BJP West Bengal: बंगाल में बीजेपी को एक और झटका, विधायक कृष्‍ण कल्‍याणी ने थामा TMC का दामन

West Bengal Politics: पश्चिम बंगाल में इसी साल हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी के टिकट पर निर्वाचित विधायक कृष्‍ण कल्‍याणी ने राज्‍य में सत्‍तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम लिया है। उन्‍होंने इसी महीने की शुरुआत में पार्टी से इस्‍तीफा दिया था।

BJP West Bengal: बंगाल में बीजेपी को एक और झटका, विधायक कृष्‍ण कल्‍याणी ने थामा TMC का दामन
BJP West Bengal: बंगाल में बीजेपी को एक और झटका, विधायक कृष्‍ण कल्‍याणी ने थामा TMC का दामन  |  तस्वीर साभार: ANI

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी की प्रदेश इकाई को यहां लगातार झटके लग रहे हैं। अब उत्तर दिनाजपुर जिले के रायगंज से बीजेपी विधायक कृष्ण कल्याणी ने तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम लिया है। इस महीने की शुरुआत में ही उन्‍होंने बीजेपी की सदस्‍यता से इस्‍तीफा दे दिया था, जिसके बाद अब वह राज्‍य में सत्‍तारूढ़ TMC से जुड़ गए हैं। वह बुधवार को कोलकाता के कैमेक स्ट्रीट स्थित सेनेटर होटल में TMC महासचिव पार्थ चटर्जी और विधायक विवेक गुप्ता की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए।

कल्‍याणी ने इसी महीने की शुरुआत में बीजेपी की सदस्‍यता से इस्‍तीफा दिया था और रायगंज की सांसद देबाश्री चौधरी पर अपने खिलाफ साजिश का आरोप लगाया था और कहा था कि दोनों एक ही पार्टी में साथ काम नहीं कर सकते। इस मसले पर बीजेपी ने कृष्ण कल्याणी को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया था। यह नोटिस उन्‍हें पार्टी सांसद देबाश्री चौधरी के खिलाफ बोलने को लेकर दिया गया था, लेकिन इसका जवाब देने की बजाय अगले ही दिन उन्‍होंने बीजेपी से इस्‍तीफा दे दिया था।

यहां उल्‍लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल में इस साल मार्च-मई  में हुए विधानसभा चुनाव में टीएमसी की जीत के बाद बीजेपी के कई विधायकों ने टीएमसी का दामन थामा है। विधानसभा चुनाव के समय जहां बीजेपी विधायकों की संख्या 77 थी, वहीं अब यह घटकर 70 हो गई है। बीजेपी के कई बड़े नेता भी TMC से जुड़े हैं, जिनमें पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो और मुकुल रॉय जैसे नेताओं के नाम शामिल हैं। बीजेपी के कई नेताओं में नाराजगी की बड़ी वजह संगठनात्‍मक बदलाव को बताया जा रहा है।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी ने सितंबर में दिलीप घोष की जगह सुकांता मजूमदार को प्रदेश अध्यक्ष नियुक्‍त किया था। समझा जा रहा है कि पार्टी के कई नेताओं में इसे लेकर नाराजगी है। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर