Punjab Election 2022: केजरीवाल का पंजाब में बड़ा ऐलान, कहा- 'कॉन्ट्रैक्ट टीचर्स को करेंगे परमानेंट', जानें और अहम घोषणाएं

देश
पुलकित नागर
पुलकित नागर | SPECIAL CORRESPONDENT
Updated Nov 23, 2021 | 14:56 IST

Aap in Punjab Election 2022: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब विधानसभा चुनाव में बड़ा ऐलान करते हुए घोषणा की है कि पंजाब में कॉन्ट्रैक्ट टीचर्स को परमानेंट करेंगे, साथ ही उन्होंने कई और अहम घोषणाएं भी की हैं।

Kejriwal in punjab
केजरीवाल ने कहा, पंजाब में सरकारी स्कूल का बुरा हाल है 

पंजाब दौरे पर आए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सरकारी स्कूल का बुरा हाल है, 24 लाख बच्चे सरकारी स्कूल में पढ़ रहे हैं, कई स्कूलों में एक भी टीचर नहीं है, दिल्ली के सरकारी स्कूलों का हमनें कायापलट कर दिया वहीं पंजाब में विधानसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बड़ा ऐलान किया है उन्होंने कहा है कि अगर पंजाब में हमारी सरकार बनती है तो हम सभी कॉन्ट्रैक्ट पर लगे टीचर्स को पक्का कर देंगे।

केजरीवाल ने कहा कि यहां सिर्फ टीचर पढ़ाने का काम करेगा इसके अलावा उनसे कोई दूसरा काम नहीं करवाया जाएगा, केजरीवाल ने कहा कि एक-डेढ़ महीने से पंजाब के अलग अलग इलाकों से टीचर्स मिलने के लिए आ रहे हैं उन्होंने बताया कि सरकारी स्कूलों का बुरा हाल है, पंजाब के सरकारी स्कूलों में 24 लाख बच्चे पढ़ते हैं, जिनका बुरा हाल है, कई स्कूल ऐसे हैं जहां एक भी टीचर नहीं है, कई स्कूल ऐसे हैं जहां 7 क्लासों के लिए एक टीचर है और उनपर पुताई कराकर स्मार्ट क्लास लिख दिया गया है।


दिल्ली में भी पहले कुछ ऐसा ही हाल था, लेकिन अभी दिल्ली के स्कूलों की चर्चा विदेशों में भी हो रही है सरकारी स्कूलों के 99.7 फीसदी नतीजे आए हैं, प्राइवेट स्कूलों को पीछे छोड़ दिया है/ इसी तरह से हम पंजाब के सरकारी स्कूलों की भी ठीक करेंगे, क्योंकि हमें ही करना  आता  है। कांग्रेस की कितने ही राज्यों में सरकार रही, BJP की कितने राज्यों में सरकार है, पंजाब में अकाली दल की इतने साल सरकार रही, इनसे स्कूल ठीक नहीं हुए,अध्यापक समाज का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होते हैं, बिना शिक्षा की ठीक किए पंजाब को ठीक नहीं कर सकते, उन सबको आमंत्रित करता हूं कि हम जो पंजाब का पुनर्निर्माण करने जा रहे हैं, आइए इस मुहिम में शामिल होइए।

केजरीवाल ने कहा-आज टीचर्स को 8 गांरटी दे रहा हूं

पंजाब में भी माहौल बदलेंगे, टीचर्स के साथ मिलकर शिक्षा में क्रांति लेकर आएंगे, इसका मसौदा हम तैयार कर रहे हैं उन्होंने कहा कि कल पंजाब के शिक्षक मिलने आए थे, 18 साल काम करने के बाद भी उन्हें 10 हजार रुपए महीना मिलता है, दिल्ली में अनस्किल्ड लेबर का मिनिमम वेज 15 हजार है, टिचर को यहां मिनिमम वेज के बराबर भी नहीं मिलता, कई टीचर्स 3 हजार 5 हजार पर काम कर रहे हैं, सरकार बनने के तुरन्त बाद आउट सोर्सिंग पर काम कर रहे शिक्षको को पक्का किया जाएगा। ऐसे कई टीचर का चंडीगढ़ के पास धरना चल रहा है, पानी की टंकी पर एक महिला एक पुरुष टीचर पानी की टंकी पर चढ़े हैं, जिनहे क्लास में होना चाहिए वे प्रोटेस्ट में हैं, मेरी चन्नी साहब से अपील है कि इनकी दोनों डिमांड तुरन्त पूरा करिए, अगर ये तब भी धरने पर हुए तो अगली विजिट में उनसे मिलूंगा, यहां ट्रांसफर पॉलिसी बहुत गड़बड़ है।

कल एक टीचर ने कहा कि एक टीचर को दो अलग अलग स्कूल की ड्यूटी दे देते हैं, जबकि दोनों में फासला 200 किमी का है.जो भी आवाज उठाता है, उसका ट्रांसफर कर देते हैं, दिल्ली में हम ट्रांसफर के लिए पूछते हैं टीचर्स से. कोशिश करते हैं कि उन्हें मनमाफिक स्कूल दें. टीचर्स को दुखी करके बच्चों को खुश नहीं रख सकते।

ट्रांसफर पॉलिसी पारदर्शी होगा देशभर में एक समस्या है, पढ़ाने के काम के बजाय सब काम कराते हैं. यहां उनसे BLO का काम, जनगणना के काम कराते हैं दिल्ली में हमने यह सब खत्म किया है, अभी कोरोना के समय में केवल जब स्कूल बंद थे तो कोरोना की ड्यूटी लगाई थी।

 पंजाब में भी टीचर्स से नॉन टीचिंग का पूरा काम वापस लिया जाएगा

एग्जाम लेकर टीचर्स की सभी वेकेंसी भरेंगे, यहां बहुत वैकेंसी है, दिल्ली के टीचर्स को हमने विदेशों में ट्रेनिंग के लिए भेजा, वे फिनलैंड इंग्लैंड अमेरिका गए, IIM के साथ टाइअप किया, यहां के टीचर्स को भी ट्रेनिंग के लिए विदेश भेजेंगे।

यहां प्रमोशन की कोई पॉलिसी नहीं है, टाइम बाउंड प्रमोशन दिया जाएगा।

टीचर्स के लिए कैशलेस मेडिकल पॉलिसी की व्यवस्था की जाएगी ने अकाली को भी देखा, कांग्रेस को भी देखा, एक मौका हमें देकर भी देख लो, ये चुनाव पूरे पंजाब का भविष्य बदल सकते हैं, आप झाड़ू को वोट दें ताकि हम नया पंजाब बना सकें।

सिद्धू की नाराजगी पर बोले केजरीवाल

सिद्धू साहब ने जैसे स्टेज से बोला, उनकी हिम्मत की दाद देता हूं, उन्होंने कहा कि रेत माफिया अभी खत्म नहीं हुआ दो तीन पहले चन्नी साहब का इंटरव्यू देखा बोले असली आम आदमी मैं हूं, मुझे गिल्ली डंडा खेलना आता है, दूध निकालना आता, मैं उनसे सहमत हूं, मुझे गिल्ली डंडा खेलना, दूध निकालना नहीं आता लेकिन स्कूल बनाने, मोहल्ला क्लिनिक बनाना, अस्पताल बनाना आता है, 10 10 कैमरे लेकर 24 घण्टे शूटिंग कराना नहीं आता है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर