Mann ki Baat 30 May: आज मन की बात करेंगे प्रधानमंत्री मोदी, जानें कहां-कैसे और कब देखें और सुनें LIVE

देश
Updated May 30, 2021 | 05:30 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Mann ki Baat: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 11 बजे 'मन की बात' करेंगे। यहां जानें कि आप कब, कहां और कैसे मन की बात देख और सुन सकते हैं।

PM Modi
नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो) 

मुख्य बातें

  • हर महीने के आखिरी रविवार को 'मन की बात' करते हैं पीएम मोदी
  • मोदी सरकार को सत्ता में आए हुए 7 साल पूरे हो गए हैं
  • कोरोना की दूसरी लहर में मोदी सरकार को आलोचना का शिकार होना पड़ा

Mann Ki Baat 30 May: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 11 बजे 'मन की बात' कार्यक्रम के माध्यम से देश की जनता को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी हर महीने के आखिरी रविवार को मन की बात करते हैं। इस बार इस कार्यक्रम के माध्यम से प्रधानमंत्री ऐसे समय में देश की जनता के बीच आएंगे, जब देश कोरोना वायरस की दूसरी लहर के कहर से गुजर रहा है। हालांकि पिछले कुछ दिनों में कोरोना के मामलों में कमी आई है, लेकिन मौत के आंकड़े अभी भी परेशान करने वाले हैं।

कहां और कब देखें और सुनें मन की बात

पीएम मोदी के 'मन की बात' के कार्यक्रम को आप सुबह 11 बजे सुन सकते हैं। आप 'आकाशवाणी' रेडियो चैनल पर मन की बात सुन सकते हैं। नरेंद्र मोदी के फेसबुक पेज पर भी जाकर आप मन की बात कार्यक्रम सुन सकते हैं। आप www.timesnowhindi.com पर भी मन की बात देख और सुन सकते हैं। पीएमओ के ट्विटर हैंडल और आकाशवाणी के ट्विटर हैंडल पर भी आपको इससे जुड़े अपडेट मिलेंगे। दूरदर्शन पर भी आप मन की बात सुन सकते हैं।

पीएम मांगते हैं सुझाव

प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम के लिए हर बार लोगों से राय और आइडिया भी मांगते हैं। बड़ी संख्या में लोग उन्हें अपने सुझाव और आइडियाज भेजते हैं। इनमें से कुछ का पीएम मोदी जिक्र भी करते हैं। 1800-11-7800 पर कॉल कर या MyGov open forum या NaMo app पर आप अपने सुझाव या कोई आइडिया भेज सकते हैं। 

पिछली मन की बात में कोरोना का जिक्र

पिछले 'मन की बात' कार्यक्रम के दौरान भी कोरोना का कहर कम नहीं था। उस समय पीएम मोदी ने कहा था, 'आज आपसे 'मन की बात', एक ऐसे समय कर रहा हूं जब कोरोना, हम सभी के धैर्य, हम सभी के दुःख बर्दाश्त करने की सीमा की परीक्षा ले रहा है। बहुत से अपने, हमें, असमय, छोड़ कर चले गए हैं। कोरोना की पहली वेव का सफलतापूर्वक मुकाबला करने के बाद देश हौंसले से भरा हुआ था, आत्मविश्वास से भरा हुआ था, लेकिन इस तूफान ने देश को झकझोर दिया है। इस समय, हमें इस लड़ाई को जीतने के लिए, विशेषज्ञ और वैज्ञानिक सलाह को प्राथमिकता देनी है। राज्य सरकार के प्रयत्नों को आगे बढ़ाने में भारत सरकार पूरी शक्ति से जुटी हुई है। राज्य सरकारें भी अपना दायित्व निभाने की पूरी कोशिश कर रही हैं।'

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर