भारत ने UN में कहा- शांति की बात करने वाले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री लादेन जैसे आतंकियों को शहीद मानते हैं

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के काउंसलर ए अमरनाथ ने कहा है कि वैश्विक आतंकवाद के केंद्र के रूप में पाकिस्तान बार-बार अपने पड़ोसियों के खिलाफ सीमा पार आतंकवाद में शामिल रहा है।

 Counsellor in India's Permanent Mission to the UN, A Amarnath
भारत के स्थायी मिशन के सलाहकार ए अमरनाथ  |  तस्वीर साभार: ANI

न्यूयार्क: भारत ने पाकिस्तान की यह कहते हुए कड़ी आलोचना की कि वह संयुक्त राष्ट्र (UN) के सिद्धांतों की परवाह किए बिना अपने पड़ोसियों के खिलाफ बार-बार सीमा पार आतंकवाद में लिप्त रहा है। संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 76वें सत्र में फर्स्ट कमेटी जनरल डिबेट में अपने उत्तर के अधिकार में सोमवार को संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के सलाहकार ए अमरनाथ ने कहा कि पाकिस्तान का स्थायी प्रतिनिधि यहां शांति, सुरक्षा के बारे में बात करता है, जबकि उनके प्रधानमंत्री इमरान खान ओसामा बिन लादेन जैसे वैश्विक आतंकवादियों को शहीदों के रूप में महिमामंडित करते हैं।

उन्होंने आगे कहा कि बहुपक्षीय मंचों पर झूठ फैलाने की पाकिस्तान की बेताब कोशिशें सामूहिक अवमानना के पात्र हैं। पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के संबंध में कई निराधार आरोप लगाए हैं। ये प्रतिक्रिया के योग्य नहीं हैं क्योंकि वे भारत के आंतरिक मामलों से संबंधित हैं। 

अमरनाथ ने आगे कहा कि मैं यहां दोहराना चाहता हूं कि जम्मू और कश्मीर का पूरा क्षेत्र भारत का अभिन्न और अविभाज्य हिस्सा था, है और रहेगा। इसमें वह क्षेत्र शामिल है जो पाकिस्तान के अवैध कब्जे में है। भारतीय राजनयिक ने पाकिस्तान से अवैध कब्जे वाले सभी क्षेत्रों को 'तुरंत खाली' करने का आह्वान किया। संयुक्त राष्ट्र के सिद्धांतों की परवाह किए बिना वैश्विक आतंकवाद के केंद्र के रूप में पाकिस्तान बार-बार अपने पड़ोसियों के खिलाफ सीमा पार आतंकवाद में शामिल रहा है। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर