Jammu Kashmir: बांदीपोरा में आतंकियों की नापाक हरकत, एक और प्रवासी मजदूर की हत्या की

देश
किशोर जोशी
Updated Aug 12, 2022 | 08:34 IST

Migrant Labourer Shot Dead By Terrorists: जम्मू कश्मीर के बांदीपोरा में आतंकियों ने एक बार फिर प्रवासी मजदूर को निशाना बनाया है जिसमें एक मजदूर की मौत हो गई है।

Migrant labourer shot dead by terrorists in Jammu Kashmirs Bandipora
Jammu Kashmir: बांदीपोरा में आतंकियों की नापाक हरकत, एक और प्रवासी मजदूर की हत्या की  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • आतंकवादियों ने फिर बनाया घाटी में प्रवासी मजदूर को निशाना
  • बांदीपोरा में बिहार के मजदूर की गोली मारकर हत्या
  • गुुरुवार को सेना ने मार गिराए थे दो आतंकवादी

Migrant labourer Killed in Jammu Kashmir: जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने फिर से नापाक हरकत को अंजाम दिया है। जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा जिले के सोदनारा सुंबल में गुरुवार और शुक्रवार की दरमियानी रात आतंकियों ने बिहार के एक मजदूर को निशाना बनाते हुए गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक मजदूर की पहचान बिहार के मधेपुरा के रहने वाले मोहम्मद अमरेज के रूप में हुई है। गोली लगने के तुरंत बाद उसे इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई।

पुलिस का ट्वीट

कश्मीर जोन पुलिस ने ट्वीट किया, 'मध्यरात्रि के दौरान आतंकवादियों ने मजदूर मोहम्मद अमरेज़ पुत्र मोहम्मद जलील निवासी मधेपुरा, बेसरह, बिहार को गोली मारकर घायल कर दिया। उसे इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया।' इससे एक दिन पहले गुरुवार को राजौरी में आत्मघाती बम हमले की कोशिश करने वाले दो आतंकवादियों को मार गिराने के दौरान सेना के तीन जवान शहीद हो गए थे।

इससे पहले भी आतंकी कई बार प्रवासी मजदूरों को निशाना बना चुके हैं। कुछ दिन पहले ही पुलवामा और बडगाम में आतंकियों ने बिहार के मजदूरों की गोली मारकर हत्या कर दी थी। बडगाम में मारा गया मजदूर बिहार के वैशाली जिले का था जबकि पिछले साल अररिया के रहने वाले मजदूरों को आतंकियों ने मौत के घाट उतार दिया था।

Kashmir के बडगाम में बिहार के दिलखुश की गोली मारकर हत्या, आखिर कब तक पलायन का दंश झेलता रहेगा बिहार ? 

गुरुवार को शहीद हुए थे तीन जवान

इससे पहले गुरुवार को आतंकवादियों के खिलाफ चलाए गए ऑपरेशन के दौरान सूबेदार राजेंद्र प्रसाद, राइफलमैन मनोज कुमार और राइफलमैन लक्ष्मणन डी ने देश के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया। हालांकि, सेना के जवान अपने बेसकैंप पर आत्मघाती बम हमले को नाकाम करने में कामयाब रहे और दोनों आतंकवादियों को मार गिराया। अगर आत्मघाती हमलावर सेना के कैंप में घुसने में कामयाब रहते तो यहां उरी जैसा ही हमला हो सकता था। जवानों और संतरी की चौकसी के कारण आतंकवादी कैंप में घुसने में कामयाब नहीं हो सके थे।

Jammu Kashmir: पुलवामा में आतंकियों ने फिर की कायराना हरकत, ग्रेनेड हमले में प्रवासी मजदूर की मौत; दो अन्य घायल

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर