Cruise Drugs Case: एनसीबी की दिल्ली टीम करेगी जांच, मौजूदा अधिकारी करेंगे मदद

क्रूज ड्रग्स केस की जांच अब से एनसीबी के जोनल डॉयरेक्टर समीर वानखेड़े नहीं कर पाएंगे। आर्यन खान और समीर खान केस की जांच अब दिल्ली की टीम करेगी।

Cruise Drugs Case, Sameer Wankhede, Aryan Khan, Nawab Malik, NCB
क्रूज ड्रग्स केस की जांच अब एनसीबी की दिल्ली टीम करेगी 
मुख्य बातें
  • क्रूज ड्रग्स केस में समीर वानखेड़े हटाए गए- सूत्र
  • समीर वानखेड़े पर एनसीपी नेता नवाब मलिक ने लगाए थे गंभीर आरोप
  • समीर वानखेड़े ने बांबे हाईकोर्ट में दो अर्जी भी लगाई थी.

क्रूज ड्रग्स केस की जांच अब एनसीबी की दिल्ली टीम करेगी। एनसीबी का कहना है कि किसी भी अधिकारी को उनके पद से हटाया नहीं गया है, जरूरत के हिसाब से मौजूदा अधिकारी टीम की मदद करेंगे।  एनसीबी के जोनल डॉयरेक्टर समीर वानखेड़े  ने बॉम्बे एचसी के समक्ष एक याचिका दायर की थी जिसमें कहा गया था कि आर्यन खान और समीर खान मामले की केंद्रीय टीम द्वारा जांच की जानी चाहिए। समीर वानखेड़े ने हटाए गए शब्द पर आपत्ति जताते हुए कहा कि यह बहुत ही गलत शब्द है। एक वरिष्ठ अधिकारी इस मामले की जांच कर रहे हैं, वो अभी भी मुंबई जोनल यूनिट में जोनल डॉयरेक्टर है, उन्होंने उस संबंध में पहले से ही अदालत में याचिका दायर है।

आर्यन खान और समीर खान की जांच दिल्ली टीम के हवाले
टाइम्स नेटवर्क से बात करते हुए  डीडीजी अशोक मुथा जैन ने कहा कि "हमारे क्षेत्र के कुल 06 मामलों की अब दिल्ली की टीमों द्वारा जांच की जाएगी। यह एक प्रशासनिक निर्णय था।डीडीजी ने मुंबई एनसीबी टीम और समीर वानखेड़े के खिलाफ लगाए गए आरोपों के कारण मामले को स्थानांतरित करने पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। आर्यन खान खेस के साथ साथ समीर खान केस की भी जांच दिल्ली की टीम करेगी। बता दें कि समीर खान, एनसीपी नेता नवाब मलिक के दामाद हैं। 

खास बातें

  1. एसआईटी में एनसीबी मुख्यालय की संचालन शाखा के अधिकारी शामिल हैं, जिसका गठन एनसीबी मुंबई क्षेत्रीय इकाई से कुल 6 मामलों को संभालने के लिए एनसीबी द्वारा गठित किया गया है, जिसमें आगे और पीछे के संबंधों का पता लगाने के लिए गहन जांच करने के लिए राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रभाव हैं: एनसीबी
  2. किसी भी अधिकारी या अधिकारी को उनकी वर्तमान भूमिकाओं से हटाया नहीं गया है और जब तक इसके विपरीत कोई विशिष्ट आदेश जारी नहीं किया जाता है, तब तक वे आवश्यकतानुसार संचालन शाखा की जांच में सहायता करना जारी रखेंगे। यह दोहराया जाता है कि एनसीबी पूरे भारत में एक एकीकृत एजेंसी के रूप में कार्य करता है: एनसीबी
  3. मुंबई जोन के 6 केस की जांच दिल्ली टीम करेगी
  4. दिल्ली एनसीबी की टीम करेगी जांच।
  5. एनसीबी का कहना है कि इन पांच मामलों में राष्ट्रव्यापी और अंतरराष्ट्रीय कनेक्शन भी हैं। अन्य एजेंसियों के साथ घनिष्ठ समन्वय के लिए, एसके सिंह की अध्यक्षता वाली सेंट्रल जोन टीम इसकी जांच करेगी।
  6. संजय सिंह एक डीडीजी रैंक के अधिकारी हैं। डीजी ने आर्यन खान सहित एनसीबी के साथ 5 महत्वपूर्ण मामलों को देखने के लिए इस विशेष टीम का गठन किया है। इससे भी दिलचस्प बात यह है कि नवाब मलिक के बेटे समीर खान का मामला भी संजय सिंह और उनकी एसआईटी के पास गया है

नवाब मलिक का बयान
आर्यन खान केस समेत 5 मामलों से समीर वानखेड़े को हटायाकुल 26 मामले हैं जिनकी जांच की जरूरत है।ये तो बस शुरुआत है... इस सिस्टम को साफ करने के लिए अभी बहुत कुछ करना है और हम करेंगे। इस मामले में एनसीपी के नेता माजिद मेमन ने कहा कि इस तरह के फैसले से केंद्रीय जांच एजेंसी में आम लोगों का भरोसा बढ़ेगा, जिस तरह से आर्यन खान केस में समीर वानखेड़े की भूमिका पर सवाल उठते गए वैसी सूरत में यह सही फैसला है कि वानखेड़े को जांच प्रक्रिया से दूर रखा जाए। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर