जब PM Modi ने डॉक्टरों से पूछा- वैक्सीन लगने से पॉलिटिकल पार्टी को भी रिएक्शन होता है क्या?

देश
किशोर जोशी
Updated Sep 18, 2021 | 11:48 IST

गोवा में शत प्रतिशत आबादी को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक दिये जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वहां के स्वास्थ्यकर्मियों से बातचीत की और जमकर उनकी तारीफ की।

PM Modi 's interaction with health workers and beneficiaries of Covid vaccination programme in Goa
'Vaccine लगने से राजनीतिक दलों को भी रिएक्शन होता है क्या?'  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की गोवा के स्वास्थ्य कर्मियों और लाभार्थियों से बातचीत
  • पीएम मोदी ने कोरोना संकट के दौरान कोरोना वॉरियर्स की भूमिका को सराहा।

नई दिल्ली: गोवा में शत प्रतिशत आबादी को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है। इस उपलब्धि को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गोवा के स्वास्थ्यकर्मियों और टीकाकरण के लाभार्थियों से बातचीत की और उनके प्रयासों की तारीफ की। इस दौरान गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने बताया, 'हमने कोविड वैक्सीन की पहली डोज़ को 100 प्रतिशत पूरा कर दिया है। आपसे और केंद्र सरकार से सहयोग मिला इसलिए हम यह कर पाए। हमने लगभग 42% कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज़ अब तक दी है। हमने वैक्सीन की बर्बादी बिल्कुल भी नहीं की है।'

हेल्थ वर्कर्स की तारीफ

पीएम मोदी ने कहा, 'मैं देश के सभी डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ, प्रशासन से जुड़े लोगों की भी सराहना करना चाहता हूं। आप सभी के प्रयासों से कल भारत ने एक ही दिन में ढाई करोड़ से भी अधिक लोगों को वैक्सीन देने का रिकॉर्ड बनाया हैमैं देश के सभी डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ, प्रशासन से जुड़े लोगों की भी सराहना करना चाहता हूं। आप सभी के प्रयासों से कल भारत ने एक ही दिन में ढाई करोड़ से भी अधिक लोगों को वैक्सीन देने का रिकॉर्ड बनाया है। हर किसी ने इसमें बहुत सहयोग किया है। लोगों ने इसे सेवा से जोड़ा। ये उनका करुणा भाव, कर्तव्य भाव ही है जो ढाई करोड़ वैक्सीन डोज लगाई जा सकी।'

पीएम के सवाल पर छूटी डॉक्टरों की हंसी

पीएम मोदी ने कोरोना संकट के दौरान कोरोना वॉरियर्स की भूमिका की जमकर तारीफ की और हल्के-फुल्के अंदाज में चुटकी लेते हुए स्वास्थ्यकर्मियों से पूछा, 'कोविड वैक्सीनेशन को लेकर लोगों का क्या सवाल रहता है, मैं एक और सवाल पूछना चाहता हूं, क्योंकि ना मैं डॉक्टर हूं और ना वैज्ञानिक हूं। हमने सुना है जब वैक्सीनेशन होता है, तो जो वैक्सीन लेता है 100 में से एक-दो को जरा रिएक्शन आता है, बुखार आता है और ये भी कहते हैं बहुत ज्यादा बुखार आ जाए तो मानसिक संतुलन भी चला जाता है। ऐसा डॉक्टर लोग बताते हैं, हमें तो ज्यादा ज्ञान नहीं है। मैं ये जानना चाहता हूं कि कल जब देश के इतने हमारे मेडिकल समुदाय के साथियों, फ्रंट लाइन वर्कर ने, कोरोना वॉरियर ने ढ़ाई करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई, उसमें से किसी को रिएक्शन आए तो शायद हमने सुना है लेकिन ये मैं पहली बार देख रहा हूं कि कल रात को 12 बजे एक पॉलिटिकल पार्टी का रिएक्शन आया है। उनका बुखार चढ़ गया है, इसका कोई लॉजिक हो सकता है क्या?' पीएम का सवाल सुनने के बाद वहां मौजूद डॉक्टर हंसने लगे।

पीएमओ ने कही ये बात

इससे पहले प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि गोवा सरकार के प्रयासों की वजह से टीकाकरण अभियान सफल रहा। पीएमओ के मुताबिक, राज्य सरकार के प्रयासों में लगातार टीका उत्सवों का आयोजन और इसके लिए लोगों को एकजुट करना और जमीनी स्तर पर काम करना तथा लक्षित समूहों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करना शामिल रहा। पीएमओ ने कहा कि राज्य सरकार ने टीकों के लिए लोगों की भ्रांतियों को दूर करने के लिए भी लगातार प्रयास किए और इसके मद्देनजर उम्रदराज लोगों, दिव्यांगजनों और अन्य लोगों के बीच जागरुकता फैलाने का काम किया।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर