राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने लोगों से घरों के गिराने का जश्न नहीं मनाने को कहा, बोले- आपके घर भी आ सकता है बुलडोजर

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने बुधवार को कहा कि ये इंतजार मत करो कि दूसरे के ऊपर बुलडोजर चल गया तो आप खुश हो रहे हो, वह बुलडोजर कभी आपके घर पर भी आ सकता है।

Rajasthan CM Ashok Gehlot asked people not to celebrate the demolition of houses said  Bulldozer can come to your house too
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत।   |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • सीएम अशोक गहलोत की लोगों से अपील, कहा- बुलडोजर​ से घरों के गिराने का जश्न ना मनाएं
  • आपके घर भी आ सकता है बुलडोजर- अशोक गहलोत
  • कानून और संविधान से चलता है देश- अशोक गहलोत

Delhi: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को लोगों से संपत्तियों के विध्वंस का जश्न नहीं मनाने के लिए कहा है। साथ ही कहा कि ये दूसरों के साथ भी हो सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी और का घर गिरा हो तो जश्न मत मनाओ, बुलडोजर कभी भी तुम्हारे घर आ सकता है। तोड़फोड़ सही है तो स्वागत है। अन्याय हो तो बोलो। अगर आज उनके साथ हुआ है तो कल आपके साथ भी हो सकता है।

बुलडोजर​ से घरों के गिराने का जश्न ना मनाएं लोग- अशोक गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिल्ली में संवाददाताओं से कहा कि अगर कानून और संविधान का शासन कमजोर है, तो सभी को किसी न किसी समय भुगतना पड़ेगा। देश कानून और संविधान से चलता है। उत्तर प्रदेश में 10 जून की हिंसा के कथित आरोपियों की संपत्तियों के विध्वंस पर बहस छिड़ गई है और बुधवार को अशोक गहलोत ने इस पर अपना बयान दिया। 

उत्तर प्रदेश में बुलडोजर कार्रवाई के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका,आज होगी सुनवाई

यूपी में 10 जून को हुआ था हिंसक प्रदर्शन

उत्तर प्रदेश में 10 जून को जुमे की नमाज के बाद निलंबित बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा की ओर से पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ की गई आपत्तिजनक टिप्पणियों को लेकर विरोध प्रदर्शन हुआ था। कुछ जगहों पर विरोध प्रदर्शन हिंसक हुआ और लोगों ने पथराव किया और संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। इसके बाद योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार से कड़ी कार्रवाई की बात कही। 

Prayagraj Violence: 40 आरोपी अब भी फरार, सरेंडर नहीं करने पर संपत्ति होगी जब्त

प्रयागराज में 10 जून की हिंसा के कथित मास्टरमाइंड जावेद मोहम्मद के घर समेत राज्य के अलग-अलग शहरों में कथित दंगाइयों की संपत्तियों को ध्वस्त कर दिया गया था। वहीं विपक्षी नेताओं ने उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ बीजेपी पर अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय को निशाना बनाने का आरोप लगाया है। हालांकि जावेद मोहम्मद के घर को ध्वस्त करने वाले प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने कहा है कि घर को तोड़ा गया, क्योंकि इसे यूपी राज्य योजना और विकास नियम 1973 के प्रावधानों के खिलाफ बनाया गया था और ये अवैध निर्माण था।
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर