पश्चिम बंगाल की दिलचस्प राजनीति, बीजेपी के "एक मुट्ठी चावल'' की काट है दीदी की "वैक्सीन पॉलिटिक्स"

देश
रवि वैश्य
Updated Jan 11, 2021 | 16:50 IST

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान नहीं हुआ है। लेकिन चुनावी जंग जीतने की कवायद में बीजेपी, टीएमसी के बीच रस्साकशी तेज हो गई है साथ ही जनता को फ्री चीजें बांटने के ऐलान भी किए जा रहे हैं।

west bengal politics
इस साल राज्य में विधानसभा चुनाव होने हैं इसे लेकर दोनों ही पार्टियां अपने कील कांटे दुरूस्त कर मैदान में उतर चुकी हैं 

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की राजनीति बेहद दिलचस्प है, राज्य की राजनीति पर लंबे समय तक कम्युनिस्टों का शासन रहा वहीं अब सत्ता की बागडोर लंबे समय से टीएमसी के हाथों हैं, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्य की जनता का विश्वास जीतने का कोई मौका नहीं गंवाती हैं वहीं देश की सत्ता पर काबिज बीजेपी की लंबे समय से निगाहें मिशन बंगाल पर टिकी हैं और इसके लिए पार्टी लंबे समय से काम कर रही है। बीजेपी के ये प्रयास रंग भी लाया है और राज्य में पार्टी ने लोकसभा में काफी अच्छा प्रदर्शन भी किया। वहीं इस साल राज्य में विधानसभा चुनाव होने हैं इसे लेकर दोनों ही पार्टियां अपने कील कांटे दुरूस्त कर मैदान में उतर चुकी हैं।

ममता बनर्जी राज्य की सत्ता पर नियंत्रण स्थापित रखने का कोई मौका नहीं चूक रही हैं इसी क्रम में पश्चिम बंगाल के सभी निवासियों को मुफ्त में कोरोना वायरस वैक्सीन लगाई जाएगी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसका ऐलान करते हुए कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के सभी लोगों को मुफ्त में कोरोना वायरस वैक्सीन लगाने का इंतजाम कर रही है।

पश्चिम बंगाल में इस साल गर्मियों में विधानसभा चुनाव होने हैं और सभी निवासियों को मुफ्त वैक्सीन प्रदान करने के ममता के इस ऐलान को इन चुनावों से जोड़कर देखा जा रहा है। इसी के साथ बंगाल केरल, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश और बिहार समेत उन चुनिंदा राज्यों की सूची में शामिल हो गया है जो अपने राज्य के निवासियों को मुफ्त कोरोना वैक्सीन लगाने का ऐलान कर चुके हैं।

पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए भी इसी साल अप्रैल-मई में चुनाव होने हैं, इस लिहाज से ममता की इस घोषणा का खासा महत्व है, सीएम ममता बनर्जी ने बयान जारी कर कहा, "मुझे ये घोषणा कर खुशी हो रही है कि हमारी सरकार राज्य के सभी लोगों को बिना किसी खर्चे के कोरोना का वैक्सीन लगाने की व्यवस्था कर रही है।"  

एक मुट्ठी चावल (Ek Mutthi Chawal) पश्चिम बंगाल की चुनावी राजनीति में बीजेपी का नया प्रयोग है। विधान सभा चुनाव से पहले ​बीजेपी (BJP) एक मुट्ठी चावल संग्रह अभियान के तहत प्रदेश के 73 लाख किसानों के घर तक पहुंचने की तैयारी में है।

बीजेपी ने अभी हाल ही में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने एक मुट्ठी चावल के जरिए लोगों से भावनात्मक तौर पर जुड़ने की कोशिश की, सवाल सिर्फ लोगों से एक मुट्ठी चावल लेने तक नहीं है बल्कि यह संदेश देने की कोशिश की जा रही है कि उनका नाता सिर्फ वोटों तक सीमित नहीं है बल्कि वो दिल से जुड़ाव चाहते हैं। समृद्ध बंगाल बनाने के जो सपने दिखाए गए उन लोगों ने आखिर क्या किया। 

इस बीच दिल्ली समेत कई राज्य मांग कर चुके हैं कि देशवासियों को कोरोना का टीका मुफ्त में लगना चाहिए, बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान बीजेपी ने भी वादा किया था कि अगर उनकी सरकार आई तो सभी लोगों को कोरोना का वैक्सीन मुफ्त में लगाया जाएगा। 

भारत में 16 जनवरी यानि अगले शनिवार से कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान शुरू होगा और सरकार का लक्ष्य जुलाई तक 30 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाना है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर