Partha Chatterjee की करीबी वैशाखी का बड़ा खुलासा- हर ट्रांसफर पोस्टिंग के लिए गए पैसे, पार्थ को थी घोटालों की जानकारी

Partha Chaterjee की करीबी वैशाखी बनर्जी ने बड़ा खुलासा किया है। वैशाखी के मुताबिक, हर ट्रांसफर-पोस्टिंग के लिए पैसे लिए गए और पार्थ चटर्जी के संरक्षण में ही ये घोटाला हुआ।

Partha Chatterjees close friend Vaishakhi Mukherjees big disclosure money went for every transfer posting
वैशाखी ने कहा- पार्थ ने मोनालिसा को यूनिवर्सिटी में लगाया 
मुख्य बातें
  • पार्थ को शिक्षा विभाग में चल रहे घोटालों की जानकारी थी- वैशाखी
  • वैशाखी ने कहा- पार्थ ने मोनालिसा को यूनिवर्सिटी में लगाया
  • पार्थ-अर्पिता ने एक दूसरे का जमकर इस्तेमाल किया- वैशाखी

Partha Chatterjee News: ED की गिरफ्त में आए पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी को लेकर अब उनके करीबी ही खुलासे करने लगे हैं। एक समय पर पार्थ चटर्जी की करीबी रहीं वैशाखी बनर्जी ने खुलासा किया है। वैशाखी के मुताबिक पार्थ को शिक्षा विभाग में चल रहे पूरे स्कैम की जानकारी थी और शिक्षा विभाग में हर ट्रांसफर-पोस्टिंग के लिए पैसे लिए गए। वैशाखी ने ये भी कहा कि पार्थ की करीबी मोनालिसा की गैरकानून संपत्तियों में पार्थ का पूरा हाथ है। वहीं अर्पिता के बारे में वैशाखी ने खुलासा किया कि पार्थ और अर्पिता ने एक दूसरे का जमकर इस्तेमाल किया।

मोनालिसा है बड़ी खिलाड़ी

बैसाखी बनर्जी ने पार्थ चटर्जी को अपना राजनीतिक गॉडफादर बताया और कहा कि पार्थ चाहे किसी भी जिले में हों, उनकी एक प्रेमिका जरूर होती है। वैशाखी ने कहा कि मोनालिसा अर्पिता से बड़ी खिलाड़ी हैं। बांग्लादेश से उसके गहरे संबंध हैं। मुजीब उर रहमान के पास मोनालिसा के डायमंड सिटी फ्लैट में एक बैग था, जिसमें से 20 करोड़ रुपये बरामद किए गए। वैशाकी को डर है कि मोनालिसा बांग्लादेश से भाग गई है। उन्होंने कहा कि मोनालिसा दास पार्थ चटर्जी की काफी करीब हैं।

West Bengal SSC Scam : Partha के सामने Arpita ने किया बड़ा खुलासा, कहा - मैं सिर्फ संपत्तियों की केयरटेकर थी

मेरा नहीं है पैसा

 करोड़ों रुपये के स्कूल भर्ती घोटाले के केंद्र में रहे बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी ने रविवार को दावा किया कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की छापेमारी के दौरान बरामद धन उनका नहीं है, और समय बताएगा कि उनके खिलाफ ‘साजिश’ में कौन शामिल है।’चटर्जी ने शुक्रवार को कहा था कि वह एक साजिश का शिकार हुए हैं और तृणमूल कांग्रेस के उन्हें निलंबित करने के फैसले पर नाखुशी व्यक्त की थी। उनकी एक करीबी सहयोगी अर्पिता मुखर्जी को भी ईडी ने शहर के कुछ हिस्सों में उनके आवासों से करोड़ों रुपये नकद जब्त करने के बाद गिरफ्तार किया है।

ED पहुंची दीदी के द्वार, क्या पश्चिम बंगाल में गिर जाएगी सरकार, टूट गया ममता बनर्जी का 2024 का सपना ?

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर