवारिक घर जाने से पहले दक्षिण मुंबई में अपना आधिकारिक आवास भी खाली कर दिया था।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर