कांग्रेस के पतन के लिए कोई और जिम्मेदार नहीं, असम में पीएम मोदी बोले यह है वजह

देश
ललित राय
Updated Mar 20, 2021 | 17:19 IST

असम के चाबुआ में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि सच तो यह है कि कांग्रेस झूठी घोषणाओं का भोंपू बनकर रह गई है।

Narendra Modi on Congress: कांग्रेस के पतन के लिए कोई और जिम्मेदार नहीं, असम में पीएम मोदी बोले यह है वजह
असम के चाबुआ में कांग्रेस पर पीएम नरेंद्र मोदी ने साधा निशाना 

मुख्य बातें

  • सत्ता की लालच ने कांग्रेस पार्टी को बर्बाद कर दिया- नरेंद्र मोदी
  • कांग्रेस पार्टी झूठी घोषणाओं की पार्टी बनकर रह गई है
  • असम का विकास कांग्रेस क्या करेगी जो यहां के संस्कृति को अपमानित करती है

गुवाहाटी। पीएम नरेंद्र मोदी ने बंगाल में खड़गपुर के साथ साथ असम के चाबुआ में रैली को संबोधित किया और चाय बागानों में काम करने वालों का खास जिक्र किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की तो आदत रही है विपक्ष में आने के बाद वो ऐलान पर ऐलान करने लगती हैं। लेकिन सरकार में आने के बाद अपने सभी वादे भूल जाती है। चाय बागानों के कामगारों की दुर्दशा का कांग्रेस जिक्र कर रही है लेकिन यह नहीं बताती है कि जब वो सत्ता में थी तो क्या किया। असम की जनता अब किसी तरह के बहकावे में आने वाली नहीं है। जिस तरह से पांच साल तक असम की जनता का सोनोवाल सरकार ने सेवा की है वो अपील करते हैं एक बार फिर सेवा का मौका मिलना चाहिए। 

झूठी घोषणाओं का भोंपू है कांग्रेस
असम में शांति बनाए रखने के लिए, स्थिरता बनाए रखने के लिए बीजेपी सरकार की, एनडीए सरकार की निरंतर जरूरत है। ये समय असम के भविष्य के लिए बहुत अहम है। ये समय आत्मविश्वास का है, आत्मनिर्भरता का है।एक तरफ हमारी सरकार, सबका साथ-सबका विकास-सबका विश्वास के पवित्र मंत्र पर काम कर रही है, वहीं दूसरी तरफ, कांग्रेस आज झूठी घोषणाओं का भोंपू बनकर रह गई है। उसकी ये सच्चाई देश भर के लोग देख भी रहे हैं, समझ भी रहे हैं। एक चायवाला, आपके दर्द को नहीं समझेगा तो कौन समझेगा। मैं विश्वास दिलाता हूं कि टी गार्डन्स में काम करने वाले श्रमिक साथियों का जीवन स्तर सुधारने के लिए NDA सरकार का अभियान और तेज किया जाएगा।

कांग्रेस इसलिए सिमट रही है
कभी देश की सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस, आज सिमटती जा रही है। कारण बिल्कुल साफ है। कांग्रेस में प्रतिभा के प्रति सम्मान नहीं है, सत्ता का लालच सर्वोपरि है। सत्ता के लिए ये किसी का भी साथ ले सकते हैं, किसी का भी साथ दे सकते हैं।आपको याद रखना है कि ये वही कांग्रेस है, जिसने मूल निवासियों को जमीन का अधिकार देने के लिए कभी भी गंभीर कदम नहीं उठाए। यहां के मूल निवासियों को जमीन के पट्टे देने का काम सर्बानंद जी के नेतृत्व में NDA की सरकार ने ही शुरू किया।

सत्तालोलूप है कांग्रेस
कांग्रेस और उसके साथी इसी समय का लाभ उठाना चाहते हैं। बीते पांच वर्षों में असम ने जो हासिल किया है अब वो उसे लूटना चाहते हैं। इसलिए आपको सतर्क रहना है। आपको याद रखना है कि कांग्रेस अपने फायदे के लिए किसी को भी दांव पर लगा सकती है।पिछले पांच सालों में NDA सरकार ने असम के विकास के लिए एक मजबूत ठोस नींव रखी है। इस नींव पर असम के तेज विकास की सशक्त इमारत खड़ी करने का समय है।



असम की संस्कृति से कांग्रेस को लेना देना नहीं
मैं असम में या पूर्वोत्तर के अन्य राज्यों में जाता हूं, बहुत गौरव से वहां की संस्कृति से जुड़कर मुझे आनंद आता है। अब जैसे मुझे ये गमछा पहनाया गया, मेरे लिए बड़े गर्व और सम्मान का विषय होता है। लेकिन कांग्रेस इसका भी मजाक उड़ाती है।असम के नौजवानों को नए अवसर देने के लिए, असम में उद्योगों के लिए बेहतर माहौल बनाने के लिए, असम की महिलाओं को और सशक्त करने के लिए, असम के किसानों की आय बढ़ाने के लिए, भाजपा सरकार निरंतर काम कर रही है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर