उत्तर प्रदेश: कानपुर, गाजियाबाद, मेरठ और नोएडा के नगरीय इलाके रेड जोन घोषित

देश
किशोर जोशी
Updated May 21, 2020 | 08:45 IST

Red Zone Areas in UP: उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए गाजियाबाद, कानपुर, नोएडा और मेरठ के नगरीय इलाकों को रेड जोन घोषित कर दिया है।

Red zone area district in UP amid Coronavirus Pandemic Noida ghaziabad kanpur and Meerut
UP: कानपुर, गाजियाबाद, मेरठ और नोएडा को रेड जोन किया घोषित 

मुख्य बातें

  • यूपी सरकार ने नया आदेश जारी करते हुए चार जिलों के नगरीय इलाके रेड जोन किए घोषित
  • गाजियाबाद, मेरठ, कानपुर और नोएडा के नगरीय इलाके रेड जोन घोषित
  • इन इलाकों में केंद्र की गाइडलाइंस के हिसाब से तय होंगे दिशा निर्देश

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस के संक्रमण का आंकलन करते हुए कानपुर नगर, गाजियाबाद, नोएडा और मेरठ के नगरीय क्षेत्रों को रेड जोन घोषित कर दिया है। राज्य सरकार ने इस संबंध में सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि वो केंद्र सरकार की गाइडलाइंस के हिसाब से अपने यहां दिशा निर्देश जारी करने के आदेश दिए हैं। यूपी के चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बुधवार को यह आदेश जारी किया। 

केंद्र की गाइडलाइंस के हिसाब से तय होंगे दिशा-निर्देश

अमित मोहन प्रसाद के आदेश के मुताबिक, 'जिन जिलों में पिछले 21 दिनों में कोरोना वायरस संक्रमण का कोई पुष्ट केस नहीं आया हो वे जिले खुद ही ग्रीन जोन में वर्गीकृत हो जाएंगे। जो जनपद रेड या ग्रीन जोन में उक्तानुसार वर्गीकृत नहीं होतें हैं तो उन्हें ऑरेंज जोन में वर्गीकृत माना जाएगा। रेड जोल में वर्गीकृत जिले के जिलाधिकारी संक्रमण को नियंत्रित करने के दृष्टिगत स्वविवेकानुसार अतिरिक्त कदम उठाने हेतु अधिकृत होंगे।'

राज्य में पांच के पार पहुंचे मामले

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में बुधवार को कोविड—19 संक्रमण के 249 नये मामले सामने आये । चार और मौतों के साथ ही इस संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या बढकर 127 हो गयी है । सरकार के मुताबिक यूपी में कोरोना संक्रमण के कुल 5175 मामले हैं, जिनमें से 1982 सक्रिय संक्रमण के मामले हैं और 3066 मरीज उपचारित होकर अस्पताल से छुटटी पा चुके हैं । राज्य में इस संक्रमण की वजह से अब तक जान गंवाने वालों की संख्या 127 हो गयी है 

प्रवासियों की वापसी के साथ बढ़ रहे हैं मामले

 प्रवासी मजदूरों की घर वापसी के साथ ही राज्य में कोरोना के मामले भी बढ़ रहे हैं।  बस्ती जिले में मंगलवार को सामने आये कोरोना संक्रमण के 50 मामलों में सभी प्रवासी मजदूर हैं और उनका इलाज विभिन्न अस्पतालों में शुरू कर दिया गया है। आपको बता दें कि मंगलवार को ही ग्रेटर नोएडा इलाके में अस्पताल में उपचार के दौरान बुलंदशहर जिला निवासी 71 वर्षीय व्यक्ति की कोरोना वायरस संक्रमण के कारण बुधवार की देर शाम को मौत हो गई थी।

कोरोना वायरस संक्रमण से सबसे अधिक 27 मौतें आगरा में हुई हैं । मेरठ में 21, मुरादाबाद में 11, अलीगढ और कानपुर में आठ आठ, गौतम बुद्ध नगर एवं फिरोजाबाद में पांच पांच, वाराणसी, संत कबीर नगर, मथुरा और झांसी में चार चार मौते कोरोना की वजह से हुई हैं।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर