Udaipur murder: बीजेपी ने नकारे कांग्रेस के आरोप, कहा- पार्टी से नहीं जुड़ा था आरोपी

Udaipur murder case: कांग्रेस ने आरोप लगाया कि उदयपुर की घटना का मुख्य आरोपी रियाज अख्तरी बीजेपी का सदस्य है। हालांकि BJP ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है।

Udaipur accuesd
उदयपुर की घटना के आरोपी 

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अल्पसंख्यक मोर्चा ने शनिवार को कांग्रेस द्वारा लगाए गए उन आरोपों का खंडन किया है जिसमें कहा गया कि उदयपुर में कन्हैया लाल हत्याकांड का मुख्य आरोपी भाजपा का सदस्य था। उदयपुर के कुछ स्थानीय बीजेपी नेताओं के साथ रियाज अख्तरी की एक तस्वीर सामने आने के बाद, भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष मोहम्मद सादिक खान ने कहा कि फोटो को यह दिखाने के लिए सबूत के तौर पर नहीं रखा जा सकता कि वह पार्टी का सदस्य है।

खान ने कहा कि कांग्रेस अशोक गहलोत सरकार की विफलता से जनता का ध्यान हटाने के लिए भगवा पार्टी पर दोष मढ़ना चाहती है। उन्होंने आरोप लगाया कि साढ़े तीन साल में अल्पसंख्यकों के लिए कुछ नहीं किया गया। सादिक ने कहा कि कोई भी किसी भी नेता के साथ फोटो खिंचवा सकता है। इसका मतलब यह नहीं है कि वह भाजपा का सदस्य है।

उन्होंने कहा कि हो सकता है कि वह पार्टी के किसी कार्यक्रम में रेकी करने गया हो और स्थानीय नेताओं के साथ फोटो खिंचवाए हों। चूंकि फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नेताओं या मशहूर हस्तियों के साथ फोटो अपलोड करना एक सामान्य चलन है, इसलिए हो सकता है कि उसने इसे अपलोड भी किया हो। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वह भाजपा का सदस्य है।

भाजपा नेता ने कहा कि हत्या राज्य सरकार की विफलता को उजागर करती है क्योंकि धमकी के बावजूद कन्हैया लाल को सुरक्षा प्रदान नहीं की गई। अख्तरी का वाहन नंबर 2611 था, जिसे उसने 2013 में अपनी पसंद से प्राप्त किया था, और यह उसकी कट्टरपंथी विचारधारा को दर्शाता है।

उदयपुर हत्याकांड में बड़ा खुलासा, कन्हैयालाल की हत्या के जरिए दंगा भड़काने की थी साजिश

इससे पहले कांग्रेस ने आरोप लगाया कि अख्तरी भाजपा का सदस्य है और जानना चाहा कि क्या इस कारण से केंद्र ने मामले को एनआईए को स्थानांतरित करने में जल्द कदम उठाया। इसी हफ्ते एक दर्जी कन्हैया लाल की दो चाकू चलाने वालों ने हत्या कर दी थी। उन्होंने हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए अपराध का एक भयानक वीडियो ऑनलाइन पोस्ट किया था। अख्तरी और एक अन्य आरोपी गौस मोहम्मद को घटना के कुछ घंटे बाद मोटरसाइकिल से भागते हुए गिरफ्तार कर लिया गया था। कन्हैया की दुकान की रेकी करने और उसकी हत्या की कथित साजिश में शामिल दो और लोगों को भी बाद में गिरफ्तार किया गया।

उदयपुर टारगेट किलिंग: चश्मीद ने बताया कन्हैया लाल की हत्या का पूरा सच! GROUND REPORT 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर