Singhu border violence: सिंघु बॉर्डर पर पोल्ट्री में काम करने वाले युवक पर हमला, निहंगों ने तोड़ दिया पैर

Youth beaten at Singhu Border : पुलिस का कहना है कि आरोपी की पहचान नवीन के रूप में हुई है। वह हरियाणा के करनाल जिले का रहने वाला है। पुलिस ने उसे हिरासत में लिया है और उससे पूछताछ कर रही है।

Poultry farm worker beaten at Singhu border, police suspect role of Nihangs
सिंघु बॉर्डर पर पोल्ट्री में काम करने वाले युवक पर हमला।  |  तस्वीर साभार: PTI
मुख्य बातें
  • सिंघु बॉर्डर पर अब पोल्ट्री का काम करने वाले एक युवक पर हमला हुआ है
  • बताया जा रहा है मुर्गा देने से मना करने पर निहंग ने युवक पर हमला किया
  • आरोपी करनाल का रहने वाला है, पुलिस ने उसे हिरासत में लिया है

नई दिल्ली : सिंघु बॉर्डर पर एक व्यक्ति की हत्या के कुछ दिनों बाद एक और व्यक्ति पर हमला हुआ है। किसान आंदोलन मंच के समीप गुरुवार को व्यक्ति पर यह हमला हुआ। पुलिस को आशंका है कि इस हमले के पीछे भी निहंग हैं। निहंगों ने कुछ दिनों पहले यहां तरनतारन जिले के एक युवक की बेरहमी से हत्या कर उसवा शव पुलिस की बैरेकिडिंग से लटका दिया। बाद में एक निहंग ने इस हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए पुलिस के सामने सरेंडर किया। 

पीड़ित युवक की पहचान मनोज पासवान के रूप में हुई

हमले का शिकार व्यक्ति की पहचान मनोज पासवान के रूप में हुई है। वह एक पोल्ट्री फॉर्म में काम करता है। बताया जा रहा है कि गुरुवार को वह एक वाहन में मुर्गियां लेकर प्रदर्शन स्थल से गुजर रहा था तभी वहां पर एक मौजूद व्यक्ति ने उसे रोका। बताया गया कि इस व्यक्ति ने निहंग के कपड़े पहने हुए थे। 

पासवान ने मुर्गा देने से मना किया

डीएसपी राव वीरेंद्र सिंह ने कहा कि सिंघु बार्डर के मुख्य दरवाजे के पीछे से निहंग सिखों का कपड़ा पहने एक व्यक्ति ने पासवान पर हमला किया। इस व्यक्ति ने कथित रूप से पासवान से मुफ्त में एक मुर्गा देने की बात कही और जब पासवान ने इसे देने से इंकार किया तो उस व्यक्ति ने कथित रूप से उसकी पिटाई की और उसका पैर तोड़ दिया। 

करनाल का रहने वाला है आरोपी

पुलिस का कहना है कि आरोपी की पहचान नवीन के रूप में हुई है। वह हरियाणा के करनाल जिले का रहने वाला है। पुलिस ने उसे हिरासत में लिया है और उससे पूछताछ कर रही है। गत 15 अक्टूबर को तरनतारन जिले के लखबीर सिंह का शव सिंघु बॉर्डर पर मिला। निहंग सिखों के समूह ने सिंह की हत्या की जिम्मेदारी ली। समूह का कहना है कि लखबीर ने कथित रूप से उनके धार्मिक ग्रंथ का अपमान किया था। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर