अंकिता भंडारी की हत्या को लेकर लोगों का गुस्सा भड़का, बद्रीनाथ-ऋषिकेश हाइवे को किया जाम; आरोपी के पिता ने बेटे को बताया सीधा-साधा

देश
दीपक पोखरिया
Updated Sep 25, 2022 | 15:51 IST

Ankita Bhandari: अंकिता भंडारी की कथित हत्या के मामले में मुख्य आरोपी के पिता और बीजेपी से निष्कासित विनोद आर्य ने अपने बेटे को एक सीधा साधा बालक कहकर बचाव किया है।

People got angry over the murder of Ankita Bhandari blocked the Badrinath Rishikesh highway
अंकिता भंडारी की हत्या को लेकर लोगों का गुस्सा भड़का।  |  तस्वीर साभार: ANI

Ankita Bhandari: उत्तराखंड की 19 साल की लड़की अंकिता भंडारी की कथित हत्या के मामले में प्रदर्शनकारियों ने रविवार को बद्रीनाथ-ऋषिकेश हाइवे को जाम कर न्याय की मांग की है। उधर अंकिता भंडारी के पिता ने कहा कि अंतिम पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिलने के बाद ही मैं अपनी बेटी का अंतिम संस्कार करूंगा। साथ ही उन्होंने कहा कि सीएम ने मुझसे कहा है कि मामले में एसआईटी गठित होने के साथ केस की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी।

अंकिता भंडारी की हत्या को लेकर लोगों का गुस्सा भड़का

आरोपी के पिता ने बेटे को बताया सीधा-साधा

वहीं अंकिता भंडारी की कथित हत्या के मामले में मुख्य आरोपी के पिता और बीजेपी से निष्कासित विनोद आर्य ने अपने बेटे को एक सीधा साधा बालक कहकर बचाव किया है। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि बेटा पुलकित लंबे समय से उनसे अलग रह रहा था। निष्पक्ष जांच सुनिश्चित करने के लिए मैंने बीजेपी से इस्तीफा दिया है। साथ ही मेरे दूसरे बेटे अंकित ने भी इस्तीफा दे दिया है।

Ankita Case: 'मैं गरीब हूं तो क्या 10 हजार रुपये में बिक जाऊं', पढ़िए अंकिता की वो आखिरी चैट जिसने दिया हत्यारे का पता

उत्तराखंड के पौड़ी के एक रिसॉर्ट में अंकिता भंडारी की हत्या के मामले में शक्रवार को बीजेपी नेता के बेटे पुलकित आर्य को गिरफ्तार किए जाने के एक दिन बाद शनिवार को बीजेपी ने उसके पिता विनोद आर्य और उसके भाई अंकित आर्य को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। साथ ही आरोपी के भाई अंकित को राज्य सरकार ने राज्य ओबीसी आयोग के उपाध्यक्ष पद से हटा दिया। 

Ankita Bhandari की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा- मौत से पहले शरीर पर चोट के निशान, डूबने से गई जान

वहीं  विनोद आर्य ने अपने बेटे को निर्दोष बताते हुए कहा कि मेरा बेटा एक साधा बालक है और उसे केवल अपने काम की चिंता है। मैं अपने बेटे पुलकित और हत्या की गई लड़की दोनों के लिए न्याय चाहता हूं। विनोद आर्य ने ये भी कहा कि उनका बेटा कभी भी इस तरह की गतिविधियों में शामिल नहीं होगा। उन्होंने इन आरोपों से भी इनकार किया कि पुलकित के खिलाफ 2016 में धोखाधड़ी और जालसाजी का मामला दर्ज किया गया था। साथ ही पुलकित की गिरफ्तारी से पहले अपने बेटे के खिलाफ लगाए गए सभी आरोपों से इनकार किया था। 
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर